Search results for “परमाणु हथियार”

खतरा

रशिया के यूक्रैन पर हमला करने से तीसरा विश्‍वयुद्ध छिड़ जाएगा – यूक्रैन के मंत्री का इशारा किव/मास्को – रशिया का यूक्रैन पर हमला सिर्फ यूक्रैन तक ही सीमित नहीं रहेगा, बल्कि इससे व्यापक संघर्ष शुरू होगा और तीसरा विश्‍वयुद्ध छिड़ सकता है, यूक्रैन के मंत्री ने यह चेतावनी दी है| मौजूदा भूराजनीतिक स्थिति पर सोचा जाए तो ऐसा होना मुमकिन है, ऐसा इशारा यूक्रैन की ‘वेटरन्स मिनिस्टर’ युलिआ लैपुटिना

खाड़ी क्षेत्र में तनाव

ईरान की इंधन, क्षेपणास्त्रों की तस्करी पर अमेरिकन नौसेना की बड़ी कार्रवाई वॉशिंग्टन – अमरीका की नौसेना ने ईरान की इंधन और क्षेपणास्त्रों की तस्करी पर अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की। ईरान ने यमन के हाउथी बागियों के लिए अवैध रूप से निर्यात किये हुए डेढ़ सौ से अधिक क्षेपणास्त्र कब्जे में लेने की बात अमरीका के विधि विभाग ने घोषित की। वियना में ईरान के साथ परमाणु

चीन के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय आक्रामक

चीन की ‘बीआरआय’ योजना में मानव अधिकारों का उल्लंघन – अंतरराष्ट्रीय अभ्यासगुट का आरोप लंदन/बीजिंग – चीन के राष्ट्राध्यक्ष शी जिनपिंग की महत्वाकांक्षी योजना ‘बेल्ट ऐण्ड रोड इनिशिएटिव’ (बीआरआय) में मानव अधिकारों का बड़ी मात्रा में उल्लंघन होने का आरोप अंतरराष्ट्रीय अभ्यासगुट ने लगाया है। बीते सात वर्षों के दौरान चीन की हुकूमत ने विश्‍वभर में शुरू किए प्रकल्पों से मानव अधिकारों का उल्लंघन करने के ६७९ मामले सामने आने

इस्रायल से जुडी महत्त्वपूर्ण खबरें

स्रायल की नई सरकार द्वारा हमास पर हुई पहली कार्रवाई जेरूसलम – हमास के आतंकियों ने मंगलवार के दिन इस्रायल के सरहदी क्षेत्र में बलून बम के हमले किए। इसके प्रत्युत्तर में इस्रायल के लड़ाकू विमानों ने हमास के ठिकानों पर कार्रवाई की। दो दिन पहले ही इस्रायल का नियंत्रण स्वीकारने के बाद नफ्ताली बेनेट और येर लैपीड़ के सरकार की गाज़ा पर यह पहली कार्रवाई थी। सत्ता परिवर्तन के

Pakistan-China

पाकिस्तान ने ‘गिलगित-बाल्टिस्तान’ में २० हज़ार सैनिक तैनात किए नई दिल्ली – लद्दाख में चीन ने बड़ी मात्रा में लष्करी तैनाती करके भारत को चुनौती दी है और इसी बीच अब पाकिस्तान ने ‘गिलगित-बाल्टिस्तान’ में २० हज़ार अतिरिक्त सैनिक तैनात किए हैं। इस वज़ह से भारत को एक साथ दो मोरचों पर ध्यान देने के लिए मज़बूर करने की साज़िश इन दोनों देशों ने की होने की बात स्पष्ट हो

रक्षा क्षेत्र से जुडी गतिविधियां

देेश की पहली स्वदेश ड्रोन डिफेन्स डोम सिस्टिम ‘इंद्रजाल’ विकसित नई दिल्ली – हाल ही में जम्मू के वायुसेना के अड्डे पर ड्रोन द्वारा दो आतंकवादी हमले किए गए थे। देश में पहली बार इस प्रकार ड्रोन द्वारा हमले हुए हैं। इससे सुरक्षा यंत्रणा के सामने नईं चुनौतियाँ खड़ी हुईं हैं। इस पृष्ठभूमि पर एक गौरतलब खबर सामने आई है। रोबोटिक्स क्षेत्र में काम करनेवाली ‘ग्रेन रोबोटिक्स’ इस प्राइवेट कंपनी

ballistic-missile-k-4

रक्षादल प्रगत करने के लिए रहेगी सर्वोच्च प्राथमिकता – रक्षादल प्रमुख जनरल बिपीन रावत नई दिल्ली – तीनों रक्षादलों को संतुलित मात्रा में प्रगत करने के लिए अपनी सर्वोच्च प्राथमिकता रहेगी, यह बयान रक्षादल प्रमुख जनरल बिपीन रावत ने किया है| केंद्रीय बजट पेश किया गया है और इसमें रक्षाखर्च के लिए किए प्रावधान पर जनरल रावत ने संतोष व्यक्त किया है| साथ ही जरूरत होने पर रक्षादलों के लिए

दुनिया भर में आतंकवाद का धोखा बढ़ा

तालिबान ने अफगानिस्तान में युद्ध विराम करने की मांग ठुकराई काबुल – अफगानिस्तान में सभी वांशिक समुदाय और गुटों के प्रतिनिधि होनेवाले ‘लोया जिरगा’ ने तालिबान के सामने युद्ध विराम का प्रस्ताव रखा था| लेकिन, तालिबान ने यह प्रस्ताव ठुकराया है| अमरिका ने अफगानिस्तान से पूरी सेना पीछे हटाए बिना युद्ध विराम को तैयार नही होंगे, यह ऐलान तालिबान ने किया है| इस वजह से अफगानिस्तान में युद्धविराम की संभावना

अमरिका और रशिया में बढ़ता तनाव

नाटो का युद्धाभ्यास और विस्तारवाद के विरोध में रशिया आक्रामक मॉस्को/ऑस्लो: नॉर्वे मेश रशिया के सीमा के समिप नाटोने बडी मात्रा मेश शुरू किये युद्धाभ्यास से रशिया तिलमिला उठा है| नाटो के इस युद्धाभ्यास के विरोध में रशियाने आक्रामक भुमिका अपनाई है| इस दौरान रशियन राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमिर पुतिनने नॉर्वे के नजदिकी क्षेत्र में स्वतंत्र अभ्यास करने का घोषित किया है इसीके साथ रशिया के शिर्ष नेताओं ने नाटो के विस्तारवाद

अमरिका सह पश्चिमी देश और रशिया में तनाव बढ़ने के आसार

रशिया की सीमा के पास युद्धाभ्यास के लिए नाटो के ४५ हजार सैनिकों की तैनाती भव्य युद्धाभ्यास में ‘इलेक्ट्रॉनिक वॉरफेअर’ का भी समावेश ब्रुसेल्स/मॉस्को – ‘सेव्हिएत संघराज्य’ के विघटन के बाद का सबसे बड़े युद्धाभ्यास के तौर पर पहचाने जाने वाले ‘ऑपरेशन ट्रायटंड जंक्चर १८’ के लिए नाटो लगभग ४५ हजार सैनिक रशियन सीमा के पास उतरने वाले हैं, यह सामने आया है।रशियन सीमा से जुड़कर स्थित नोर्वे, स्वीडन, फ़िनलैंड,