Devotion Sentience

Instagram-Image

Hari Om, I am glad to inform you that we have started Instagram handle of Aniruddha Devotion Sentience website. The front page of the site quotes Bapu saying, “To remain in Devotion Sentience is indeed the one supreme and ultimate purpose of life.” The handle will help Shraddhavans to realise this saying as its an extension to connect with the Aniruddha Devotion Sentience website and to our beloved, the Supreme

'अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य' महासत्संग समारोह के व्हिडीओज्‌ संबंधी सूचना

  हरि ॐ, अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य – महासत्संग समारोह के पश्चात् श्रद्धावान आतुरता से प्रतीक्षा कर रहे थे, इस समारोह के व्हिडीओज्‌ की। श्रद्धावानों की इस माँग को मद्देनज़र रखते हुए ९ फ़रवरी को हमने महासत्संग के पहले सत्र (सेशन) के व्हिडीओज्‌ अपनी www.aniruddha-devotionsentience.com इस वेबसाईट पर उपलब्ध करा दिए हैं। ये व्हिडीओज्‌ सबके लिए खुले तथा विनामूल्य हैं। फिर भी, ऐसा ज्ञात हुआ है कि कुछ लोग ये व्हिडीओज्‌

‘अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य’ महासत्संग समारोह - पहले सत्र (सेशन) के व्हिडियोज्

३१ दिसम्बर २०१९ के ‘अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य’ इस महासत्संग समारोह को संपन्न हुए १ महीने से भी अधिक समय बीत चुका है; मग़र फिर भी इस अनिरुद्ध भक्तिसमारोह में सम्मिलित हुआ हर एक श्रद्धावान भक्त, मन से अभी भी उस सु-दर्शनी समारोह में ही है। इस महासत्संग में अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य में नहाये हुए श्रद्धावान भक्तों के मन में जिस तरह इस समारोह के अनिरुद्ध आनन्द में पुन: पुन: डूब

अनिरुध्द भक्तिभाव चैतन्य

बर २०१९ संपादकीय हरि ॐ सिंह एवं वीरा, अक्टूबर के महीने में हमने अशुभनाशिनी नवरात्रि, विजयादशमी उत्सव, श्री धनलक्ष्मी उत्सव और श्रीयन्त्र पूजन, यह उत्सव मनाये। इसी मास में दिवाली का उत्सव भी मनाये जाने के कारण, वातावरण में आध्यात्मिक परिपूर्णता के अतिरिक्त भी त्यौहार मानने के जोश को चार चाँद लगा गए। श्रीयन्त्र धनलक्ष्मी पूजन उत्सव में भाग लेते समय, सद्गुरु अनिरुद्धजी के श्रद्धावान मित्रों ने लड्डू, चिवड़ा, चकली,

अनिरुध्द भक्तिभाव चैतन्य

November 2019 From the Editor’s Desk   Hari Om Friend, During the month of October, we celebrated Ashubhanashini Navaratri, Vijayadashami Utsav, Shree Dhanalaxmi Utsav and Shree Yantra Poojan. Celebration of Diwali festival in the same month added to the festive fervour over and above the spiritual atmosphere. While attending Shree Yantra Dhanalaxmi Poojan Utsav, Shraddhavan friends of Sadguru Aniruddha donated Diwali faral, delicacies such as ladoos, chivda, chakli, shankarpale, etc.

Aniruddha Bhaktibhav Chaitanya

दि. २५-१०-२०१८ को प्रकाशित हुआ “पिपासा-३” तथा दि. १४-०२-२०१९ को प्रकाशित हुआ “पिपासा-४”, ये दोनों अभंगसंग्रह श्रद्धावानों के लिए सुख और आनन्द का बहुत बड़ा पर्व ही साबित हुए। आज भी इन दोनों प्रकाशन समारोहों की सुखदायी यादों ने श्रद्धावानों के मन में घर बना लिया है। अब गुरुवार दि. २१-११-२०१९ को श्रीहरिगुरुग्राम में “पिपासा-५” इस अभंगसंग्रह का प्रकाशन समारोह आयोजित किया गया है। इस समारोह के दौरान “पिपासा-५” के