स्वयंभगवान त्रिविक्रम मन्त्रगजर धुन

हरि ॐ,

कुछ ग्रुप्स में स्वयंभगवान त्रिविक्रम का सार्वभौम मन्त्रगजर अलग धुन में पोस्ट किया गया है। इस मन्त्रगजर को अलग धुन में गाने में कोई आपत्ति नहीं है; परन्तु श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्, श्रीत्रिविक्रम मठ, श्रीहरिगुरुग्राम, अन्य सभी श्री अनिरुद्ध उपासना केन्द्र और संस्था के सभी धार्मिक कार्यक्रम इनमें यह मन्त्रगजर मूल (Original) धुन में ही लिया जायेगा, इस बात को सभी श्रद्धावान ध्यान में रखें।


हरि ॐ,

काही ग्रुप्समध्ये स्वयंभगवान त्रिविक्रमाचा सार्वभौम मंत्रगजर वेगळ्या चालीमध्ये पोस्ट केला गेला आहे. या मंत्रगजरास वेगळी चाल लावण्यास हरकत नाही. परंतु, श्री अनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌, श्रीत्रिविक्रम मठ, श्रीहरिगुरुग्राम, इतर सर्व श्री अनिरुद्ध उपासना केंद्र आणि संस्थेचे सर्व धार्मिक कार्यक्रम याठिकाणी मात्र हा मंत्रगजर मूळ (Original) चालीमध्येच घेतला जाईल याची सर्व श्रद्धावानांनी नोंद घ्यावी.

॥ हरि ॐ ॥ ॥ श्रीराम ॥ ॥ अंबज्ञ ॥ ॥ नाथसंविध्‌ ॥

Related Post

Leave a Reply