Current Affairs

Afghanistan-Peacetalks-Violence

अमरीका के विदेशमंत्री माईक पोम्पिओ ने की तालिबान से चर्चा वॉशिंग्टन – अमरीका के विदेशमंत्री माईक पोम्पिओ ने सोमवार के दिन तालिबान से चर्चा करने की बात सामने आयी है। कतार में स्थित तालिबान के प्रवक्ता सोहेल शाही ने यह जानकारी प्रदान की। इस चर्चा के दौरान तालिबान ने अफ़गानिस्तान की सरकार के हिरासत में होनेवाले ४०० से अधिक बंदियों की रिहाई का मुद्दा उपस्थित किया है, यह जानकारी तालिबान

Australia resists China's tyrannical hegemony

US, Australia to expand military partnership with focus on hypersonic, missile defence, cyber, space warfare Washington: After rejecting all claims of China on the South China Sea, the US and Australia have agreed on bolstering military ties to foil Beijing’s plans. The armed forces of both nations are to work jointly towards peace in the Indo-Pacific region and have inked a secret deal as per a joint statement released by

इस्रायल से जुडी महत्वपूर्ण गतिविधियां

हिज़बुल्लाह की गलती की कीमत लेबनान को चुकानी होगी – इस्रायली प्रधानमंत्री का इशारा जेरूसलम – ‘इस्रायल की सीमा में घुसपैठ करने की और हमले करने की हिज़बुल्लाह द्वारा की गई गलती की बड़ी कीमत लेबनान को पहले भी चुकानी पड़ी थी। यह गलती दोहराने का काम नसरल्ला न करें, वरना हिज़बुल्ला की गलती की बड़ी कीमत पुरी तरह से लेबनान को चुकानी होगी’, ऐसी कड़ी चेतावनी इस्रायल के प्रधानमंत्री

Iran-China 25-year Contract: A Chinese Debt Trap

Iran to sign a twenty-year cooperation agreement with Russia Moscow: The cooperation between Russia and Iran is age-old and it will continue, in the same manner, in the future. Iranian Foreign Minister, Jawad Zarif, announced that cooperation agreement for at least 20 years would be signed with Russia.  Read More : http://www.newscast-pratyaksha.com/english/russia-sign-twenty-year-cooperation-agreement-with-iran/ China-Iran cooperation is a threat for the Middle East, warns US think tank Washington: The US think tank,

Indian-Defence- Forces

रफायल विमानों पर ‘हॅमर’ मिसाइलों की तैनाती होगी नई दिल्ली – अगले सप्ताह में फ्रान्स भारत को छह रफायल विमान सौंप रहा हैं। इन लड़ाकू विमानों की तैनाती तुरंत चीन की सीमा पर करने की तैयारी पूरी करने में वायुसेना जुटी होने के समाचार भी प्राप्त हो रहे हैं। इसी बीच इन विमानों की मारक क्षमता बढ़ाने के लिए फ्रान्स से ‘हॅमर’ मिसाइलों की ख़रीद होगी, ऐसा समाचार भी प्राप्त

US-China

US-China economic war closely resembles situation before World War II, US economist & investor Ray Dalio warns Washington: The economic war between the US and China is a reminder of the period preceding the World War II, stated renowned US hedge fund investor and economist Ray Dalio as he warned the situation could escalate into a real war.  Read More : http://worldwarthird.com/index.php/2020/07/18/s-china-economic-war-closely-resembles-situation-before-world-war-ii/ China is engaged in economic Blitzkrieg to surpass

Iran

ईरान के बुशहर बंदरगाह में भड़की संदेहास्पद आग से सात जहाज़ों का हुआ बड़ा नुकसान तेहरान – ईरान के बुशहर बंदरगाह के एक शिपयार्ड में यकायक भड़की आग की चपेट मे आने से सात जहाज़ जलकर राख हुए। यह आग भड़कने का कारण अभी स्पष्ट नहीं हुआ है। लेकिन, पिछले महीने से ईरान में हो रही आग की संदिग्ध घटनाओं में और एक घटना की बढ़ोतरी हुई है। बुशहर शहर

Iran-Natanz

Iran admits to severe damage to Natanz nuclear facility due to mysterious fire Tehran: Suspicious fire at the Natanz nuclear facility last week has caused severe damage to the Iranian plant. The fire has slowed the production of the advanced centrifuges, admitted Iran’s Atomic Energy Organization (IAEO) spokesman Behrouz Kamalvandi.  Read More : http://worldwarthird.com/index.php/2020/07/06/iran-admits-severe-damage-natanz-nuclear-facility-due-mysterious-fire/ New blasts in Iranian cities heightens mystery surrounding the recent incidents Tehran: Massive fire erupted due

India-China

चीन की बढ़ती दखलअंदाज़ी के विरोध में नेपाल में हुए प्रदर्शन नई दिल्ली – नेपाल के अंदरूनि मामलों में चीन की दखलअंदाज़ी बढ़ रही है और प्रधानमंत्री के.पी.शर्मा की कुर्सी बचाने के लिए नेपाल में नियुक्त चीन की राजदूत कोशिश कर रही हैं, ऐसीं ख़बरें प्राप्त हो रही हैं। चीन की राजदूत होउ यांकी पिछले तीन दिनों से, नेपाल की सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से बैठकें कर रही

Nepal

Nepal PM struggles to save his government Kathmandu: The pro-Chinese Government, in Nepal, headed by Prime Minister KP Sharma Oli, is about to collapse, owing to the divide in the ruling party. The political developments have been fast-tracked in Nepal. Chairman of the communist party of Nepal and former Prime Minister, Pushpa Kamal Dahal Prachanda, called an emergency meeting of the party standing committee. Read More : http://www.newscast-pratyaksha.com/english/nepal-pm-struggling-to-save-its-government/ Oli government