Sadguru

Kojagiri Pournima- Important Information

In my earlier blog post, a video clipping of Bapu’s pravachan wherein he had spoken about the importance of staying awake during the night of Kojagiri Pournima was shared.    Many Shraddhavans have enquired whether it is compulsory to stay awake for the whole night. Please note that that staying awake for the whole night is not mandatory and it would suffice if one stays awake only till 3.30 am.

Kojagiri Pournima - Importance of Staying Awake

    Hari Om Dear Friends, Bapu, during his discourse on the auspicious occasion of Dassera, spoke about the importance of staying awake during the night of Ashwin Pournima which is also known as Kojagiri Pournima. On this night, he said, Laxmi Mata, as told by Mahavishnu, travels around the world and makes enquiries wherever she visits – “Ko Jaagarti?” (Who is awake?). Any person who wakes through the night

कल दशहरा था। बापूजी खुद श्रीहरिगुरुग्राम में पधारे और सभी श्रद्धावानों को बापूजी के दर्शनों का लाभ मिला।  संपन्न हुए दशहरे के पावन पर्व की मेरे सभी मित्रों को शुभकामनाएं देते हुए मैं सदगुरु बापूजी के चरणों में यही प्रार्थना करता हूँ कि प्रत्येक श्रद्धावान का सदगुरु चरणों में “विश्वास” दृढ हो।  इस आश्विन नवरात्रि में हम सब ने कई घटनाएं देखीं। इस नवरात्रि के पहले दिन, अर्थात प्रतिपदा के दिन प्रभात समय श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम में

Shraddhavans enjoying Bapu’s presence during Pravachan आज दसरा. आज विजयोपासनेला बापू स्वत: श्रीहरिगुरुग्राम येथे हजर असतील व सर्व श्रद्धावानांना बापूंच्या दर्शनाचा लाभ होईल. माझ्या सर्व मित्रांना दसर्‍याच्या हार्दिक शुभेच्छा. दसर्‍याच्या निमित्ताने प्रत्येक श्रद्धावानाचा सद्‌गुरु चरणी “विश्वास” दृढ व्हावा हीच सदगुरु बापूचरणी प्रार्थना. या आश्र्विन नवरात्रीमध्ये आपण अनेक गोष्टी घडताना बघितल्या. या नवरात्रीच्या पहिल्या दिवशी, म्हणजेच प्रतिपदेला पहाटे श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम येथे श्रीशिवगंगागौरीच्या स्नानाचा सोहळा होवून नवरात्रीला सुरुवात झाली. अनेक श्रद्धावान या

सभी श्रद्धावानों के लिए खुश खबर...Good news to Shraddhavans

Good news to Shraddhavans   नवरात्रि के पावन पर्व पर अर्थात अश्विन नवरात्रि के पहले दिन से श्रद्धावन अधिक प्रसन्नता और उल्हास महसूस करेंगे। उनके लिए तोहफों की बौछार हो रही है। पहले तो हम बड़ी बेसब्री से इन्तजार हो रही CDs Pipasa (पिपासा) , Pipasa 2 (पिपासा २) and Pipasa Pasarli (पिपासा पसरली) को रिलीस कर रहे हैं।   दुसरे, हम अपना सबसे पहला e-commerce website लॉन्च  कर रहे हैं, जो की वास्तव में एक ऑनलाइन बुक पोर्टल है जिसकी वजह