Home / Pravachans of Bapu / Hindi Pravachan / ‘ॐ लं’ का जाप करते हुए जमीन पर नंगे पाव चलना चाहिए (Walk barefoot on the Earth, Chant Lam) – Aniruddha Bapu

‘ॐ लं’ का जाप करते हुए जमीन पर नंगे पाव चलना चाहिए (Walk barefoot on the Earth, Chant Lam) – Aniruddha Bapu

परमपूज्य सद्‍गुरु श्री अनिरुद्ध बापू ने २८ एप्रिल २०१६ के पितृवचनम् में  ‘ॐ लं’ का जाप करते हुए जमीन पर नंगे पाव चलना चाहिए, इस बारे में बताया।

Aniruddha Bapu told in his Pitruvachanam dated 28 Apr 2016 that Walk barefoot on the Earth, Chant Lam

‘ॐ लं’ का जाप करते हुए जमीन पर नंगे पाव चलना चाहिए (Walk barefoot on the Earth, Chant Lam) – Aniruddha Bapu

जो गलत ions, ions यानी क्या बोलते हैं पोटॅशियम (K+), क्लोराईड (Cl-), ये जो ions हैं, फ़्री ions, हमारी बॉडी में जो रहते हैं, वो बहुत हार्म करते हैं, हमारे शरीर को बहुत तकलीफ पहुँचा सकते हैं। लेकिन जब हम जमीन पर चलते हैं, नंगे पाव, तो अर्दिंग (Earthing) होकर चलते हैं। ये सारे विद्युत् भारित कण हैं ना, वो अपने आप जमीन में चले जाते हैं और हमारा शरीर क्लीन होता है। वैसे ही ‘ॐ लं’ बीज का उच्चारण करने से भी हमें यही फायदा मिलता है। और वही देखिये, अब आप यहां चल रहे हैं, अभी समझो ये कापड तो अच्छा कंडक्टर है, कोई प्रॉब्लेम नहीं है…।

हम लोग जमीन पर नंगे पाव चलने से दिन में या हफ्ते में भी आधा घंटा चलें, तो ये अर्दिंग (Earthing) होता है  and it is very good for the body. अब उसी समय अगर आप लोग जप कर रहे हैं, ‘ॐ लं, ॐ लं, ॐ लं’ तो क्या होगा? आपका मूलाधार चक्र और भी स्ट्रॉंग बनेगा। लेकिन हम आज लोग चलते ही नहीं, चलते हैं तो शूज पहनकर ही चलते हैं, और पैर में थोडी सी भी मिट्टी लगी तो बाप रे क्या क्या क्या…

हम लोग तो बचपन में खेलते थे ना, मैं भी कुछ गवार नही हूं, मुंबई का रहनेवाला हूं। आज कल थोडा सा कुछ आ गया ना मायक्रोस्कोपिक तो डॉक्टर डॉक्टर डॉक्टर… कितना खून बह गया! अरे, एक बूँद भी नहीं बहा। बच्चों को डरपोक बनाते हैं हम लोग। फायदा नहीं ये सब का। मैं ऐसा नही बोल रहा हूं कि जखम हो गया तो मिट्टी लगाओ, नहीं, ऐसा नहीं बोल रहा हूं। I am a doctor. हम लोग मिट्टी पर पर चलना चाहिये। इसलिये बोल रहा हूं।

मिट्टी का, जमीन का कॉन्टॅक्ट हमारी बॉडी के साथ बहुत आवश्यक है। लेकिन बम्बई में मिट्टी है कहां! रोड पर नहीं तो अपने घर के बाजू में कम से कम जो थोडा पार्ट है वो भी अच्छा कंडक्टर होता है इलेक्ट्रोन्स का। उस पर चलके देखिये। हफ्ते में सिर्फ आधा घंटा। आपकी सेहत बहुत अच्छी रहेगी। और तब अगर आप ‘ॐ लं ॐ लं ॐ लं’ ये जप करेंगे या ये प्रदक्षिणा सुनेंगे तो उससे आपको और भी फायदा होगा।

‘ॐ लं’ का जाप करते हुए जमीन पर नंगे पाव चलना चाहिए, इस बारे में हमारे सद्गुरु अनिरुद्ध बापू ने पितृवचनम् में बताया, जो आप इस व्हिडिओ में देख सकते हैं।


॥ हरि ॐ ॥ ॥ श्रीराम ॥ ॥ अंबज्ञ ॥

My Twitter Handle

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*