अमरीका और चीन के बीच तनाव कायम

‘ईरान’ की सहायता कर रहीं चीनी कंपनियों पर अमरीका के प्रतिबंध

वॉशिंग्टन – ईरान के हथियार और अन्य लष्करी कार्यक्रमों के लिए सहायता प्रदान कर रही चीन की छह कंपनियों पर अमरीका ने प्रतिबंध लगाए हैं। अमरिकी विदेशमंत्री माईक पोम्पिओ ने इन प्रतिबंधों का ऐलान किया है। कुछ दिन पहले ही संयुक्त राष्ट्रसंघ ने ईरान पर लगाए प्रतिबंधों का अवधि खत्म होने के बाद ईरान को हथियारों की बिक्री करनेवालों पर ही आगे से प्रतिबंध लगाए जाएंगे, यह इशारा अमरीका ने दिया था।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/us-sanctions-on-chinese-companies-helping-iran/

‘क्वाड’ की वजह से बेचैन हुआ चीन दिखा रहा है आसियान के देशों को आमिष

बीजिंग – भारत, अमरीका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के ‘क्वाड’ गुट में शामिल होने के लिए इंडो-पैसिफिक क्षेत्र के देशों की बढ़ रही उत्सुकता की वजह से बेचैन हुए चीन ने अपने पड़ोसी आसियान के देशों से तालमेल जमाने की जोरदार तैयारी की है। चीन के विदेशमंत्री वैंग ई ने आसियान देशों का दौरा शुरू किया है और कोरोना वायरस के टीके की आपूर्ति करने की एवं व्यापारी सहयोग बढ़ाने का आमिष दिखाया है। 

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/china-lures-asean-countries-upset-by-quad/

चीन की चेतावनी के बावजूद अमरिकी विध्वंसक ने लगाई तैवान की खाड़ी में गश्‍त

वॉशिंग्टन/बीजिंग – अमरिकी नौसेना वर्चस्व स्थापित करके उकसाने का काम ना करे, चीन की इस चेतावनी के बाद भी अमरिकी विध्वंसक ने फिर एक बार चीन और तैवान के समुद्री क्षेत्र में प्रवेश किया है। अमरिकी विध्वंसक ‘यूएसएस बैरी’ ने बुधवार के दिन तैवान की खाड़ी में गश्‍त लगाई। बीते छह दिनों में अमरिकी विध्वंसक ने तैवान के समुद्री क्षेत्र में गश्‍त लगाने का यह दूसरा अवसर है। 

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/despite-china-warning-us-destroyer-patrols-the-gulf-of-taiwan/

अमरीका ने तिब्बत के लिए विशेष समन्वयक नियुक्त करने से चीन ने उगली आग

वॉशिंग्टन/ल्हासा – हाँगकाँग और तैवान के मुद्दे पर चीन की कम्युनिस्ट हुकूमत पर दबाव बढ़ाने के बाद अमरीका ने तिब्बत के मुद्दे में हाथ ड़ाला है। अमरीका ने तिब्बत के लिए रॉबर्ट डेस्ट्रो को बतौर विशेष समन्वयक नियुक्त किया है। डेस्ट्रो की समन्वयक के तौर पर की हुई नियुक्ती यानी अमरीका ने तिब्बत के लिए विशेषदूत की नियुक्ती करने जैसा ही है, यह दावा भी किया जा रहा है।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/china-fires-after-us-appoints-special-coordinator-for-tibet/

Related Post

Leave a Reply