दुनिया भर में आतंकवाद का धोखा बढ़ा

तालिबान ने अफगानिस्तान में युद्ध विराम करने की मांग ठुकराई

काबुल – अफगानिस्तान में सभी वांशिक समुदाय और गुटों के प्रतिनिधि होनेवाले ‘लोया जिरगा’ ने तालिबान के सामने युद्ध विराम का प्रस्ताव रखा था| लेकिन, तालिबान ने यह प्रस्ताव ठुकराया है| अमरिका ने अफगानिस्तान से पूरी सेना पीछे हटाए बिना युद्ध विराम को तैयार नही होंगे, यह ऐलान तालिबान ने किया है| इस वजह से अफगानिस्तान में युद्धविराम की संभावना खतम हुई है और तालिबान हमलों का भयंकर सत्र शुरू करेगी, यह संकेत प्राप्त हो रहे है|

पिछले कुछ दिनों से अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में ‘लोया जिरगा’ की बैठक शुरू थी| ‘लोया जिरगा’ यह अफगानिस्तान में सबसे बडी बैठक मानी जाती है| इस बैठक में अफगानिस्तान में सभी दलों के नेता, गुटों के प्रमुख, वांशिक और धार्मिक गुटों के नेता शामिल होते है| इस बैठक में होनेवाले निर्णय सभीयों को स्वीकारना होता है| इस वजह से अफगानिस्तान में ‘जिरगा’ की बैठक को काफी बडा सियासी महत्व होता है| वर्तमान की इस बैठक में कुल ३,२०० नेता, गुट प्रमुख और महिला भी शामिल हुई थी| अबतक हुई ‘लोया जिरगा’ की बैठक में महिलाओं को प्रवेश नही था| लेकिन, पहली बार महिलाओं को भी इस बैठक में शामिल किया गया है|

आगे पढे :  http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/taliban-rejects-demand-loya-jirga/

पाकिस्तान आतंकवाद छोडेगा नही – सीआईए के भूतपूर्व संचालक का तर्क

वॉशिंगटन – ‘मसूद अजहर’ को संयुक्त राष्ट्रसंघ की सुरक्षा परिषद ने आतंकी घोषित करने के बाद पाकिस्तान ने उसकी संपत्ति जब्त की है| साथ ही पाकिस्तान ने ‘अजहर’ के सफर करनेपर भी पाबंदी लगाई है| लेकिन, यह कार्रवाई हो रही थी तभी अमरिका की गुप्तचर संस्था ‘सीआईए’ के भूतपूर्व संचालक मायकेल मॉरेल ने पाकिस्तान संबंधी सटिक प्रतिक्रिया दर्ज की है| ‘भारत के विरोध में आतंकियों का हथियारों की तरह इस्तेमाल करना पाकिस्तान की नीति है और पाकिस्तान यह नीति कभी भी छोडना मुमकिन नही है’, ऐसा मॉरेल ने कहा है|

‘भारत से अपने अस्तित्व को खतरा है, यह समझ पाकिस्तान ने रखी है| इस वजह से पाकिस्तान की सभी नीति भारत को केंद्र में रखकर बनाई गई है| वास्तव में भारत ने पाकिस्तान पर रखा लक्ष हटाकर अपनी आर्थिक प्रगती करने पर ध्यान केंद्रीत किया है| लेकिन, पाकिस्तान यह बात स्वीकारने के लिए तैयार नही| इसी लिए पाकिस्तान शिक्षा से ज्यादा खर्च परमाणु अस्त्र और सेना पर कर रहा है| पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था निम्नतम स्तर पर पहुंची है| इस देश में युवाओं के लिए नौकरिया नही है| साथ ही शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह तबाह हुई है| इस वजह से पाकिस्तान के अधिकांश बच्चे चरमपंथीयों के मदरसों में शिक्षा पा रहे है’, इस बात पर मायकेल मॉरेल इन्होंने ध्यान केंद्रीत किया है|

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/pakistan-not-leave-terrorism/

‘आईएस’ के प्रमुख बगदादी ने नए विडीओ के जरिए दी फ्रान्स और मित्रदेशों पर हमलें करने की धमकी

कैरो – इराक-सीरिया में संघर्ष शुरू करके संपूर्ण विश्‍व में ‘खिलाफत’ का अमल करने संबंधी ऐलान करनेवाले आतंकी ‘आईएस’ संगठन का प्रमुख ‘अबू बक्र अल-बगदादी’ ने अपने समर्थकों को उकसाया है| श्रीलंका में चर्च और पंचतारांकित होटल पर आतंकी हमलें करवा कर सीरिया में हुई हार का बदला लेने का दावा बगदादी ने किया| इसके साथ ही बगदादी ने अब अपने समर्थकों को उकसाने की कोशिश में इराक-सीरिया में हुई हार का बदला लेने के लिए ‘आईएस’ को अब फ्रान्स के साथ मित्रदेशों पर हमलें करने के लिए कहा| पाच वर्ष के बाद ‘बगदादी’ का यह विडीओ प्रसिद्ध हुआ है और इशके पहले उसकी मौत होने के दावे करनेवाले कई समाचारों की भी चर्चा शुरू हुई है|

वर्ष २०१४ में इराक के मोसूल शहर में एक प्रार्थनास्थल पर ‘बगदादी’ का विडीओ प्रसिद्ध हुआ था| इसके बाद अपने समर्थकों को उकसाने के लिए ‘बगदादी’ के ऑडीओ प्रसिद्ध होते रहे थे| साथ ही अमरिका और मित्रदेशों के हवाई हमलों में ‘बगदादी’ के मारे जाने के दावे भी सामने आ रहे थे| वर्ष २०१७ में इराक और सीरिया की सीमापर हुए हवाई हमलों में बगदादी अपने साथियों के साथ मारे जाने की खबरे भी प्रसिद्ध हुई थी| कुछ ही महीने पहले सीरिया ‘आईएस’ के प्रभाव से मुक्त होने का ऐलान अमरिका ने किया था|

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/is-chief-baghdadi-warns-attack-france/

केरला में बडे आतंकी हमले की साजिश का पर्दाफाश

नई दिल्ली – श्रीलंका में चर्च और पंचतारांकित होटल में बम धमाके और आत्मघाती हमलें करनेवाला आतंकी ‘जहरान हाशिम’ से प्रेरित हुए एक युवक को ‘एनआईए’ ने गिरफ्तार किया है| ‘रियास ए’ नाम का यह युवक श्रीलंका में हुए आतंकी हमलों की तरह भारत में भी बडा आतंकी हमला करने के षडयंत्र को अंजाम देने के लिए काम कर रहा था| उसकी गिरफ्तारी से बडी अनहोनी टल चुकी है और उससे की जा रही जांच से आतंकियों के अन्य षडयंत्रों की भी जानकारी उजागर हुई है|

अप्रैल २८ के रोज केरला में कासरगोड और पल्लाकड में ‘एनआईए’ ने छापे किए थे| इस दौरान तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया| उनके पास से आपत्ति जनक सामान बरामद किया गया| यह तिनों युवक भारत में मौजूद ‘आईएस’ के मोड्युल से जुडे होने की बात प्राथमिक जांच में स्पष्ट हुई| पल्लकड से गिरफ्तारी हुई ‘रियास ए’ यानी रियास अबू बकर उर्फ अबू दुजाना ने जांच के दौर बडी साजिश के लिए काम करने की कबुली दी है| श्रीलंका में आतंकी हमला करके २५० से अधिक लोगों की बलि लेनेवाला ‘जहरान हाशिम’ मेरा हिरो है, ऐसा रियास ए ने जांच अधिकारियों को बताया| केरला में आत्मघाती हमलें करके हमें भी ऐसी ही खलबली मचाने की इच्छा थी, यह कबुली रियास ए ने दी है|

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/busted-plot-big-terror-attack-kerala/

Related Post

Leave a Reply