Search results for “दक्षिण कोरिया”

कोरियन क्षेत्र में तनाव बढ़ा

कोरियन देशों की समुद्री सीमा पर गोलीबारी – कोरियन क्षेत्र में तनाव सेऊल – विवादित समुद्री सीमा का उल्लंघन करने का एक-दूसरें पर आरोप लगाकर उत्तर और दक्षिण कोरियन देशों की नौसेना ने गोलियां बरसायी। १२ साल पहले दोनों कोरियन देशों की नौसेना की इसी क्षेत्र में आमना-सामना होने के बाद गोलियाँ चली थी। इसके बाद दक्षिण कोरिया की नौसेना का जहाज डुबा था। इससे ४६ नाविक मारे गए थे।

बढ़ता महत्त्व

छाबहार और अफ़गानिस्तान पर भारत-ईरान की चर्चा  नई दिल्ली – भारत विकसित कर रहें ईरान के छाबहार बंदरगाह के मुद्दे के साथ ही, अफ़गानिस्तान की स्थिति पर भारत और ईरान की चर्चा हुई। भारत के विदेश सचिव विनय क्वात्रा और ईरान  के राजनीतिक कारोबार विभाग के उपमंत्री अली बाघेरी-कानी ने फोन पर की हुई यह चर्चा ध्यान आकर्षित कर रही है। भारत और रशिया के बीच सामान की यातायात एवं

भारत और अमरीका के बीच बढ़ता तनाव

भारत किसी को भी खूष करने के निर्णय नहीं करेगा – विदेशमंत्री एस.जयशंकर नई दिल्ली – यूक्रैन का युद्ध रोककर चर्चा शुरू करने पर सबका ध्यान केंद्रीत होना चाहिये| इसके लिए भारत ने यूक्रैन युद्ध पर अपनायी भूमिका सबसे बेहतर हैं’, ऐसा कहकर विदेशमंत्री एस.जयशंकर ने फिर एक बार भारत ने अपनायी तटस्थ भूमिका का समर्थन किया| साथ ही यूक्रैन के मुद्दे पर भारत को उपदेश और इशारें दे रहीं

भारत का

श्रीलंका ने भारत से की एक अरब डॉलर्स सहायता की माँग कोलंबो – आर्थिक संकट से घिरे श्रीलंका ने भारत से और एक अरब डॉलर्स के आर्थिक सहायता की माँग की। चीन के विदेशमंत्री के श्रीलंका के दौरे के बाद भारत से की हुई माँग ध्यान आकर्षित कर रही है। श्रीलंका को काफी बडी आर्थिक सहायता प्रदान करने की तैयारी चीन ने दिखाई थी। लेकिन, श्रीलंका के नेतृत्व ने चीन

चीन को

 ताइवान के मसले पर युरोपीय महासंघ का चीन को नया झटका वॉर्सा/तैपेई/बीजिंग – यूरोप के साथ संबंध मजबूत बनाने के लिए ताइवान ‘थ्री सीज् इनिशिएटिव्ह’ में सहभागी हो सकता है, ऐसा दावा पोलैंड के ताइवान में नियुक्त अधिकारी बार्तोस्झ रिस ने किया है। ‘ताइवान यह लोकतंत्रवादी देश होकर, उसकी अर्थव्यवस्था की भी तरक्की हो रही है। यह पृष्ठभूमि ताइवान को युरोपीय देशों का साझेदार बनाने के लिए उचित है’, इन

भारत-अमरिका सहयोग नये मोड़ पर

अमरिकी प्रतिबंधों से ‘चाबहार’ को सहुलियत – भारत ने किया निर्णय का स्वागत वॉशिंग्टन – भारत से विकसित हो रहे ईरान के चाबहार बंदरगाह को अमरिका ने अपने प्रतिबंधों से सहुलियत प्रदान की है| अफगानिस्तान को ईंधन एवं अन्य जरूरी सामान की आपुर्ति करने के लिए यह बंदरगाह उपयोगी साबित हो रहा है और इसी कारण यह सहुलियत देने की जानकारी अमरिका के वरिष्ठ अफसरों ने साझा की है| पर,

ईरान पर डाले प्रतिबंध और बढ़ता तनाव

अमरिका की सागरी हुकूमत को चुनौती देने के लिए ईरान ने की चीन की नौसेना के साथ सहयोग बढाने की तैयारी तेहरान – कडे प्रतिबंधों में फंसे ईरान ने अब चीन ने ‘साउथ चाइना सी’ में किए लष्करीकरण को पूरा समर्थन देकर अमरिका के विरोध में बडा मोर्चा खोलने के संकेत दिए है| साथ ही अमरिका की सागरी हुकूमत को चुनौती देने के लिए ईरान ने चीन की नौसेना साथ

चीन का आक्रामक रुख

चीन के लडाकू विमानों की दक्षिण कोरिया की सीमा में घुसपैठ – दक्षिण कोरिया से कडी आलोचना सेऊल – ‘ईस्ट और साऊथ चाइना सी’ पर हक जताकर जापान और आग्नेय एशियाई देशों के साथ बने संबंधों में तनाव निर्माण कर रहे चीन ने अब दक्षिण कोरिया को भी उकसाया है| चीन के लडाकू और लष्करी गश्ती विमानों ने दक्षिण कोरिया के हवाई क्षेत्र में घुसपैठ करने की तादाद दुगनी की

चीन के खिलाफ अमरीका के आक्रामक तेवर

‘साउथ चाइना सी’ में गश्त को लेकर चीन अमरिका को नहीं धमका सकता – अमरिकी रक्षामंत्री जेम्स मैटिस सिंगापुर – ‘अमरिका और मित्र देशों की साउथ चाइना सी के समुद्री और हवाई गश्त को चीन रोक नहीं सकता। चीन की धमकी के बाद भी अमरिका की इस क्षेत्र में कार्रवाई जारी रहने वाली है और अमरिका पीछे हटने वाला नहीं है। साथ ही इस क्षेत्र के चीन के सैन्यकरण को

कोरियन क्षेत्र में गतिविधियां तेज हुई

उत्तर कोरिया के दक्षिण कोरिया एवं जापान पर परमाणु हमले मे २० लाख लोगों की जान जायेंगी- अमरीका के अभ्यासगट का डर वॉशिंगटन: कोरियन क्षेत्र मे तनाव बढ़ रहा है और उत्तर कोरिया ने चर्चा के लिए तैयार न होने की बात घोषित की है। तथा अमरीका दक्षिण कोरिया एवं जापान से भड़काऊ गतिविधियां होने पर इन देशों पर परमाणु हमला करने की धमकी भी उत्तर कोरिया ने दी है।