अमरीका और भारत का पाकिस्तान पर बढ़ता दबाव

अमरिका से अरबों डॉलर्स लूटकर भी पाकिस्तान ने अमरिका के लिए कुछ नही किया – राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प

 

खाड़ी क्षेत्र में संघर्ष की संभावना बढ़ीवॉशिंगटन/इस्लामाबाद – अमरिका से अरबो डॉलर्स ऐंठने के बाद भी पाकिस्तान ने अमरिका के लिये अल्प मात्रा में भी काम किया नही है। उल्टा अल कायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन पाकिस्तान की सेना की अकैडमी के पास पूरी तरह सुख में रह रहा था, इन कडे शब्दों में अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प इन्होंने पाकिस्तान को लक्ष्य किया है। इस पर पाकिस्तान से प्रतिक्रिया प्राप्त हुई है और ट्रम्प यह अफगानिस्तान में मिली असफलता के लिये पाकिस्तान को जिम्मेदार ना बताए, यह पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इम्रान खान इन्होंने कहा है। साथ ही अमरिका के आतंक विरोधी जंग में पाकिस्तान जैसा त्याग करने वाले अन्य किसी दुसरे देश का नाम ट्रम्प इन्हें बताना संभव है क्या, यह सवाल भी इम्रान खान इन्होंने किया है।

एक अमरिकी न्यूज चैनल से बात करते समय राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प इन्होंने आतंक विरोधी जंग में पाकिस्तान ने अब तक किये विश्‍वासघात के उपर कठोरता से प्रहार किया। पाकिस्तान ने अबतक अमरिका से सालाना १.३ अरब डॉलर्स की सहायता प्राप्त की है। लेकिन, इस के बदले में पाकिस्तान ने अमरिका लिये जरा भी काम नही किया है, ऐसा कहकर अपने प्रशासन ने पाकिस्तान की आर्थिक सहायता रोकने के विषय में लिये निर्णय का समर्थन किया। आतंक विरोधी जंग में पाकिस्तान अमरिका के नही, बल्कि आतंकियों के पक्ष में खडा रहा, यह लांछन लगाकर राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने ओसामा बिन लादेन पाकिस्तान में ही छिपा था, यह दाखिला दिया। पाकिस्तान की मिलिटरी अकैडमी के बाजू में ही लादेन बडी सुख में रह रहा था। पाकिस्तान में सभी यह जानते थे, यह आरोप राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने किया।

आगे पढ़े : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/pakistan-did-nothing-america/

पाकिस्तान को भारत विरोधी गतिविधियों की सजा मिलेगी – भारत के वरिष्ठ सेना अधिकारी से चेतावनी

 

खाड़ी क्षेत्र में संघर्ष की संभावना बढ़ीउधमपूर – भारत की हानि करने की गतिविधियो रोकी नही, तो उसकी सजा भुगतनि पडेगी, ऐसी कडी चेतावनी भारतीय सेना के उत्तरी कमांड के लेफ्टनंट जनरल रणबीर सिंग इन्होंने दिया है। युद्धविराम का भंक कर रहे पडोसी देशों को भारत ने इसके पहले भी कडा जवाब दिया है, इसकी याद भी उत्तरी कमांड के प्रमुख ने इस दौरान दिलाई। जम्मू-काश्मीर में जम्मू के नजदीक नियंत्रण रेखा पर पिछले कुछ दिन से शुरू पाकिस्तानी सेना की गतिविधियों की पृष्ठभुमि पर लेफ्टनंट जनरल रणबीर सिंग इनके इस चेतावनी का बडा महत्त्व है।

जम्मू-कश्मीर नियंत्रण रेखा पर राजौरी और पुंछ जिले में पिछले दो दिन में भारतीय सेना के तीन जवान शहीद हुए है। पाकिस्तानी सेना की ‘स्नायपर्स’ने कि गोलीबारी में इन जवानों को शहादत प्राप्त हुई, यह सामने आया है। इस घटना को लेकर भारतीय सेनाने गंभीरता से दखल ली है। लेफ्टनंट जनरल रणबीर सिंग इनकी चेतावनी यही दर्शाती है। इसके पहले नियंत्रण रेखा पर युद्धविराम का भंग करने पर पाकिस्तान को भारतीय सेना ने करारा जवाब दिया था। अब भी यहां तैनात जवानों को ऐसे ही आदेश दिये गये है, यह जानकारी लेफ्टनंट जनरल रणबीर सिंग इन्होंने दी।

आगे पढ़े : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/pakistan-get-punishment-anti-india-activities/

पाकिस्तान आतंकियों पर कर रही कार्यवाही असंतोषजनक – अमरिकी विदेश मंत्रालय की आलोचना

 

खाड़ी क्षेत्र में संघर्ष की संभावना बढ़ीवॉशिंग्टन – आतंकवाद विरोधी युद्ध में पाकिस्तान पर्याप्त कार्रवाई नहीं कर रहा। पाकिस्तान इस अग्रणी पर अधिक कार्यवाही करें, ऐसी अपेक्षा अमरिका के विदेश मंत्रालय के आतंकवाद विरोधी विभाग ने व्यक्त की है। एक समय पर पाकिस्तान ने अलकायदा जैसे आतंकवादी संघटना पर कार्रवाई की थी, वैसी कार्रवाई हक्कानी नेटवर्क एवं लष्कर-ए-तैयबा पर करें, ऐसी अपेक्षा अमरिका ने व्यक्त की है और फिलहाल इस अग्रणी पर पाकिस्तान निराश कर रहा पै, ऐसी टिप्पणी उन्होंने लगाई है।

अमरिका के विदेश मंत्रालय के आतंकवाद विरोधी विभाग के समन्वय नेथन एलेग्जेंडर सैलस ने पाकिस्तान आतंकवादियों पर कठोर कार्रवाई नहीं कर रहा, ऐसा आरोप किया है। अमरिकन कॉंग्रेस के सुनवाई में बोलते हुए सैलस ने एक समय पर पाकिस्तान ने आतंकवादियों के विरोध में अच्छी कार्यवाही की थी, इस की याद दिलाई थी। विशेष रूप से ९/११ आतंकवादी हमले के बाद अमरिका को आतंकवादियों पर कार्रवाई करने के लिए पाकिस्तान ने बहुत बड़ी सहायता की थी। उस समय पाकिस्तान ने अलकायदा को लक्ष्य किया था, वैसी कार्रवाई अब हक्कानी नेटवर्क और लष्कर और अन्य आतंकवादी संगठनों पर करे, ऐसा सैलस ने कहा है।

आगे पढ़े : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/action-pakistani-terrorists-unsatisfactory/

विश्‍वभर की आतंकी हमलों का उगमस्थल और केंद्र एक ही जगह – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इनकी पाकिस्तान पर कडी आलोचना

 

खाड़ी क्षेत्र में संघर्ष की संभावना बढ़ीसिंगापूर – विश्‍वभर हो रहे सभी आतंकी हमलो का उगम स्थल और केंद्र एक ही जगह पर मिलते है, इन गिने चुने शब्दों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन्होंने पाकिस्तान पर मर्मभेदी हमला किया है। अमरिकी उपराष्ट्राध्यक्ष माईक पेन्स इनके साथ हुई चर्चा के दौरान भारतीय प्रधानमंत्रीने पाकिस्तान को मलिन किया, यह जानकारी विदेश सचिव विजय गोखले इन्होंने दी। सिंगापूर में ‘ईस्ट एशिया समिट’ की पृष्ठभुमि पर अमरिकी उपराष्ट्राध्यक्ष पेन्स और प्रधानमंत्री मोदी इनके बीच चर्चा हुई। साथ ही प्रधानमंत्री मोदी इन्होंने थायलंड, ऑस्ट्रेलिया और सिंगापूर के राष्ट्रप्रमुखों के साथ द्विपक्षिय चर्चा की।

अमरिका के उपराष्ट्राध्यक्ष और प्रधानमंत्री मोदी में हुई चर्चा में भारत-अमरिका रक्षा सहयोग, इंडो-पसिफिक, द्विपक्षिय व्यापार सहित अन्य मुद्दों पर प्रधानता से विचार हुआ। इस दौरान अमरिकी उपराष्ट्राध्यक्ष पेन्स ने मुंबई पर हुए २६/११ के आतंकी हमले का १० वा स्मृति दिन नजदिक है, यह संदर्भ दिया। इस पर विश्‍वभर में हो रहे हमलों का केंद्र एकही जगह है, इसकी याद दिलाने पर उपराष्ट्राध्यक्ष पेन्स ने प्रधानमंत्री मोदी के प्रति आभार जताया। पाकिस्तान का सीधा नामोल्लेखन किये बिना प्रधानमंत्री ने इसी देश में आतंकवाद का केंद्र है, यह तमाचा जडा।

आगे पढ़े : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/origin-terrorist-attacks-around-world/

Related Post

Leave a Reply