तृतीय महायुद्ध से जुडी मह्त्वपूर्ण गतिविधियां

‘साउथ चाइना सी’ और ‘वेस्टर्न पसिफ़िक’ में शुरू हुआ चीन का हवाई अभ्यास मतलब युद्ध की रिहर्सल – चीनी हवाई दल की घोषणा

बीजिंग: “’साउथ चाइना सी’ और ‘वेस्टर्न पसिफ़िक’ समुद्री क्षेत्र में चीन की वायुसेना ने शुरु किया हुआ अभ्यास मतलब आगे आने वाले युद्ध की रिहर्सल है”, ऐसी घोषणा चीन के वायुसेना ने की है। दो दिनों पहले अमरिकी नौसेना की विनाशिका ने चीन के निर्माण किए कृत्रिम द्वीप के पास गश्त लगाई थी। उसे प्रत्युत्तर देने का चीन ने इशारा दिया था। सदर हवाई अभ्यास यह चीन के प्रत्युत्तर का ही हिस्सा दिखाई दे रहा है।

 

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/china-air-force-drills-south-china-sea-western-pacific-rehearsals-war/

रशिया की अफगानिस्तान में स्थित तालिबान को शस्त्रसहायता – अमरिका के अफगान कमांड प्रमुख का आरोप

काबुल: ‘रशिया अफगानिस्तान में अस्थिरता निर्माण कर रहा है। रशिया तालिबान के आतंकवादियों को हथियारों की आपूर्ति कर रहा है और इसके लिए ताजिकिस्तान की सीमारेखा का इस्तेमाल कर रहा है’, ऐसा आरोप अफगानिस्तान में स्थित अमरिकी कमांड प्रमुख ‘जनरल जॉन निकोल्सन’ ने किया है। उन्होंने इसके लिए अफगानी नेतओंने दी हुई जानकारी का प्रमाण दिया है। लेकिन रशिया ने अमरिका इन आरोपों को ख़ारिज किया है।

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/russia-arms-taliban-allege-us-commander-afghanistan/

सिरियन लष्कर के ईस्टर्न घौता के हमले में ५९ ढेर

दमास्कस: सीरिया की राजधानी दमास्कस के पास ईस्टर्न घौता मैं सिरियन लष्कर के हवाई हमले में ५९ लोग ढेर हुए हैं| इनमें बच्चों का भी समावेश होकर इस हमले पर सीरिया के सिविल डिफेंस ने कड़ी टीका की है| संयुक्त राष्ट्रसंघ एवं अमरिका के साथ अन्य प्रमुख देश सीरिया ईस्टर्न घौता में हो रहे हमले रोके, ऐसा इशारा दे रहे हैं| संयुक्त राष्ट्रसंघ की सुरक्षा परिषद में सिरियन सल्तनत पर वंशसंहार का आरोप करके उसके विरोध में कार्रवाई का प्रस्ताव अमरिका एवं मित्रों ने प्रस्तुत किया था| रशिया ने उस से इंकार करके सिरियन सल्तनत को फिर एक बार बचाया है| इसकी वजह से महीने भर के कालखंड में १२०० से अधिक लोगों की जान लेने वाले ईस्टर्न घौता में संघर्ष रुकने की आशंका धुसर हो रही है|

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/59-killed-syrian-army-attack-eastern-ghouta/

जेल से छूटनेवाले कट्टरपंथी यूरोप में आतंकी हमला करेंगे- यूरोपीय गुप्तचर यंत्रणा का इशारा

ब्रुसेल्स: यूरोपीय देशों के कारावास से छूटने वाले कट्टरपंथी एवं आतंकवादी यूरोप की सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा हो सकते हैं, ऐसा इशारा गुप्तचर यंत्रणा ने दिया है| ब्रिटेन, फ्रान्स, बेल्जियम, स्पेन ऐसे कई यूरोपीय देशों के कारावास से सैकड़ों कट्टरपंथी एवं आतंकवादी आनेवाले समय में छोड़े जाएंगे और उनसे यूरोप में नए आतंकवादी हमले हो सकते हैं, ऐसा गुप्तचर अधिकारी ने सूचित किया है| पिछले हफ्ते में यूरोपीय महासंघ के यूरोप के सुरक्षा यंत्रणा ने भी यूरोप में आतंकवाद के खतरे पर ध्यान केंद्रित किया था|

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/extremists-terrorists-released-prison-attack-europe/

Newscast-Pratyaksha Twitter Handle

Related Post

Leave a Reply