What is the meaning of Vasudev? Sadguru Aniruddha Bapu explains

In this pravachan clip dated 7th October 2004, Sadguru Aniruddha Bapu reveals the meaning behind the name ‘Vasudev’, who is Devaki’s husband and Shree Krishna’s father. He further clarifies the true meaning of ’33 Koti Dev’ as is mentioned in the Vedas. 

Furthermore, Bapu explains in detail about the the 10+1 directions, ‘Ashtvasu’, their role in our lives. based on this, He highlights the significance of Devaki-Vasudev’s marriage.

७ अक्टूबर २००४ की इस प्रवचन क्लिप में, सद्गुरु श्री अनिरुद्ध बापू हमें देवकी के पति और श्रीकृष्ण के पिता – ‘वसुदेव’ के नाम का अर्थ समझातें हैं। वे वेदों में वर्णित ‘३३ कोटि देव’ के सही अर्थ को स्पष्ट करते हैं।

इसके अलावा, बापू १०+१ दिशाओं और ‘अष्टवसु’ का हमारे जीवन में क्या महत्व है यह विस्तार से बताते हैं। और इसी के आधार पर बापु हमें देवकी-वासुदेव के विवाह का महत्व भी समझातें हैं।

|| हरि: ॐ || ||श्रीराम || || अंबज्ञ ||

॥ नाथसंविध् ॥

 

Related Post

Leave a Reply