रशिया से जुडी महत्वपूर्ण गतिविधियां

सबसे अधिक सोने का भंडार रखने वाले देशों की सूची में रशिया की पांचवे स्थान पर छलांग – २,१०० टन सोने के साथ चीन को भी पीछे छोडा

मॉस्को: अमरिका और युरोपीय देशों के प्रतिबंधों का सामना कर रहे रशिया ने पिछले वर्ष में ऐतिहासिक ‘सुनहरा’ मुकाम दर्ज किया है| वर्ष २०१८ में रशिया के सोने का भंडार २,१०० टन तक जा पहुंचा है| विदेशी मुद्रा भंडार में इस सोने का मुल्य ८७ अरब डॉलर्स होने की बात स्पष्ट हुई है| साथ ही दो हजार टन का स्तर पार करके अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सबसे अधिक सोने के भंडार रखनेवाले देशों की सूची में रशिया ने चीन को पीछे छोडकर पांचवे स्थान पर छलांग लेने की बात भी स्पष्ट हुई है|

पिछले कुछ वर्षों में रशिया ने जागतिक अर्थव्यवस्था का अहम हिस्सा रहे अमरिकी डॉलर्स को जाहीर तौर पर चुनौती देना शुरू किया है| कुछ ही महीनों पहले रशिया के राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमीर पुतिन इन्होंने अमरिकी डॉलर्स पर बना भरोसा कम हो रहा है, यह वक्तव्य करके ध्यान आकर्षित किया था| साथ ही दुसरी ओर रशिया ने अमरिकी बॉंड की जोरदार बिक्री करके अपने भंडार से डॉलर की तादात कम करने के लिए कदम भी बढाए थे|

आगे पढ़े :http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/russia-leaps-holding-maximum-gold-surpasses-china/

रशियन लष्करी अधिकारी इस्रायल की यात्रा पर

जेरूसलम – सीरिया में बढ रहे तनाव की पृष्ठभुमि पर रशिया के लष्करी अधिकारियों ने गुरूवार के दिन इस्रायल की यात्रा करके इस्रायली अधिकारियों से भेंट की| सीरिया में शुरू संघर्ष में इस्रायल और रशियन लष्कर के बीच को समन्वय बढाने के लिए इस बैठक में चर्चा होने की जानकारी इस्रायली लष्कर ने दी|

पिछले वर्ष सितंबर महीने में सीरियन लष्कर के हमले में रशिया का लष्करी विमान गिरा था| लेकिन, सीरियन लष्कर की इस कार्रवाई के लिए इस्रायली लडाकू विमानों ने सीरिया में की घुसपैठ कारण होने का आरोप करके रशिया ने इस्रायल के साथ लष्करी सहयोग रोक रखा था|

सीरिया में ‘एस-३००’ यह हवाई सुरक्षा यंत्रणा तैनात करके रशिया ने इस्रायल को चेतावनी भी दी थी| उसके बाद भी इस्रायल ने सीरिया में ईरान, हिजबुल्लाह के ठिकानों पर हमले करके रशिया की हवाई सुरक्षा यंत्रणा भी हमे रोक नही सकती, यह दिखाया था|

आगे पढ़े : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/russian-military-officer-visits-israel/

अंतरिक्ष में मौजूद ‘घातक चीजों’ को हटाने के लिए रशिया की स्वतंत्र योजना

मॉस्को: अंतरिक्ष में लगभग १८ हजार से भी अधिक घातक चीजें मौजूद है और इन्हें हटाने के लिए रशिया ने स्वतंत्र राष्ट्रीय कार्यक्रम तय करने की बात सामने आयी है| रशिया के ‘रशियन अकॅडमी ऑफ सायन्सेस’ (आरएएस) के वरिष्ठ अधिकारी बोरिस शुश्तोव्ह इन्होंने यह जानकारी दी| इस दौरान उन्होंने ऐसी कार्य में फिलहाल अमरिका सबसे आगे होने का जिक्र भी उन्होंने किया|

अमरिका के साथ चीन और रशिया से अतंरिक्ष क्षेत्र में जोरदार गतिविधियां शुरू होने की बात पिछले वर्ष की घटनाओं से स्पष्ट हुई है| रशिया ने चीन की सहायता से अंतरिक्ष में हमला कर सके ऐसी मिसाइल यंत्रणा विकसित करने के दावे भी किए गए थे| लेकिन, इन दोनों देशों ने ऐसे दावे ठुकराए है और अंतरिक्ष क्षेत्र का इस्तेमाल शांति के लिए करने पर कटिबद्ध होने की आश्‍वासन भी दिया है|

आगे पढ़े : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/russia-independent-plan-remove-deadly-things-space/

 

Related Post

Leave a Reply