Hindi

अमरीका की अफगाणिस्तान से सेनावापसी की घोषणा और भारत

अफ़गानिस्तान में उद्देश्‍य पूरा होने का बयान करके अमरीका के राष्ट्राध्यक्ष ने किया सेना की वापसी का ऐलान वॉशिंग्टन/काबुल – ‘अफ़गानिस्तान की एकजुट के लिए अमरीका ने अपने सैनिक इस देश में तैनात नहीं किए थे। ओसामा बिन लादेन को खत्म करना और अफ़गानिस्तान में स्थित आतंकियों के आश्रय स्थान नष्ट करना, इन दोनों उद्देश्‍यों के लिए अमरीका की सेना ने अफ़गानिस्तान में कदम रखा था। यह दोनों उद्देश्‍य प्राप्त

ईरान और इस्रायल के बीच अघोषित युद्ध की तीव्रता बढ़ रही है

ईरान-इस्रायल के बीच अघोषित युद्ध की तीव्रता बढ़ रही है – आन्तर्राष्ट्रीय माध्यमों की चिंता दुबई – पाँच दिन पहले ‘रेड सी’ के क्षेत्र में ईरान के रिव्होल्युशनरी गार्ड्स का तैरता अड्डा होनेवाले ‘एमव्ही साविझ’ जहाज पर हमला हुआ। इस एक घटना के कारण, पिछले कुछ सालों से खाड़ी क्षेत्र में ईरान और इस्रायल के बीच जारी अघोषित छुपा युद्ध अब भड़कने लगा है। आनेवाले समय में इन दोनों देशों

चीन की आक्रामकता के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय सक्रिय

चीन का खतरा बढ़ते समय, जापान-इंडोनेशिया रक्षा सहयोग समझौता ‘साऊथ चायना सी क्षेत्र मे ताकत का इस्तेमाल करके एकतरफ़ा बदलाव करने के लिए लगातार जारी कोशिशें चिंताजनक साबित होती हैं। जापान और इंडोनेशिया इन दोनों देशों को इस मामले में प्रतीत हो रही चिंता एकसमान है’, ऐसा जापान के विदेश मंत्रालय ने कहा है। दोनों देशों के विदेश मंत्री और रक्षा मंत्रियों में हुई ‘टू प्लस टू’ चर्चा के दौरान,

श्रीगुरु चरन सरोज रज

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने २४ फरवरी २००५ के पितृवचनम् में हनुमान चलिसा के ‘श्रीगुरु चरन सरोज रज निज मनु मुकुरु सुधारि’ इस चौपाई के बारे में बताया।  पहले सौ बीघा जमिन थी, लेकर आया था सौ बीघा, जाते समय बेचके कुछ भी नहीं रहा, ऐसा नहीं होना चाहिए। सौ बीघा लेके आये थे, दस हजार बीघा करके चले गये, ये मेरे जीवन का एम्स ऍण्ड ऑब्जेक्टीव होना चाहिए। तब जिंदगी

India-US-cooperation

भारत-चीन में अविश्‍वास बढ़ते समय, भारत का अमरीका के साथ सहयोग अधिक ऊँचाई को छू रहा है – अमरीका के ऍडमिरल ऍक्विलिनो का दावा वॉशिंग्टन – ‘भारत और अमरीका के बीच लष्करी सहयोग, पहले कभी नहीं था इतनी ऊँचाई पर पहुँचा है। उसी समय, भारत और चीन में अविश्वास, पहले कभी नहीं था इतने निचले स्तर पर गया है’, ऐसा सूचक बयान अमरीका के ऍडमिरल जॉन ऍक्विलिनो ने किया। जल्द