सुंदरकांड पठन उत्सव – पहला दिन

भी श्रद्धावान जिसकी अत्यधिक प्रतीक्षा कर रहे थे, उस ‘ सुंदरकांड पठन उत्सव ’ की, मंगलवार १७ मई २०१६ से शुरुआत हुई। हनुमानजी तो पहले से ही सभी श्रद्धावानों के लाड़ले देवता हैं; ऊपर से ‘सुंदरकांड’ जैसे, ‘तुलसीरामायण’ के बहुत ही मधुर भाग का पठन, इस तरह यह मानो ‘सोने पे सुहागा’ ही रहनेवाला कार्यक्रम होने के कारण, सुबह से ही श्रद्धावान बड़ी संख्या में पठन में सम्मिलित होने के लिए आ रहे हैं और भक्तिमयी वातावरण में हर्षोल्लास के साथ पठन शुरू है।

इस कार्यक्रम के उपलक्ष्य में मुख्य मंच पर की हुई सजावट बहुत ही नयनरम्य होकर, उसमें रामपंचायतन की मूर्तियाँ एवं हनुमानजी की तसवीर श्रद्धावानों का ध्यान आकर्षित कर रही हैं।

इस परमपवित्र पठन के लिए २७ प्रशिक्षित पुरोहितों के वृंद को आमंत्रित किया गया होकर, वे अत्यधिक प्रेम के साथ और अलग अलग मधुर धुनों में यह पठन अथक रूप में कर रहे हैं।

इस कार्यक्रम के लिए केवल महाराष्ट्र से ही नहीं, बल्कि भारत के अन्य प्रदेशों से भी श्रद्धावान पधार रहे हैं। उनमें से कई जन तो पाँचों दिन इस उत्सव में सम्मिल्लित होने के लिए, ५ दिन की छुट्टी लेकर आये हैं।

इस ‘सुंदरकांड पठन उत्सव’ में पठन करनेवालें श्रद्धावानों के भावविश्‍व में, यह समारोह यक़ीनन ही, सदा के लिए एक चिरंतन मधुर स्मृति बनकर रहेगा!

स्थल: आय.ई.एस. न्यू इंग्लिश हायस्कूल, गव्हर्मेंट कॉलनी, खेरवाडी, बांद्रा (पूर्व), मुंबई – ४०० ०५१

सुंदरकांड पठन 01

सुंदरकांड पठन 02

सुंदरकांड पठन 03

सुंदरकांड पठन 04

सुंदरकांड पठन 05

सुंदरकांड पठन 09

सुंदरकांड पठन 10

For More Photos Visithttps://www.facebook.com/media/set/?set=a.958583060929880.1073742120.279548355500024&type=3

My Twitter Handle

Related Post

4 Comments


  1. Hari om Dada i personally attend sundar kand pathan it was very excellent i cant express in words but my mind was not ready to leave the pathan


  2. Hari Om Dada

    I attended the pathan today with my mother. Within minutes of starting the pathan my mind and heart started to fill with happiness and peace. It was such a wonderful experience, we felt like we should attend it everyday till 21st. The elaborate and detailed floral decoration on the stage is simply spectacular!
    Ambadnya for gifting us with such a wonderful opportunity of attending it. 🙂
    Siyavar Ramchandra ki jai, Pavan sut Hanuman ki jai!

    Hari Om Shreeram Ambadnya


  3. Dada pathan is excellent. I cant express in words but I feel as if it should be never ending. Jai jagdambe jai durge


  4. Hari Om Shreeram Ambadnya !Hari Om Dada ! Each and every single thing done with full of devotion and it directly reaches our soul.Its all P.P.Bapu Aai Dadas Grace .Ambadnya .

Leave a Reply