Featured Posts

Gokul

Sadguru Shree Aniruddha tells us in his Hindi discourse of 29th December 2005, why should we always stay within the boundary of the Gokul in any situation by keeping full faith in Bhagwan Shree Krishna. Along with this, the unique relationship between Kshama(क्षमा), Radha, and Gokul is explained in simple words. सद्गुरु श्री अनिरुद्ध हमे २९ दिसंबर २००५ के हिंदी प्रवचन व्हिडिओ में हमेशा भगवान श्रीकृष्ण पर पूर्ण विश्वास रख

ईरान के आक्रामक तेवर

पूर्व राष्ट्राध्यक्ष रफसंजानी की बेटी को पांच साल की सज़ा सुनाकर ईरान ने प्रदर्शनकारियों को दिया नेतृत्व – विश्लेषकों का दावा तेहरान – ईरान में लगभग पिछले चार महीनों से हुकूमत के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों का समर्थन करने पर पूर्व राष्ट्राध्यक्ष अकबर रफसंजानी की बेटी को ईरान ने पांच साल की सज़ा सुनाई है। तथा ईशनिंदा और ईश्वर द्रोह का आरोप लगाकर ईरान ने तीन प्रदर्शनकारियों को फांसी सुनाई

Glaum

In this discourse video from March 4th, 2010, Sadguru Shree Aniruddha explains the power of the ‘Glaum’ beej. At the same time, Bapu explains how the positive effect of Glaum beej works on the Trividh Deh (three forms of the ‘Deh’) when recited(chanted) with naam of Sadguru. सद्गुरू श्री अनिरुद्ध आपल्याला ४ मार्च २०१० च्या प्रवचन व्हिडिओत ’ग्लौ’ बीजाचे महत्त्व सांगताना त्याचे सामर्थ्य काय असते, हेही स्पष्ट करतात. त्याचबरोबर ‘ग्लौ’ बीज

भारत

भारतीय विदेश मंत्री ने दिया यूरोपिय देशों को दो टूक जवाब वियना – रशिया और भारत के सहयोग पर बयान करके भारत को नैतिकता के पाठ पढाने की कोशिश करने वाले यूरोपिय देशों को भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर ने तीखे बोल सुनाए। एक साक्षात्कार के दौरान भारतीय विदेश मंत्री ने यूरोप के लिए इशारे की घंटी बज रही है, ऐसी चेतावनी दी है। साल २००८ की आर्थिक मंदी के बाद

Seva and Bhakti

In this discourse, Sadguru Shree Aniruddha narrates a story to explain how Seva and Bhakti ensure that a person’s life path continues in the right direction and how they bring progress. सद्गुरू श्री अनिरुद्ध ०४ मार्च २०१० च्या ह्या प्रवचनामध्ये, एका कथेच्या माध्यमाने सांगतात की मानवाने केलेल्या सेवा व भक्तीमुळे त्याच्या जीवनाचा प्रवास कसा उचित दिशेने व प्रगतीपथावर होत राहतो. Discourse date: 4th March 2010