Search results for “माँ”

अमरीका और चीन के बीच बढता तनाव

अमरीका-चीन के बीच जारी तनाव के कारण नया शीतयुद्ध शुरू होगा – अमरिकी कुटनीतिज्ञ हेन्री किसिंजर वॉशिंग्टन – अमरीका और चीन के बीच निर्माण हुआ तनाव विश्‍व की सबसे बड़ी समस्या साबित होती है। इस समस्या का हल निकालना संभव नहीं हुआ तो इससे पूरे विश्‍व के लिए खतरा निर्माण होगा। क्योंकि, यह तनाव कम करने में नाकामी हासिल हुई तो अमरीका और चीन के बीच अलग तरह का शीतयुद्ध

इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में सैनिकी गतिविधियां तेज

अमरीका इंडो-पैसिफिक की तैनाती बरकरार रखेगी – राष्ट्राध्यक्ष ज्यो बायडेन का ऐलान वॉशिंग्टन – इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में की गई तैनाती अमरीका बरकरार रखेगी। यह तैनाती इस क्षेत्र के संघर्ष के लिए नहीं है, बल्कि संघर्ष टालने के लिए है। ऐसा ऐलान अमरीका के राष्ट्राध्यक्ष ज्यो बायडेन ने किया। चीन के राष्ट्राध्यक्ष जिनपिंग को हमने अमरीका की इस नीति की पूरी जानकारी प्रदान की है, यह बात बायडेन ने स्पष्ट की।

जराहरता

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने २४ फरवरी २००५ के पितृवचनम् में ‘जराहरता (Jaraharata)’ इस बारे में बताया। हम लोग सभी यह स्टोरी जानते हैं महाभारत की, जरासंध की, कि जरासंध जब पैदा हुआ तब ऋषिओं ने आकर कहा कि, ‘ये सारे मानवजाति के लिए बहुत खराब बात है।’ तो उसे, टुकड़े करके दो फेंक दिए थे। ‘जरा’ नाम की राक्षसी आकर उन्हें सांधती थी। तभी इसी लिए सांधने के बाद, बार

India-US-cooperation

भारत-चीन में अविश्‍वास बढ़ते समय, भारत का अमरीका के साथ सहयोग अधिक ऊँचाई को छू रहा है – अमरीका के ऍडमिरल ऍक्विलिनो का दावा वॉशिंग्टन – ‘भारत और अमरीका के बीच लष्करी सहयोग, पहले कभी नहीं था इतनी ऊँचाई पर पहुँचा है। उसी समय, भारत और चीन में अविश्वास, पहले कभी नहीं था इतने निचले स्तर पर गया है’, ऐसा सूचक बयान अमरीका के ऍडमिरल जॉन ऍक्विलिनो ने किया। जल्द

A2 गाय का दूध

हरि ॐ श्रद्धावानों की सुविधा के लिए कुछ दिनों से हमने  ’शताक्षी वटी’ उपलब्ध करा दी है। विद्यमान हालातों में और भागदौड़ के जीवन में ’शताक्षी प्रसादम्‌’ घर में ही बनाना हर एक को संभव नहीं हो रहा था, इस बात को मद्देनजर रखते हुए ’शताक्षी वटी’ का प्रबंध किया गया। उसी के साथ, भारतीय वंश की गाय के दूध का लाभ (’A2’ प्रकार का दूध) श्रद्धावानों को मिलें, इसलिए

India-Ladakh-China

‘एलएसी’ पर तनाव कम हुआ, लेकिन समस्या अभी दूर नहीं हुई – सेना प्रमुख जनरल नरवणे नई दिल्ली – लद्दाख की ‘एलएसी’ पर बने तनाव पर निकला हल दोनों देशों को सन्तोष देनेवाला है, ऐसा सेनाप्रमुख जनरल मनोज मुकूंद नरवणे ने कहा है। लेकिन, लद्दाख की ‘एलएसी’ का तनाव अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है, अभी भी इस मोर्चे पर काफी कुछ प्राप्त करना है, इस बात का

Myanmar-Army

म्यांमार में विद्रोह करनेवाली सेना पर अमरीका के प्रतिबंध वॉशिंग्टन – म्यांमार की सरकार का तख्तापलट करके विद्रोह करनेवाली सेना के विरोध में अमरीका ने प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया हैं। इसके अनुसार म्यांमार ने अमरीका में रखें करीबन १ अरब डॉलर्स की राशि का इस्तेमाल करना इस लष्करी हुकूमत के लिए संभव नही होगा। साथ ही इस विद्रोह के पीछे होनेवाले म्यांमार के सेना अधिकारियों पर एवं उनके परिवार

Indian-Navy

वायुसेना ने किया ‘आकाश’ और ‘इग्ला’ का परीक्षण मुंबई – भारतीय वायुसेना ने आंध्र प्रदेश के सूर्यालंका एअरफोर्स स्टेशन से स्वदेशी ‘आकाश’ और रशियन निर्माण के ‘इग्ला’ मिसाइलों का परीक्षण किया। वायुसेना के अड्डे पर २३ नवंबर से २ दिसंबर के दौरान युद्धाभ्यास का आयोजन हुआ। इस दौरान इन मिसाइलों का परीक्षण किए जाने की बात कही जा रही है। इन मिसाइलों के परीक्षण के समय उप-वायुसेना प्रमुख एअर मार्शल

सच्चिदानन्द सद्गुरुतत्त्व - भाग ३

सद्‍गुरुश्री अनिरुद्धजी ने ०७ अक्टूबर २०१० के पितृवचनम् में ‘सच्चिदानन्द सद्‍गुरुतत्त्व(Satchidanand Sadgurutattva)’ इस बारे में बताया। तो ये सद्‍गुरुतत्त्व क्या है? सच्चिदानंद स्वरुप है। क्योंकि उसके पास कोई एक्सपेक्टेशन नहीं है, सिर्फ एक इच्छा रखता है, जो मेरा नाम ले, जो मुझसे प्रेम करे, जो मेरी आज्ञा का पालन करे, वो मेरे अपने हैं और उनकी जिंदगी में कैसे ज्यादा से ज्यादा आनंद से भरपूर कर दूँ। कुछ नहीं चाहता

Iran

ट्रम्प ७० दिनों के मेहमान, लेकिन ईरान की हुकूमत कायम रहेगी – खाड़ी देशों को ईरान ने धमकाया तेहरान – अमरीका के चुनाव में राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प की हार होने की खबरें माध्यमों में जारी होने से खुश हुए ईरान ने अरब देशों को धमकाना शुरू किया है। ‘७० दिनों बाद ट्रम्प अमरीका के राष्ट्राध्यक्ष नहीं रहेंगे। लेकिन, ईरान की हुकूमत कायम रहेगी। सुरक्षा के लिए दूसरे देशों पर निर्भर