Search results for “बदल”

चीन की आक्रामकता के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय सक्रिय

चीन का खतरा बढ़ते समय, जापान-इंडोनेशिया रक्षा सहयोग समझौता ‘साऊथ चायना सी क्षेत्र मे ताकत का इस्तेमाल करके एकतरफ़ा बदलाव करने के लिए लगातार जारी कोशिशें चिंताजनक साबित होती हैं। जापान और इंडोनेशिया इन दोनों देशों को इस मामले में प्रतीत हो रही चिंता एकसमान है’, ऐसा जापान के विदेश मंत्रालय ने कहा है। दोनों देशों के विदेश मंत्री और रक्षा मंत्रियों में हुई ‘टू प्लस टू’ चर्चा के दौरान,

QUAD-India

अंतरिक्ष क्षेत्र में ‘क्वाड’ का सहयोग मज़बूत होगा – अमरीका, जापान, ऑस्ट्रेलिया की अंतरिक्ष संगठनों के साथ ‘इस्रो’ के प्रकल्प बंगलुरू – भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इस्रो) ‘क्वाड’ के अपने सहयोगी देशों के साथ अंतरिक्ष सहयोग का विस्तार कर रही हैं। भारत, अमरीका, जापान और ऑस्ट्रेलिया अलग अलग अंतरिक्ष प्रकल्पों पर काम कर रहे हैं। इसमें इस्रो और नासा के ‘निसार’ उपग्रह प्रकल्प का, जापान के साथ हो रही चांद

Gulf-Region-Violence

इराक स्थित अमरीका के अड्डे पर रॉकेट हमले – हमले के पीछे ईरान से जुड़े गुट होने की आशंका बगदाद – इराक स्थित ‘अइन अल-अस्साद’ हवाई अड्डे पर बुधवार को भी सेंड रॉकेट हमले हुए। अमरीका के अड्डे पर हुए इस हमले में एक कांट्रेक्टर की मृत्यु हुई। साल भर पहले अमरीका ने इराक में किए ड्रोन हमले में ईरान के वरिष्ठ लष्करी अधिकारी मेजर जनरल कासेम सुलेमानी को मार

France-Britain-Leftist

कट्टरपंथी और वामपंथी विचारधारा फ्रेंच समाज को निगल रही है – फ्रान्स की उच्च शिक्षामंत्री की चेतावनी पॅरिस – ‘कट्टरवाद तथा चरमसीमा की वामपंथी विचारधारा फ्रेंच समाज को पूरी तरह निगलती चली जा रही है। इससे विश्वविद्यालय भी सुरक्षित नहीं रहे हैं’, ऐसी चेतावनी फ्रान्स की उच्च शिक्षामंत्री फ्रेडरिक विदाल ने दी। इस कारण फ्रेंच विश्वविद्यालयों में संशोधक, समाज का विभाजन करने की दृष्टि से ही हर एक बात की

सच्चिदानन्द सद्गुरुतत्त्व - भाग ३

सद्‍गुरुश्री अनिरुद्धजी ने ०७ अक्टूबर २०१० के पितृवचनम् में ‘सच्चिदानन्द सद्‍गुरुतत्त्व(Satchidanand Sadgurutattva)’ इस बारे में बताया। तो ये सद्‍गुरुतत्त्व क्या है? सच्चिदानंद स्वरुप है। क्योंकि उसके पास कोई एक्सपेक्टेशन नहीं है, सिर्फ एक इच्छा रखता है, जो मेरा नाम ले, जो मुझसे प्रेम करे, जो मेरी आज्ञा का पालन करे, वो मेरे अपने हैं और उनकी जिंदगी में कैसे ज्यादा से ज्यादा आनंद से भरपूर कर दूँ। कुछ नहीं चाहता

discipline in life

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने ०७ अक्टूबर २०१० के पितृवचनम् में ‘जीवन में अनुशासन (discipline in life) का महत्त्व’ इस बारे में बताया। ये संयम जो है, बहुत आवश्यक होता है। जहाँ जितना बोलना चाहिए, उतना ही बोलना चाहिए। जहाँ जो करना चाहिए, उतना ही करना चाहिए। जहाँ शौर्य चाहिए, वहाँ शौर्य चाहिए। जहाँ शान्ति चाहिए, वहाँ शान्ति ही चाहिए। हर चीज़ की आवश्यकता होती है। लेकिन हम अपने मन पर

सरस्वती पूजन (दशहरा/विजयादशमी)

हरि ॐ, दिनांक १० अक्तूबर २०१९ को किये हुए पितृवचन में सद्‌गुरु श्री अनिरुद्धजी ने ‘या कुन्देन्दुतुषारहारधवला’ इस प्रार्थना के बारे में बताते हुए, दशहरे के दिन घर में सरस्वती पूजन कैसे किया जाता है इसकी जानकारी मेरे ब्लॉग में दी जायेगी, ऐसा कहा था। उसके अनुसार इस पूजन की जानकारी दे रहा हूँ। पूजन सामग्री १) हल्दी, कुंकुम, अक्षता २) निरांजन ३) नारियल – २ ४) गुड़-खोपरे का नैवेद्य

India-Pakistan

भारत जल्द ही रफायल से पाकिस्तान पर हमला करेगा – पाकिस्तान के वायुसेनाप्रमुख की चिंता इस्लामाबाद – ‘अगले कुछ महीनों में अपने बेड़े में शामिल रफायल विमानों का इस्तेमाल करके भारत ‘पीओके’ पर हमला करेगा’, यह चिंता पाकिस्तान के वायुसेनाप्रमुख ने व्यक्त की है। बीते कुछ दिनों से पाकिस्तानी वायुसेना के लड़ाकू विमान ‘पीओके’, कराची, लाहोर, इस्लामाबाद, रावलपिंड़ी पर उड़ान भरकर भारत के संभावित हमलों का मुकाबला करने की तैयारी

World-Opposition-China

चीन के खिलाफ़ जारी शीत युद्ध में यूरोप ने अमरीका का साथ देना अहम – जर्मनी के वरिष्ठ अधिकारी का बयान बर्लिन – अमरीका और चीन के बीच शीत युद्ध शुरू हुआ है। यह शीत युद्ध इस सदी को आकार देनेवाली निर्णायक घटना साबित होगी। ऐसी स्थिति में चीन ने अपने सामने खड़ी की हुई चुनौतियों का मुकाबला करना है तो यूरोप ने अमरीका के कंधे से कंधा मिलाकर ड़टकर

मनुष्य का मन अन्न के तरल भाग से बनता है

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने ०७ अक्टूबर २०१० के पितृवचनम् में ‘मनुष्य का मन अन्न के तरल भाग से बनता है’ इस बारे में बताया। जिन लोगों ने श्रीमद्‍पुरुषार्थ ग्रंथराज पढ़ा हुआ है, वो लोग जानते हैं कि ये जो भावशारिरीक जो गुण होते हैं कि जिनके आधार से हमारे शरीर का, मन का और प्राणों का कार्य चलता रहता है। छांदोग्य उपनिषद्‍ का नाम तो आप लोगों ने सुना होगा।