पिपासा – ४ प्रकाशन सोहळा

हरि ॐ,

नुकताच, गुरुवार दि. २५-१०-२०१८ रोजी श्रीहरिगुरुग्राम येथे ‘पिपासा-३’ अभंगसंग्रह प्रकाशित झाला व सर्व श्रद्धावान समूह अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्यात न्हाऊन निघाला. त्याचप्रमाणे आता गुरुवार, दि.१४-०२-२०१९ रोजी श्रीहरिगुरुग्राम येथे ‘पिपासा-४’ अभंगसंग्रह प्रकाशित होईल, ज्यामध्ये ह्या संग्रहातील १० निवडक अभंग प्रत्यक्ष परमपूज्य अनिरुद्धांच्या उपस्थितीत स्टेजवरून संपूर्ण वाद्यवृंदाच्या साथीने गायले जातील.

‘पिपासा-३’ प्रमाणेच ‘पिपासा-४’ अल्बम सर्व श्रद्धावानांसाठी “अनिरुद्ध भजन म्युझिक” ऍपच्या माध्यमातून त्याच दिवशी उपलब्ध करून देण्याचा आमचा मानस आहे.

पिपासा-३ अभंगसंग्रहाच्या ‘लाईव्ह’ प्रकाशन सोहळ्याच्या सुखद आठवणी श्रद्धावानांच्या मनात अजूनही ताज्या आहेतच. आता ह्या पिपासा-४ अभंगसंग्रह प्रकाशन सोहळ्यातही सर्व श्रद्धावानांना परमपूज्य अनिरुद्धांच्या सान्निध्यात भक्तिभाव चैतन्याचा आनंद पुन्हा लुटता येणार असल्याने ही सर्व श्रद्धावानांकरिता पर्वणीच असेल.

 

—————————————————————–

हरि ॐ,

कुछ दिन पहले, गुरुवार दि. २५-१०-२०१८ के दिन श्रीहरिगुरुग्राम में ‘पिपासा-३’ अभंगसंग्रह का प्रकाशन हुआ और सारा श्रद्धावान समूह अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य में सराबोर हो गया। उसी प्रकार, अब गुरुवार, दि.१४-०२-२०१९ को श्रीहरिगुरुग्राम में ‘पिपासा-४’ अभंगसंग्रह का प्रकाशन होने जा रहा है, जिसमें इस संग्रह के १० चुनिन्दा अभंग प्रत्यक्ष परमपूज्य अनिरुद्धजी की उपस्थिति में, स्टेज पर से पूरे वाद्यवृंद की साथसंगत में गाये जायेंगे।

‘पिपासा-३’ की तरह ही, ‘पिपासा-४’ अल्बम भी सभी श्रद्धावानों के लिए “अनिरुद्ध भजन म्युझिक” ऍप के माध्यम से उसी दिन उपलब्ध करा देने का हमारा विचार है।

पिपासा-३ अभंगसंग्रह के ‘लाईव्ह’ प्रकाशन समारोह की सुखद यादें श्रद्धावानों के मन में अभी भी ताज़ा हैं। अब इस पिपासा-४ अभंगसंग्रह प्रकाशन समारोह में भी सभी श्रद्धावान परमपूज्य अनिरुद्धजी के सान्निध्य में भक्तिभाव चैतन्य का आनंद फिर से उठा सकेंगे, अत: श्रद्धावानों के लिए यह स्वर्णिम अवसर ही होगा।

॥ हरि ॐ ॥ श्रीराम ॥ अंबज्ञ ॥ नाथसंविध् ॥

Related Post

Leave a Reply