Home / Current Affairs / सीरिया में तनाव बढ रहा है

सीरिया में तनाव बढ रहा है

सीरिया में कहीं भी ईरान के खिलाफ हमले करेंगे – इस्राइली प्रधानमंत्री नेत्यान्याहू की चेतावनी

Israel-syriaजेरुसलेम: सिर्फ गोलान पहाड़ियों के सीमा इलाके में ही नहीं, बल्कि सीरिया में जहाँ भी ईरान के लष्करी अड्डे होंगे वहां पर हमले करेंगे, ऐसी चेतावनी इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने दी है। इस्राइल के रक्षामंत्री एविग्दोर लिबरमन रशिया के दौरे पर जाने से पहले, प्रधानमंत्री नेत्यान्याहू ने यह घोषणा करके ईरान के बारे में अपनी भूमिका स्पष्ट की है। सीरिया में ईरान के लष्करी अड्डों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, ऐसा नेत्यान्याहू ने बार बार स्पष्ट किया था। सीरिया में ईरान और ईरान से संलग्न संगठनों के अड्डे अपने देश की सुरक्षा के लिए खतरनाक हैं, ऐसा कहकर इस्राइल ने सीरिया में स्थित ईरान के अड्डों पर हमले करने की धमकी दी थी।

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/israel-can-carry-attacks-in-syria

विदेशी सैनिक सीरिया छोड़कर अपनी मातृभूमि लौट जाए – रशियन विदेश मंत्री की माँग

leave-syriaमॉस्को: विदेशी सेना जल्द से जल्द सीरिया को छोड़ दे, ऐसी चेतावनी रशिया के विदेश मंत्री सर्जेई लावरोव ने दी है। दो दिनों पहले भी लावरोव ने ऐसी ही सूचना दी थी। यह सूचना ईरान के लिए है, यह बात सामने आ रही है और ईरान ने रशिया की इस सूचना पर नाराजगी जताई है। किसी के भी कहने पर ईरान सीरिया से वापस नहीं लौटेगा, ऐसे संकेत ईरान दे रहा है। रशिया के विश्लेषकों की बैठक में बोलते समय रशियन विदेश मंत्री ने सीरिया में ईरान की लष्करी तैनाती की वजह से इस्राइल और ईरान के बीच संघर्ष भडकने की चिंता व्यक्त की है। 

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/foreign-soldier-leave-syria-return-to-their-homeland

जेरूसलेम के बाद अमरिका गोलान को भी मंजूरी दे – इस्राइली गुप्तचर मंत्री की मांग

Israeli-Minister-of-Intelligenceजेरूसलेम – जेरूसलेम को इस्राइल की राजधानी के तौर पर घोषित करने के बाद अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प गोलान पहाड़ियों पर इस्राइल के अधिकार को भी मंजूरी दे, ऐसी मांग इस्राइल के गुप्तचर विभाग के मंत्री इस्राइल कात्झने की है। ऐसा हुआ तो खाड़ी क्षेत्र में ईरान के बढ़ती आक्रामकता रोक सकेंगे, ऐसा दावा कात्झ ने किया है। इस बारे में पहले से अमरिका और इस्राइल के नेताओं में चर्चा शुरू होने की जानकारी कात्झ ने दी है। इस्राइल की सुरक्षा विषय कैबिनेट में प्रमुख सदस्य होनेवाले गुप्तचर मंत्री कात्झ ने एक अंतरराष्ट्रीय वृत्तसंस्था को दिए मुलाकात में गोलान के बारे में खुलासा किया है। सीरिया के सीमारेखा से जुड़े हुए गोलान पहाड़ियों पर इस्राइल का सर्वभौम अधिकार है और वह प्राप्त करने के लिए इस्राइल अधिक गंभीरता से अमरिका से चर्चा कर रही है, ऐसी जानकारी कात्झ ने दी है।

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/approval-of-america-to-golan-after-jerusalem

सीरिया में अमरिकी सेना पर हमला बहुत बड़ी गलती साबित होगी – सीरियन राष्ट्राध्यक्ष की धमकी पर अमरिका की चेतावनी

syria-assad-trumpवॉशिंगटन/दमास्कस – ‘सीरिया में तैनात अमरिकी सेना को किस न किसी रास्ते से सीरिया छोड़ना ही पड़ेगा’, ऐसे सूचक उद्गार सीरिया के राष्ट्राध्यक्ष बशर अल-अस्साद ने निकाले हैं। उनके इस इशारे को ध्यान में रखकर अमरिका ने उस पर कठोर चेतावनी दी है। ‘सीरिया में तैनात अमरिका और मित्र देशों के सैनिकों पर हमला करने का निर्णय सीरिया के किसी भी समूह के लिए बहुत बड़ी गलती साबित होगी’, ऐसी चेतावनी अमरिका के रक्षा दल के निदेशक लेफ्टिनेंट केनिथ मकान्झी ने दी है। सीरिया में घटनाक्रम तेज हुए हैं और राष्ट्राध्यक्ष बशर अल-अस्साद ने अमरिका समर्थक बागियों के साथ जुड़ने के संकेत दिए हैं।

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/attack-us-army-syria-blunder-syrian-president

Newscast-Pratyaksha Twitter Handle

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*