Hindi

Afghanistan

अफ़गान सेना की कार्रवाई में ४४ तालिबानी ढ़ेर काबुल – अफ़गान सेना ने नांगरहार और फराह प्रांत में कार्रवाई करके ४४ तालिबानी आतंकियों को मार गिराया है। कतार में अफ़गान सरकार और तालिबान की चर्चा शुरू होने के लिए महज़ कुछ ही दिन शेष हैं। ऐसी स्थिति में भी अफ़गान सेना और तालिबान के बीच जारी संघर्ष की तीव्रता बढ़ रही है। ऐसे में अफ़गान सेना की तालिबान के खिलाफ

Russia-aggression

‘वेस्टर्न सहारा’ से संबंधित अमरीका के निर्णय पर रशिया की आलोचना मॉस्को/अल्जिअर्स – ‘वेस्टर्न सहारा’ पर मोरोक्को की संप्रभुता को मंजूरी देने का अमरीका का निर्णय एकतरफा है। अमरीका का यह ऐलान अंतरराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन करनेवाला है, ऐसी आलोचना रशिया के उप-विदेशमंत्री मिखाईल बोग्दानोव ने की है। रशिया के बाद मोरोक्को के पड़ोसी देश अल्जेरिया ने भी अमरीका के इस निर्णय की आलोचना की है।  आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/russia-criticism-of-america-decision-regarding-western-sahara/

China

चीन की शिकारी राजनीतिक नीति के खिलाफ़ अमरीका और युरोप एकजूट करें – युरोपिय महासंघ के राजदूत निकोलस शापूई बीजिंग/वॉशिंग्टन – ‘साऊथ चायना सी में चीन अपना रहे ‘वूल्फ वॉरियर डिप्लोमसी’ अर्थात् शिकारी राजनीतिक बीति के खिलाफ़ अमरीका और युरोपिय महासंघ ने एकसाथ आना आवश्यक है। साथ ही, ‘साऊथ चायना सी’ के इस क्षेत्र के देशों के साथ समन्वय बढ़ाकर चीन की ज़बरदस्ती रोकने के लिए प्रयास करने चाहिए’ ऐसा

Indian-Navy

वायुसेना ने किया ‘आकाश’ और ‘इग्ला’ का परीक्षण मुंबई – भारतीय वायुसेना ने आंध्र प्रदेश के सूर्यालंका एअरफोर्स स्टेशन से स्वदेशी ‘आकाश’ और रशियन निर्माण के ‘इग्ला’ मिसाइलों का परीक्षण किया। वायुसेना के अड्डे पर २३ नवंबर से २ दिसंबर के दौरान युद्धाभ्यास का आयोजन हुआ। इस दौरान इन मिसाइलों का परीक्षण किए जाने की बात कही जा रही है। इन मिसाइलों के परीक्षण के समय उप-वायुसेना प्रमुख एअर मार्शल

तुर्की की गतिविधियों के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय आक्रामक

तुर्की को रोकने के लिए ग्रीस और ‘युएई’ का रणनीतिक साझेदारी समझौता अथेन्स/अबुधाबी – तुर्की के बढ़ते वर्चस्ववादी क़ारनामें रोकने के लिए ग्रीस ने ज़ोरदार गतिविधियाँ शुरू की हैं। पिछले कुछ महीनों में ग्रीस ने, अमरीका के साथ फ्रान्स, इस्रायल, इजिप्ट एवं भारत के साथ सहयोग बढ़ाने के लिए पहल की थी। इसमें अब ‘संयुक्त अरब अमीरात’ (युएई) का इज़ाफा हुआ है और ग्रीस ने इस देश के साथ सीधे

Aniruddha Gurukshetram

हरि ॐ, संस्था से जुड़े सभी आध्यात्मिक / प्रार्थना स्थल अगली सूचना मिलने तक बन्द ही रहेंगे, ऐसा सोमवार, दि. १६ नवम्बर २०२० के दिन श्रद्धावानों को सूचित किया गया था। इसी अनुषंग से, ये आध्यात्मिक / प्रार्थना स्थल शुरू करने के बारे में किया जानेवाला निर्णय और उसकी निश्चित तारीख इस संबंध में जानकारी, शुरू करने से आठ दिन पहले मेरे अधिकृत ब्लॉग (www.aniruddhafriend-samirsinh.com) द्वारा ही सभी श्रद्धावानों को