Search results for “भारत”

भारतवर्ष_aniruddha bapu_Bharatwarsha

  डॉ. अनिरुद्ध जोशी (अनिरुद्ध बापू ) के द्वारा आज के दैनिक प्रत्यक्ष में किया गया आवाहन मुझे भारत के किसी भी राजकीय पक्ष में या किसी भी प्रकार के राजकीय कार्य में रत्ती भर भी दिलचस्पी नहीं है। राजनेताओं से मुझे कुछ भी लेने की इच्छा नहीं है और उन्हें देने जैसा भी मेरे पास कुछ भी नहीं है। परंतु मेरी प्रिय मातृभूमि का हित अथवा अनहित इनके बारे

Renuka Mata

In this Marathi discourse dated 2nd October 2008, Sadguru Aniruddha Bapu explains how the first-ever idol of Mother Jagadamba was established. This incident is linked to the temple of Renuka mata in Mahurgad located in the state of Maharastra. While explaining this, Sadguru Aniruddha also stresses the importance of reading of the Ramrasayan book during the Navratri utsav. In this Marathi discourse dated 2nd October 2008, Sadguru Aniruddha Bapu explains

चीन को

 ताइवान के मसले पर युरोपीय महासंघ का चीन को नया झटका वॉर्सा/तैपेई/बीजिंग – यूरोप के साथ संबंध मजबूत बनाने के लिए ताइवान ‘थ्री सीज् इनिशिएटिव्ह’ में सहभागी हो सकता है, ऐसा दावा पोलैंड के ताइवान में नियुक्त अधिकारी बार्तोस्झ रिस ने किया है। ‘ताइवान यह लोकतंत्रवादी देश होकर, उसकी अर्थव्यवस्था की भी तरक्की हो रही है। यह पृष्ठभूमि ताइवान को युरोपीय देशों का साझेदार बनाने के लिए उचित है’, इन

नई चुनौतियों

देश में विकसित हुआ अतिप्रगत तंत्रज्ञान दुश्मन को चौंका देगा – वायुसेनाप्रमुख भदौरिया की चीन को चेतावनी नई दिल्ली – आनेवाले समय के युद्ध में, देश में ही विकसित हुए अतिप्रगत तंत्रज्ञान का इस्तेमाल उत्तरी सीमा पर होनेवाले दुश्मनों को चौंका देगा, ऐसी चेतावनी भारत के वायुसेनाप्रमुख आरकेएस भदौरिया ने दी। ‘आत्मनिर्भर भारत’ मुहिम के संदर्भ में आयोजित एक परिसंवाद को संबोधित करते समय वायुसेनाप्रमुख ने, चीन का नामोल्लेख टालकर,

bay-area-activity

लेबनान से लाखों लोग अन्य देशों में प्रवेश करेंगे – लेबनीज अध्ययन मंडल का इशारा दुबई – लेबनान में राजनीतिक और आर्थिक संकट भयंकर हो गया है। इस वजह से लाखों लेबनीज नागरिक भागकर पश्‍चिमी या अरब देशों में जाने की तैयारी में होने का इशारा लेबनान के अध्ययन मंडल ने दिया है। इसी बीच, देश को बचाना है तो एक हफ्ते में सरकार का गठन करें, यह आवाहन लेबनान के

Taliban and Afghanistan

नाटो की वापसी के बाद तालिबान अफ़गानियों का कतलेआम करेगी – अमरीका के पूर्व राष्ट्राध्यक्ष बुश का इशारा बर्लिन – ‘नाटो सेना की वापसी के बाद तालिबान अफ़गान जनता का कत्लेआम करेगी। अफ़गानी महिलाओं और लड़कियों को शब्दों में बयान करना मुमकिन नहीं होगा, इतनी भयंकर यातनाएँ भुगतनी पड़ेंगी’, ऐसा इशारा अमरीका के पूर्व राष्ट्राध्यक्ष जॉर्ज बुश ने दिया है। इससे पहले अमरीका की पूर्व विदेशमंत्री कॉन्डोलिसा राईस और हिलरी

अफगानिस्तान से जुडी गतिविधियां

अफ़गानिस्तान में तालिबान के साथ लड़ रहा पाकिस्तानी सेना अधिकारी गिरफ्तार काबुल – पाकिस्तान का तालिबान के साथ संबंध ना जोड़ें, ऐसा बयान पाकिस्तान के विदेशमंत्री ने कुछ दिन पहले ही किया था। लेकिन, तालिबान के पक्ष में लड़ रहे पाकिस्तानी लष्करी अधिकारी को हिरासत में लेकर अफ़गानिस्तान ने पाकिस्तान की पोल खोली है। अफ़गानिस्तान में दाखिल होने से पहले इस पाकिस्तानी अधिकारी ने यह बात भी कबूली है कि, वह

कोरोना का मूल और वुहान लैब से जुडी खबरें

नवंबर २०१९ के कोरोना संक्रमण की जानकारी चीन ने छुपाई – अमरिकी अखबार का दावा वॉशिंग्टन/बीजिंग – चीन ने जानबूझकर विश्‍वभर में कोरोना का संक्रमण फैलाया, इसकी पुष्टि करनेवाली नई जानकारी सामने आयी है। अमरीका के ‘द वॉल स्ट्रीट जर्नल’ नामक अखबार ने यह खबर प्रकाशित की है कि चीन की ‘वुहान लैब’ के वैज्ञानिक नवंबर २०१९ में ही कोरोना संक्रमित हुए थे।इन वैज्ञानिकों को तुरंत ही अस्पतालों में दाखिल करना पड़ा

तौक्ते चक्रवात

तौक्ते चक्रवात से भटका ‘ओएनजीसी’ का बार्ज डूबा ९६ लापता, नौसेना ने ३१४ को सुरक्षित बाहर निकाला पीपावाव के करीब ‘ओएनजीसी’ के अन्य दो जहाज़ों पर ३०० लोग फंसे हैं और भारतीय नौसेना एवं तटरक्षक बल द्वारा राहतकार्य जारी है मुंबई – तौक्ते चक्रवात अब शांत हुआ है फिर भी इस तूफान ने पहुँचाए नुकसान के निशान केरल से लेकर गुजरात तक के तटीय क्षेत्र पर दिखाई दे रहे हैं। इसी तौक्ते चक्रवात

जराहरता

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने २४ फरवरी २००५ के पितृवचनम् में ‘जराहरता (Jaraharata)’ इस बारे में बताया। हम लोग सभी यह स्टोरी जानते हैं महाभारत की, जरासंध की, कि जरासंध जब पैदा हुआ तब ऋषिओं ने आकर कहा कि, ‘ये सारे मानवजाति के लिए बहुत खराब बात है।’ तो उसे, टुकड़े करके दो फेंक दिए थे। ‘जरा’ नाम की राक्षसी आकर उन्हें सांधती थी। तभी इसी लिए सांधने के बाद, बार