Search results for “अमरीका”

तुर्की की गतिविधियों के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय आक्रामक

तुर्की को रोकने के लिए ग्रीस और ‘युएई’ का रणनीतिक साझेदारी समझौता अथेन्स/अबुधाबी – तुर्की के बढ़ते वर्चस्ववादी क़ारनामें रोकने के लिए ग्रीस ने ज़ोरदार गतिविधियाँ शुरू की हैं। पिछले कुछ महीनों में ग्रीस ने, अमरीका के साथ फ्रान्स, इस्रायल, इजिप्ट एवं भारत के साथ सहयोग बढ़ाने के लिए पहल की थी। इसमें अब ‘संयुक्त अरब अमीरात’ (युएई) का इज़ाफा हुआ है और ग्रीस ने इस देश के साथ सीधे

Iran

ट्रम्प ७० दिनों के मेहमान, लेकिन ईरान की हुकूमत कायम रहेगी – खाड़ी देशों को ईरान ने धमकाया तेहरान – अमरीका के चुनाव में राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प की हार होने की खबरें माध्यमों में जारी होने से खुश हुए ईरान ने अरब देशों को धमकाना शुरू किया है। ‘७० दिनों बाद ट्रम्प अमरीका के राष्ट्राध्यक्ष नहीं रहेंगे। लेकिन, ईरान की हुकूमत कायम रहेगी। सुरक्षा के लिए दूसरे देशों पर निर्भर

Afghanistan

अफ़गानिस्तान में मौजुदा वर्ष के पहले छह महीनों में हुई हिंसा में १,२०० से अधिक लोग ढ़ेर – संयुक्त राष्ट्रसंघ की रपट काबुल/संयुक्त राष्ट्रसंघ – वर्ष २०२० के पहले छह महीनों के दौरान अफ़गानिस्तान में हिंसा में मारे गए हुए एवं घायल हुए लोगों की संख्या ३,५०० से अधिक होने का दावा संयुक्त राष्ट्रसंघ की रपट में किया गया है। यह रपट जारी करके अफ़गानिस्तान में बढ़ रही हिंसा पर

World-Opposition-China

चीन के खिलाफ़ जारी शीत युद्ध में यूरोप ने अमरीका का साथ देना अहम – जर्मनी के वरिष्ठ अधिकारी का बयान बर्लिन – अमरीका और चीन के बीच शीत युद्ध शुरू हुआ है। यह शीत युद्ध इस सदी को आकार देनेवाली निर्णायक घटना साबित होगी। ऐसी स्थिति में चीन ने अपने सामने खड़ी की हुई चुनौतियों का मुकाबला करना है तो यूरोप ने अमरीका के कंधे से कंधा मिलाकर ड़टकर

श्रीहनुमानचलिसा पठन के संदर्भ में सूचनाएँ एवं प्रश्नोत्तर

  हरि ॐ, अपनी संस्था ने दि. २१ से २७ सितम्बर इस हफ़्तेभर के लिए श्रीहनुमानचलिसा पठन का ऑनलाईन पद्धति से आयोजन किया है, यह हम सब जानते ही हैं। इस पठन के संदर्भ में श्रद्धावानों ने कुछ प्रश्न उपस्थित किये। उन प्रश्नों के उत्तरस्वरूप निम्न स्पष्टीकरण तथा कुछ सूचनाएँ आगे दी गई है : १. यह पठन भारतीय मानक समयानुसार (IST) सुबह ८.०० बजे शुरू होगा और भारतीय मानक

Afghanistan-Peace-Violence

अफ़गानिस्तान में तालिबान के हमलों में ३२ सैनिक मारे गए काबुल – तालिबान ने एक ही रात में अफ़गानिस्तान के दस से अधिक ज़गहों पर किए हमलों में सुरक्षा बल के ३२ सैनिक मारे गए। इन हमलों की ज़िम्मेदारी स्वीकारके तालिबान ने इस जंग के बुनियादी कारणों पर बातचीत के बगैर यह हमले बंद नहीं होंगे, यह ऐलान किया है।  आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/32-soldiers-killed-in-taliban-attacks-in-afghanistan/ अफ़गान शांति प्रक्रिया पर भारत और

Gulf-Region-Activities

सौदी के बाद बहरीन ने भी इस्रायल के लिए हवाई क्षेत्र खुला किया मनामा – ‘संयुक्त अरब अमीरात’ (यूएई) के लिए उड़ान भरनेवाले इस्रायली विमानों के लिए अपनी हवाई सीमा खुली करने का ऐलान बहरीन ने भी किया है। इसकी वजह से इस्रायल और यूएई की हवाई दूरी कम होने का संतोष दोनों देश व्यक्त कर रहे हैं। दो दिन पहले ही सौदी अरब ने इस्रायली विमानों के लिए अपना

Afghanistan-Peacetalks-Violence

अमरीका के विदेशमंत्री माईक पोम्पिओ ने की तालिबान से चर्चा वॉशिंग्टन – अमरीका के विदेशमंत्री माईक पोम्पिओ ने सोमवार के दिन तालिबान से चर्चा करने की बात सामने आयी है। कतार में स्थित तालिबान के प्रवक्ता सोहेल शाही ने यह जानकारी प्रदान की। इस चर्चा के दौरान तालिबान ने अफ़गानिस्तान की सरकार के हिरासत में होनेवाले ४०० से अधिक बंदियों की रिहाई का मुद्दा उपस्थित किया है, यह जानकारी तालिबान

Indian-Defence- Forces

रफायल विमानों पर ‘हॅमर’ मिसाइलों की तैनाती होगी नई दिल्ली – अगले सप्ताह में फ्रान्स भारत को छह रफायल विमान सौंप रहा हैं। इन लड़ाकू विमानों की तैनाती तुरंत चीन की सीमा पर करने की तैयारी पूरी करने में वायुसेना जुटी होने के समाचार भी प्राप्त हो रहे हैं। इसी बीच इन विमानों की मारक क्षमता बढ़ाने के लिए फ्रान्स से ‘हॅमर’ मिसाइलों की ख़रीद होगी, ऐसा समाचार भी प्राप्त

Iran

ईरान के बुशहर बंदरगाह में भड़की संदेहास्पद आग से सात जहाज़ों का हुआ बड़ा नुकसान तेहरान – ईरान के बुशहर बंदरगाह के एक शिपयार्ड में यकायक भड़की आग की चपेट मे आने से सात जहाज़ जलकर राख हुए। यह आग भड़कने का कारण अभी स्पष्ट नहीं हुआ है। लेकिन, पिछले महीने से ईरान में हो रही आग की संदिग्ध घटनाओं में और एक घटना की बढ़ोतरी हुई है। बुशहर शहर