Hindi

ट्विटर- भाग १

इस सदी (२०००) के पहले ही दशक में I.T. (Information Technology) की एक शाखा, सोशल इंजिनियरिंग (Social Engineering) ने सर्वत्र धूम मचा दी है। जो विश्व पहले एक-दूसरे के केवल करीब आया था, वह अब एक दूसरे से जुड़ भी चुका हैं, इसकी वजह है Social Engineering! इससे न केवल जानकारियों व सूचनाओं का आदान-प्रदान होता है, बल्कि एक दूसरे की भावनाएँ, संवेदनाएँ भी सकी पहुँचने लगी है। इसी की

फेसबुक इंटरफेस - भाग २

  अब तक हमनें देखा कि फेसबुक अकाऊंट कैसे खोला जाता है । अब हम देखेंगे कि फेसबुक का प्रयोग कैसे किया जाता है? जब हम फेसबुक पर लॉगीन करते है, तो हमें नीचे दर्शायी गयी विंडो दिखायी देती हैं । इसे होम पेज कहते हैं । अपने फेसबुक का होम पेज वैशिष्ट्यपूर्ण होता है । 1) होम पेज पर सबसे ऊपर हमें सर्च बॉक्स दिखायी देता है । इस

विश्व को थर्रानेवाली ‘ आयएस ’ - भाग २

’आयएस’ का इरादा है कि, कुछ समय पहले अल कायदा और तालिबान के कब्जे में जो अफगाणिस्तान और अंजरपंजर ढीले हो चुका पाकिस्तान को वह अपने कब्जे में कर ले। ’आयएस’ के आतंकी अफगाणिस्तान-पाकिस्तान में घुसकर इन दोनों देशों की सीमाओं पर अपना तंबू ठोके हुए तालीबान के हक्कानी गुट और अल कायदा के लिए बडी चुनौती बन रहे हैं। दावा किया जाता है कि, ‘तेहरिक-ए-तालिबान’ का ‘शाहिदुल्लाह शाहीद’ गुट ’आयएस’

फेसबुक - भाग १

इन्फॉर्मेशन टेक्नॉलॉजी में नये-नये बदलाव हमेशा से ही होते आ रहें है और प्रत्येक दशक में ये बदलाव सामान्य मनुष्यों के करीब आते रहे हैं। सोशल मीडिया भी इसीतरह का एक बदलाव है जो विगत दशक में हमारे काफी करीब आया। सोशल मीडिया अर्थात कॉम्प्युटर जगत में संवाद का साधन। यह संवाद यानी बिल्कुल दैनंदिन जीवन में गृहस्थ जीवन व ऑफिस की गप-शप से लेकर विचारों के आदान-प्रदान तथा उन

 ​ अमेरीका ने इराक युद्ध जीत लिया, ऐसी गर्जना राष्ट्रपति बराक ओबामा ने सन २०११ के दिसम्बर मास में की थी। अमेरीका ने इराक से नौं साल बाद सेना को वापस बुलाया था। ४५०० सैनिकों का बलिदान और अरबों डॉलर खर्च करके अमेरीका ने उन नौं सालों में क्या हासिल किया? इस प्रश्न का ‘विजय’ ही एकमात्र उत्तर था। अर्थात अमेरीकी राष्टपति जिसे विजय कहते थे, क्या वह विजय है,

परमपूज्य सद्गुरु श्री अनिरुद्ध बापू के घर संपन्न हुआ श्री सप्तमातृका-पूजन

मंगलवार, दि. ८ दिसंबर २०१५ को परमपूज्य सद्गुरु श्री अनिरुद्ध बापू के घर के श्री सप्तमातृकापूजन संपन्न हुआ। आपको यह शुभ समाचार देते हुए मैं बहुत ही आनन्दित हूँ कि बापू के घर नये मेहमान का आगमन हुआ है। आप सब को यह जानकर खुशी होगी कि सुचितदादा के बेटे स्वप्निलसिंह और बापू की बेटी शाकंभरीवीरा को पुत्रसंतान की प्राप्ति हुई है। ८ दिसंबर २०१५ को अस्पताल से नवजात शिशु

ब्लॉग कस्टमाईझ कैसे करते है ? - भाग -३

यही पर्याय होम पेज पर भी उपलब्ध होते है | इन में से जो पर्याय हमारे ब्लॉग के लिए आवश्यक है, उन्हें समज लेना हमारे लिए जरूरी है | १) ओव्हरव्हिव्यू : जिस में ब्लॉग का स्टेटस् समझ में आता है | मतलब आज के दिन में कितने लोगों ने ब्लॉग देखा? कितने कॉमेन्टस् आए? कितने फॉलोअर्स ब्लॉग के साथ है| यह सब जानकारी हमें हासिल होती है | सारांश

ब्लॉग पोस्ट कैसे पब्लिश करते हैं! - भाग २

ब्लॉग पोस्ट पब्लिश करना यह एक महत्त्वपूर्ण भाग है | उसे लिखने वक्त निचे दी गयी चिजों का ध्यान रखना जरूरी है| अ) पोस्ट किया हुआ (लेख) मसला विषय से जुडा हुआ हो, अन्यथा लेख टाल दिजिए | ब) लेख की भाषा बहोत ही आसान और समझनेवाली है| क) पोस्ट मे मुमकीन हो तो फोटो, व्हिडिओ का इस्तमाल किजिए जिससे की पोस्ट प्रभावी लगे | १) पोस्ट टाईल : पोस्ट

New Uniforms of Charkha Yojana

हरि ॐ. सद्‍गुरु बापू ने ३ अक्तूबर २००२ को १३ कलमी कार्यक्रम की घोषणा करते समय “वस्त्र योजना” इस बहुत ही महत्त्वपूर्ण उपक्रम को कार्यान्वित किया था। इस “वस्त्र योजना” के उपलक्ष्य में बापू ने श्रद्धावानों के, भक्ति और सेवा इन दो मूलभूत अंगों को एकत्रित रूप में विकसित करनेवाले “चरखे से” सभी श्रद्धावानों को नये सिरे से परिचित कराया। भारत के दुर्गम इलाक़े में बसे गरीब, कष्टकरी समाज के

ब्लॉग का परिचय

अपने विचार, राय प्रस्तुत करना और बडे पैमाने पर लोगों तक पहुँचाने का असरदार, किफायती और सबसे तेज रास्ता याने की ब्लॉग | विधायक कार्य पुरी तरह से पूर्णत्व की ओर ले जाने के लिए जरूरत होती है ऐसेही प्रभावी और सामान्य जब तक सहजतासें पहुँच पाए ऐसे माध्यम की | इंटरनेट जगत में सर्वोच्च शिखरपर रहनेवाली ‘गुगल’ कंपनी ने बराबर हमारी ‘नस’ पकडकर अपने ‘ब्लॉगर’ यह प्रोडक्ट इंटरनेट मार्केट