त्रिविक्रम मठ – पुणे एवं वडोदरा

माता जगदंबा और सद्‍गुरु श्रीअनिरुद्ध के कृपाशीर्वाद से, श्रावणी सोमवार के मंगल दिन, यानी दिनांक ३ सितम्बर २०१८ को, पुणे तथा वडोदरा में स्थापित होनेवाले त्रिविक्रम मठों के लिए शंख, ताम्हन, पीतांबर, तीर्थपात्र एवं तसवीरें श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌ में प्रदान की गयीं। अत्यंत भक्तिमय, प्रसन्न और हर्षोल्लासपूर्ण वातावरण में, संस्था के महाधर्मवर्मन डॉ. योगींद्रसिंह तथा डॉ. विशाखावीरा जोशी के हाथों, ये आध्यात्मिक चीज़ें त्रिविक्रम मठ के लिए श्रद्धावानों को सुपुर्द की गयीं। इस समारोह के लिए पुणे से लगभग ६५ श्रद्धावान और वडोदरा से लगभग ४५ श्रद्धावान श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम् में उपस्थित थे।


गुरुवार दिनांक ६ सितम्बर २०१८ को पुणे एवं वडोदरा में त्रिविक्रम मठ की स्थापना की गयी।

स्थापना के समय की गयी प्रार्थना में, मंगलाचरण, श्रीगुरुक्षेत्रम् मंत्र, श्रीरामरक्षा स्तोत्र, श्रीआदिमाता शुभंकरा स्तवनम्, त्रिविक्रम ध्यानमंत्र एवं त्रिविक्रम स्तोत्र, त्रिविक्रम के १८ वचन और त्रिविक्रम का सार्वभौम मंत्रगजर किया गया। उसके पश्चात् उपस्थित श्रद्धावानों ने ‘अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य’ को अनुभव करते हुए विभिन्न गजर कर जल्लोष किया। इस समारोह के क्षणचित्र हम इस व्हिडिओ में देख सकते हैं।

अब अन्य कई जगहों पर भी, जैसे कि जळगाँव, औरंगाबाद, मिरज-सांगली, अमळनेर तथा बोरिवली (मुंबई) में त्रिविक्रम मठ की स्थापना करने के लिए श्रद्धावानों के ज़ोरदार प्रयास शुरू हो चुके हैं।

त्रिविक्रम मठ स्थापना – पुणे

त्रिविक्रम मठ स्थापना –  वडोदरा 

। हरि ॐ । श्रीराम । अंबज्ञ ।
। नाथसंविध्‌ ।

मराठी

Related Post

Leave a Reply