How does KIRTAN or Devaki Shakti bring SUCCESS to our life

SUCCESSIn this discourse dated 07 Oct 2004, while describing the ‘Devaki Shakti’, Sadguru Aniruddha Bapu explains how success is gained in life from Namasankirtan, Gunasankirtan, i.e. Kirtan. Explaining the relationship between Mata Devaki, Yashoda maiya and Bhagwan Krishna, Sadguru Bapu explains how all this is connected with the life of a common man.

इस प्रवचन में सद्गुरु अनिरुद्ध बापू हमें नामसंकीर्तन, गुणसंकीर्तन यानी ‘कीर्तन’ से कैसे यश प्राप्ति होती है, यह ‘देवकी शक्ति’ के बारे में बताते हुए समझाते है। माता देवकी, यशोदामैया और कृष्ण भगवान के बीच का रिश्ता समझाते हुए, यह सब एक आम इन्सान के जीवन से कैसे जुड़ा है, यह बापू ने यहाँ बताया है।

|| हरि: ॐ || ||श्रीराम || || अंबज्ञ ||

॥ नाथसंविध् ॥

Related Post

Leave a Reply