Current Affairs

India as Net Security Provider & Indo-Pacific outreach

In the recent past, Chinese illegal forays, activities and coercion in the Indo-Pacific are rising further. However, China is now facing active and open resistance from several countries across the Indo-Pacific region. Among all, India and its regional engagement are proving to be the pivot of the Indo-Pacific in the fight against China. Indonesia China has laid claims on Indonesia’s Natuna Islands in Borneo state and asked Jakarta to stop

कोरोना संक्रमण

ओमिक्रॉन का फैलाव यह कोरोना महामारी का सबसे बुरा दौर साबित हो सकता है – उद्योजक बिल गेट्स की चेतावनी वॉशिंग्टन – कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट का फैलाव यह इस महामारी का सबसे बुरा दौर साबित हो सकता है, ऐसी चेतावनी अमरिकी उद्योजक बिल गेट्स ने दी। ओमिक्रॉन का संक्रमण इतनी तेज़ी के साथ बढ़ रहा है कि जल्द ही दुनिया के सभी देशों में उसका फैलाव हुआ दिखेगा, ऐसी

खतरा

रशिया के यूक्रैन पर हमला करने से तीसरा विश्‍वयुद्ध छिड़ जाएगा – यूक्रैन के मंत्री का इशारा किव/मास्को – रशिया का यूक्रैन पर हमला सिर्फ यूक्रैन तक ही सीमित नहीं रहेगा, बल्कि इससे व्यापक संघर्ष शुरू होगा और तीसरा विश्‍वयुद्ध छिड़ सकता है, यूक्रैन के मंत्री ने यह चेतावनी दी है| मौजूदा भूराजनीतिक स्थिति पर सोचा जाए तो ऐसा होना मुमकिन है, ऐसा इशारा यूक्रैन की ‘वेटरन्स मिनिस्टर’ युलिआ लैपुटिना

India-Russia signed several energy deals during Russian President Putin's visit

Russian President Vladimir Putin made a quick 5-hour visit to India. However, considering it to be just his second foreign visit during the pandemic, it highlighted the importance Russia attaches to ties with India. Some of the most talking points about the deal were regarding the defence sector. Of course, majorly significant deals happened in this area. However, another industry caught less attention where both the grand-old friends entered into

खाड़ी क्षेत्र में तनाव

ईरान की इंधन, क्षेपणास्त्रों की तस्करी पर अमेरिकन नौसेना की बड़ी कार्रवाई वॉशिंग्टन – अमरीका की नौसेना ने ईरान की इंधन और क्षेपणास्त्रों की तस्करी पर अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की। ईरान ने यमन के हाउथी बागियों के लिए अवैध रूप से निर्यात किये हुए डेढ़ सौ से अधिक क्षेपणास्त्र कब्जे में लेने की बात अमरीका के विधि विभाग ने घोषित की। वियना में ईरान के साथ परमाणु

Heartfelt tribute to Indias first Chief of Defence Staff General Bipin Rawat

“Our’s will not be the first bullet, but after the first bullet is fired, we won’t count our bullets”, this one line is enough to characterise the personality of India’s first Chief of Defence Staff, General Bipin Rawat. The afternoon of the 8th of December 2021 brought the terrible news of the untimely and sad demise of Gen. Bipin Rawat, along with his wife and 11 brave warriors of the

ISRO is working on 50 futuristic and disruptive space technologies.

World over, the name of ISRO (Indian Space Research Organization) is looked upon with respect and awe. This organisation reached Mars at a fuel cost per kilometre less than an autorickshaw, and it is not a joke. Nothing more needs to be said about the technological prowess and cost-effectiveness of ISRO. Moreover, ISRO has undertaken several projects and has planned many initiatives which will take it to new heights unknown

तालिबान हुकूमत

सिस्तान-बलोचिस्तान की सीमा पर ईरान की सेना की तालिबान से मुठभेड़ तेहरान/काबुल – ईरान के रिव्होल्युशनरी गार्ड्स के जवान और अफगानिस्तान स्थित तालिबान के आतंकवादियों के बीच बुधवार को मुठभेड़ हुई। सिस्तान-बलोचिस्तान की सीमा पर हुई इस मुठभेड़ में तालिबान के आतंकवादी मारे जाने की तथा तालिबान ने ईरान की लष्करी चौकियों पर कब्ज़ा करने की खबरें प्रकाशित हुईं थीं। उसकी पुष्टि नहीं हुई है । लेकिन यह मुठभेड़ गलतफ़हमी

India responding proactively to China threat at LAC

Over the last year and a half, China has taken several overt steps to undermine India at the Line of Control (LAC). These steps are in the form of passing new border laws, heavy deployment of troops and weaponry, using demographic changes to displace the local Tibetan population, etc. However, right since the Doklam standoff, India has responded to China proactively. A quick look at the actions initiated by India

भारतीय अर्थव्यवस्था

चीन के साथ व्यापारी सहयोग करने पर भारत सावधानी से फ़ैसला करेगा – विदेश सचिव श्रिंगला के संकेत नई दिल्ली – लद्दाख की एलएसी पर तनाव कम करने के लिए भारत और चीन के लष्करी अधिकारियों के बीच चर्चा का १४वाँ सत्र जल्द ही शुरू होगा। उससे पहले चीन भारत के पास, व्यापारी संबंध पहले जैसे करने की माँग कर रहा है। भारत हालांकि इस पर विचार कर रहा है,