Search results for “बेट”

दुर्गा इस शब्द का अर्थ

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने २० अक्तूबर २००५ के पितृवचनम् में ‘दुर्गा इस शब्द के अर्थ’ इस बारे में बताया। मैं आस्तिक हूँ और मैं आस्तिक रहूँगा। मेरी श्रद्धा है की ये माँ दुर्गा सब कुछ करती हैं, सब कुछ चलाती हैं और उसका पुत्र त्रिविक्रम जो है, वह सबका केअर टेकर है। ये मेरी अपनी श्रद्धा है, कोई माने या ना माने मुझे क्या फरक पड़ता है? are you getting,

चरणसंवाहन - भाग ३, सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी, पितृवचनम्

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने १५ अप्रैल २०१० के पितृवचनम् में ‘चरणसंवाहन’ के बारे में बताया। सो, ‘करावे मस्तकी अभिवंदन। तैसेचि हस्तांही चरणसंवाहन।’ जान गये हेमाडपंतजी क्या हमें कह रहे हैं, हमें बता रहे हैं? सबसे बेस्ट चीज़ बता रहे हैं की भाई, उसकी ये फोटो हो, उसकी तसबीर हो, उसकी मूर्ती हो, उसकी चरणधूली, उसके प्रत्यक्ष चरण हो उनकी सेवा करते रहो। अपनी जितनी ताक़द है, स्वशक्ति अनुसार, अपनी ताक़द

गुरुक्षेत्रम् मन्त्राचे श्रद्धावानाच्या जीवनातील महत्त्व - भाग १२

सद्गुरू श्री श्रीअनिरुद्धांनी त्यांच्या ०८ एप्रिल २०१० च्या मराठी प्रवचनात ‘गुरुक्षेत्रम् मन्त्राचे श्रद्धावानाच्या जीवनातील महत्त्व’ याबाबत सांगितले.    जे जे काही करायचं, ते फक्त तीन पदक्षेपात करतो, तीन पावलांमध्ये करतो, तीन शब्दांमध्ये करतो, आलं लक्षामध्ये! म्हणून तो ‘‘त्रिविक्रम’ आहे आणि करतो म्हणजे यशस्वीपणे करतो, बेस्ट करतो. त्याच्या जागी दुसरं कोणीच असू शकत नाही म्हणून तो ‘त्रिविक्रम’ आहे आणि अशा ह्या त्रिविक्रमाच्या निलयामध्ये हा मंत्र आम्हाला नेतो आणि मग आम्हाला सांगितलं

आतंकवादी संगठन 'आयएस' के हमलें और गतिविधियां बढ़ी

अमरिका, यूरोप में दावानल शुरू करें – ‘आयएस’ ने समर्थकों को उकसाया वॉशिंगटन: ‘पश्‍चिमी देशों को दर्द देना है तो अमरिका, फ्रान्स, ब्रिटेन और जर्मनी में जंगल में आग लगा दो| इससे शुरू होनेवाले दावानल का दर्द वह बर्दाश्त नही होगा’, यह कहकर ‘आयएस’ ने अमरिका और यूरोप के अपने समर्थकों को उकसाया है| अमरिका के कैलिफोर्निया के जंगलों में दावानल भडकने से पहले ‘आयएस’ ने यह आदेश दिए थे| ‘अल कायदा’, ‘आयएस’, ‘तालिबान’ एवं दुनिया भर के आतंकी संगठनों

रामनाम बही का कम से कम एक पन्ना प्रतिदिन लिखिए

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्ध बापू ने २० अप्रैल २०१७ के प्रवचन में ‘रामनाम बही का कम से कम एक पन्ना प्रतिदिन लिखिए (Write at least one page of Ramnaam book daily)’ इस बारे में बताया।   रामनाम बही का यही महत्व है, उस में जो नाम हैं, राम, कृष्ण जो भी दिये हुए हैं जो मंत्र, ये सब क्या करते हैं? हमारे इन तीन चक्रों की, मणिपूर चक्र, स्वाधिष्ठान चक्र, मूलाधार

आपके हृदय में भक्ति का होना यह आपके लिए आवश्यक है - भाग २

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्ध बापू ने ४ फरवरी २०१६ के प्रवचन में ‘आपके हृदय में भक्ति का होना यह आपके लिए आवश्यक है- भाग २’ इस बारे में बताया।   आप टिफीन लेके जा रहे हैं अपनी बॅग में, राईट, उस बॅग में समझो नीचे ऐसी बॅग होती है राईट, तो पीछे ऐसी बॅग है, यहाँ नीचे यहाँ टिफीन रखा हुआ है, ये जो पार्ट है वो अगर समझो टूट गया रास्ते

आतंकवाद से जुडी महत्वपूर्ण खबरें

ओसामा बिन लादेन का लडका ‘हमजा’ पर अमरिका ने रखा १० लाख डॉलर्स का इनाम वॉशिंगटन – ‘अल कायदा का मृत प्रमुख ओसामा बिन लादेन का लडका हमजा बिन लादेन यह आतंकी अल कायदा संगठन का नया नेता बनकर सामने आ रहा है| उसने इंटरनेट पर व्हिडिओ और ऑडिओ संदेशा प्रसारित किये है और इसमें उसके अनुयायी लोगों को अमरिका और अमरिका के मित्रदेशों पर हमले करने का निवेदन किया है|

Sadguru Shree Aniruddha’s Pitruvachan (Part 1) – 07 March 2019

॥ हरि: ॐ ॥ श्रीराम ॥ अंबज्ञ ॥ ॥ नाथसंविध्‌ ॥ नाथसंविध्‌ ॥ नाथसंविध्‌ ॥ हररोज कई बार हमारे मन में एक सवाल उठता है – ‘क्यों?’ यह ‘क्यों’ हुआ? ऐसा ‘क्यों’ हुआ? ऐसा ‘क्यों’ नहीं हुआ? ‘Why?’ ‘Why?’ ‘Why?’ Whole life we are facing this problem – ‘Why’? पूरी ज़िन्दगी हम लोग इस सवाल के साथ जूझते रहते हैं – ‘Why’; and we never get answer. हमें कभी जवाब

जिंदगी में....कहीं भी ज़्यादा जल्दी मत करना।

हरि ॐ, श्रीराम, अंबज्ञ, नाथसंविध्‌, नाथसंविध्‌, नाथसंविध्‌. कितनी बार हम लोग इन शब्दों का प्रयोग करते हैं? ‘बहुत देर हुई’….राईट? क्या कहते हैं? ‘बहुत देर हुई’। कहाँ जाना है, कहाँ से निकलना है, कहाँ जा पहुँचना है, कुछ हासील करना है, कुछ पाना है। हमें सब चीज़ों में ऐसा लगता है, सब बातों में ऐसा लगता है, कि जो टाईम है, उसके पहले सब कुछ हो जाये, तो बहुत अच्छा!

sedentary lifestyle

॥ हरि ॐ ॥ श्रीराम ॥ अंबज्ञ॥ नाथसंविध्‌ नाथसंविध्‌ नाथसंविध्‌      जीवन में किसी को यह चाहिए, किसी को वह चाहिए, एक ही इन्सान के जीवन में, सुबह में यह चाहिए, तो दोपहर में दूसरा कुछ चाहिए, शाम को तीसरी चीज़ चाहिए, रात को चौथी चाहिए, सपने में पाँचवी चीज़। Right? चलते ही रहता है। उसमें कोई बुराई नहीं हैं, it happens. होता है। लेकिन अभी समझो, हम लोग कोई