World War III

अर्थव्यवस्था

फेडरल रिजर्व के दावे के बाद अमरिकी डॉलर के मूल्य में बढ़ोतरी – लेकिन सोने की किमतें और एशियाई शेअर बाज़ार की गिरावट वॉशिंग्टन – महंगाई पर काबू पाने के लिए ब्याजदर की बढ़ोतरी कुछ समय तक जारी रखने के संकेत अमरीका की फेडरल रिजर्व ने दिए हैं। इस बयान के बाद अमरिकी डॉलर का मूल्य अन्य मुद्राओं की तुलना में काफी बढ़ा है। एशियाई बाजार में बड़े उछाल के

नैन्सी पेलोसी

हमारी ताइवान यात्रा की वजह से चीन के राष्ट्राध्यक्ष असुरक्षित हुए हैं – नैन्सी पेलोसी की फटकार  वॉशिंग्टन – ‘हमारी ताइवान यात्रा के बाद चीन ने ताइवान के इर्दगिर्द शुरू किए युद्धाभ्यास चीन के राष्ट्राध्यक्ष शी जिनपिंग असुरक्षित होने की बात दिखा रहे हैं। राष्ट्राध्यक्ष जिनपिंग की स्थिति कमज़ोर हुई हैं, यह हम महसूस करते हैं’, ऐसी फटकार अमरिकी सभापति नैन्सी पेलोसी ने लगाई। साथ ही अवसर मिला तो हम

परमाणु संघर्ष का बढ़ता खतरा

परमाणु युद्ध में किसी की भी जीत नहीं होगी – रशिया के राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमीर पुतिन  संयुक्त राष्ट्र – परमाणु युद्ध कभी भी छिड़ना नहीं चाहिये, क्योंकि इस युद्ध में किसी की भी जीत नहीं होगी, इसका अहसास रशिया के राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमीर पुतिन ने कराया। सोमवार से न्यूयॉर्क में शुरू हुए परमाणु हथियारों के प्रसार बंदी समझौते संबंधित बैठक की पृष्ठभूमि पर पुतिन ने एक खत जारी किया। इसमें उन्होंने परमाणु

खाड़ी क्षेत्र

रशियन राष्ट्राध्यक्ष ईरान पहुँचे तेहरान – युक्रेन युद्ध की तीव्रता बढती जा रही है और रशिया के राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमिर पुतिन मंगलवार को ईरान की राजधानी तेहरान पहुंचे। ईंधन तथा आर्थिक सहयोग पर राष्ट्राध्यक्ष पुतिन ईरान के राष्ट्राध्यक्ष इब्राहिम रईसी के साथ चर्चा करेंगे। पिछले सप्ताह ही अमेरिका के राष्ट्राध्यक्ष ज्यो बायडेन ने खाडी राष्ट्रों का दौरा करके रशिया एवं ईरान के खिलाफ आघाडी मजबूत करने की दिशा में कदम बढाए

बढ़ता महत्त्व

छाबहार और अफ़गानिस्तान पर भारत-ईरान की चर्चा  नई दिल्ली – भारत विकसित कर रहें ईरान के छाबहार बंदरगाह के मुद्दे के साथ ही, अफ़गानिस्तान की स्थिति पर भारत और ईरान की चर्चा हुई। भारत के विदेश सचिव विनय क्वात्रा और ईरान  के राजनीतिक कारोबार विभाग के उपमंत्री अली बाघेरी-कानी ने फोन पर की हुई यह चर्चा ध्यान आकर्षित कर रही है। भारत और रशिया के बीच सामान की यातायात एवं

ईरान से जुड़ा खतरा बढ़ने लगा

परमाणु कार्यक्रम पर तनाव बढ़ने की स्थिति में अमरीका और ईरान के युद्धपोत आमने-सामने वॉशिंग्टन/तेहरान – ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर जारी बातचीत स्थगित होने से अमरीका और ईरान के बीच तनाव बढ़ रहा है और इसी दौरान दोनों देशों के युद्धपोत खतरनाक तरिके से आमने-सामने आने की घटना सामने आयी है। अमरीका के ‘फिफ्थ फ्लीट’ ने इस घटना की जानकारी प्रदान की है। इसके अनुसार अमरिकी युद्धपोत होर्मूझ की

भारत और अमरीका के बीच बढ़ता तनाव

भारत किसी को भी खूष करने के निर्णय नहीं करेगा – विदेशमंत्री एस.जयशंकर नई दिल्ली – यूक्रैन का युद्ध रोककर चर्चा शुरू करने पर सबका ध्यान केंद्रीत होना चाहिये| इसके लिए भारत ने यूक्रैन युद्ध पर अपनायी भूमिका सबसे बेहतर हैं’, ऐसा कहकर विदेशमंत्री एस.जयशंकर ने फिर एक बार भारत ने अपनायी तटस्थ भूमिका का समर्थन किया| साथ ही यूक्रैन के मुद्दे पर भारत को उपदेश और इशारें दे रहीं

आक्रामक

रशिया की सम्पत्ति का राष्ट्रीयकरण कर रहे देशों को राष्ट्राध्यक्ष पुतिन का इशारा मास्को/बर्लिन – ‘दूसरे देशों में मौजूद रशिया की संपत्ति का राष्ट्रीयकरण करने की बयानबाज़ी वे देश कर रहे हैं| लेकिन, यह दुधारी तलवार है, इसका अहसास इसका इस्तेमाल करनेवालों को होना चाहिए’, ऐसी कड़ी चेतावनी रशिया के राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमीर पुतिन ने दी है| जर्मनी ने रशिया की शीर्ष ईंधन कंपनी ‘गाज़प्रोम’ का जर्मनी में स्थित उपक्रम ‘गाज़प्रोम

अर्थव्यवस्था

ईंधन मार्केट की स्थिरता के लिए रशिया के संदर्भ में ‘ओपेक प्लस’ की भूमिका महत्त्वपूर्ण – सऊदी अरब का बयान रियाध – ईंधन मार्केट में अगर उचित स्थिरता रखनी है, तो सऊदी अरब और रशिया ने एक साथ आकर स्थापन किए ‘ओपेक प्लस’ इस गुट की भूमिका अहम है, इसे ध्यान में रखना होगा, ऐसा सऊदी अरब ने डटकर कहा है। मंगलवार को सऊदी अरब के मंत्रिमंडल की बैठक संपन्न

ईरान परमाणु समझौता और जुडी ख़बरें

ईरान के परमाणु समझौते को रशिया कमज़ोर ना करे – अमरीका एवं यूरोपिय देशों का बयान वॉशिंग्टन/तेहरान/मास्को – यूक्रैन के संघर्ष के कारण पश्‍चिमी देशों ने रशिया पर लगाए प्रतिबंध ईरान के परमाणु समझौते के लिए बाधा बन सकते हैं, ऐसा इशारा रशिया ने कुछ दिन पहले दिया था| साथ ही, यह प्रतिबंध रशिया और ईरान के सहयोग को नुकसान पहुँचानेवाले साबित नहीं होंगे, इसकी पश्‍चिमी देश गारंटी दें, यह