Search results for “रशिया”

तुर्की की गतिविधियों के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय आक्रामक

तुर्की को रोकने के लिए ग्रीस और ‘युएई’ का रणनीतिक साझेदारी समझौता अथेन्स/अबुधाबी – तुर्की के बढ़ते वर्चस्ववादी क़ारनामें रोकने के लिए ग्रीस ने ज़ोरदार गतिविधियाँ शुरू की हैं। पिछले कुछ महीनों में ग्रीस ने, अमरीका के साथ फ्रान्स, इस्रायल, इजिप्ट एवं भारत के साथ सहयोग बढ़ाने के लिए पहल की थी। इसमें अब ‘संयुक्त अरब अमीरात’ (युएई) का इज़ाफा हुआ है और ग्रीस ने इस देश के साथ सीधे

Afghanistan

अफ़गानिस्तान में मौजुदा वर्ष के पहले छह महीनों में हुई हिंसा में १,२०० से अधिक लोग ढ़ेर – संयुक्त राष्ट्रसंघ की रपट काबुल/संयुक्त राष्ट्रसंघ – वर्ष २०२० के पहले छह महीनों के दौरान अफ़गानिस्तान में हिंसा में मारे गए हुए एवं घायल हुए लोगों की संख्या ३,५०० से अधिक होने का दावा संयुक्त राष्ट्रसंघ की रपट में किया गया है। यह रपट जारी करके अफ़गानिस्तान में बढ़ रही हिंसा पर

Gulf-Region-Activities

सौदी के बाद बहरीन ने भी इस्रायल के लिए हवाई क्षेत्र खुला किया मनामा – ‘संयुक्त अरब अमीरात’ (यूएई) के लिए उड़ान भरनेवाले इस्रायली विमानों के लिए अपनी हवाई सीमा खुली करने का ऐलान बहरीन ने भी किया है। इसकी वजह से इस्रायल और यूएई की हवाई दूरी कम होने का संतोष दोनों देश व्यक्त कर रहे हैं। दो दिन पहले ही सौदी अरब ने इस्रायली विमानों के लिए अपना

'तृतीय महायुद्ध' पुस्तक और आज का वास्तव

हरि ॐ, आज की भीषण जागतिक परिस्थिति के लिए कई देश चीन को ज़िम्मेदार मान रहे हैं। News Links – https://www.aniruddhafriend-samirsinh.com/third-world-war-hindi/ फिर ऐसे में याद आती है, मार्च २००६ से डॉ. अनिरुद्ध धैर्यधर जोशी ने दैनिक प्रत्यक्ष में चालू की हुई ’तिसरे महायुद्ध’ (तृतीय विश्वयुद्ध) इस लेखमाला की, जो बाद में दिसम्बर २००६ की दत्तजयंती के दिन ’तिसरे महायुद्ध’ इस नाम से पुस्तक के रूप में प्रकाशित हुई। इस पुस्तक

'तिसरे महायुद्ध' पुस्तक आणि आजचे वास्तव

हरि ॐ, आजच्या भीषण जागतिक परिस्थितीला अनेक देश चीनला जबाबदार धरत आहेत. News Links – https://www.aniruddhafriend-samirsinh.com/third-world-war-marathi/ मग अशा वेळेस मार्च २००६ सालापासून डॉ. अनिरुद्ध धैर्यधर जोशी यांनी दैनिक प्रत्यक्ष मध्ये चालू केलेल्या ’तिसरे महायुद्ध’ च्या लेखमालेची आठवण होते, जी लेखमाला नंतर डिसेंबर २००६च्या दत्तजयंती ह्या दिवशी ’तिसरे महायुध्द’ या नावाने पुस्तक रूपात प्रकाशीत झाली. या पुस्तकाच्या प्रस्तावनेमध्ये डॉ. अनिरुद्ध म्हणतात, “पुढील काळात आजचे समीकरण उद्या असेलच असे नाही, तर अगदी

putin erdogan

सीरिया और घुसपैठी शरणार्थियों के मुद्दे पर यूरोपिय महासंघ और नाटो का तुर्की के साथ बना विवाद हुआ तीव्र ब्रुसेल्स – यूरोपिय देशों ने सीरिया के मुद्दे पर अपनी सहायता नही की तो यूरोप में शरणार्थियों के झुंड छोडेंगे, यह धमकी तुर्की के राष्ट्राध्यक्ष एर्दोगन ने दी थी| तभी तुर्की का ऐसे ब्लैकमेलिंग करना बर्दाश्त नही करेंगे, यह इशारा यूरोपिय देशों ने दिया था| इस पृष्ठभूमि पर ब्रुसेल्स में यूरोपिय

ASEAN-Coronavirus

ईरान में ‘कोरोना व्हायरस’ के कारण ५० लोगों की मौत होने का दावा – खाडी क्षेत्र में कुवैत और बाहरिन में भी ‘कोरोना व्हायरस’ के मरीज देखे गए तेहरान/रोम – ‘कोरोना व्हायरस’ की महामारी का फैलाव चीन के बाहर भी तेजीसे बढ रहा है और अब ‘कोरोना व्हायरस’ से ईरान में ५० लोगों की मौत होने का दावा किया गया है| ईरान के अलावा खाडी क्षेत्र के कुवैत और बाहरिन

ven-us-juan

रशिया ने किया वेनेजुएला समेत लष्करी और आर्थिक सहयोग बढाने का निर्णय कैराकस: ‘वेनेजुएला का नेतृत्व, सार्वभूमता और अमरिका एवं सहयोगी देशों के प्रतिबंधों के विरोध में हो रहे संघर्ष को रशिया ने डटकर समर्थन प्रदान किया है| यह समर्थन आगे भी बरकरार रहेगा और प्रतिबंधों के बावजूद दोनों देशों ने इसके आगे आर्थिक, व्यापारी और निवेश से संबंधित सहयोग कायर रखने का निर्णय किया है’, इन शब्दों में रशिया

दुनिया से जुडी महत्वपूर्ण खबरें

जापान की ‘मित्सुबिशी’ कंपनी पर हुआ बडा सायबर हमला – चीन का हाथ होने की आशंका टोकियो/बीजिंग: जापान के साथ दुनिया के शीर्ष बहुराष्ट्रीय कंपनी के तौर पर जानी जा रही ‘मित्सुबिशी’ कंपनी पर बडा सायबर हमला हुआ है| ‘मित्सुबिशी ग्रुप’ का हिस्सा होनेवाली ‘मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक’ कंपनी को लक्ष्य किया गया है| और यह सायबर हमला करने में चीन के हैकर्स शामिल होने की आशंका व्यक्त की जा रही है|

खाड़ी क्षेत्र में तुर्की का आक्रामक रुख

लीबिया को लष्करी सहायता प्रदान होगा – तुर्की के राष्ट्राध्यक्ष रेसेप एर्दोगन का ऐलान वॉशिंग्टन – ‘लीबियन हितसंबंधों की सुरक्षा के लिए लीबिया की संयुक्त सरकार को सभी तरह से लष्करी सहायता प्रदान करने के लिए तुर्की तैयार है’, यह ऐलान तुर्की के राष्ट्राध्यक्ष रेसेप एर्दोगन ने किया है| लीबिया की संयुक्त सरकार के प्रधानमंत्री ‘फएझ अल सराज’ से भेंट करने के बाद तुर्की के राष्ट्राध्यक्ष ने यह ऐलान किया|