Home / Current Affairs / इस्रायल का आक्रामक रवैय्या

इस्रायल का आक्रामक रवैय्या

अगले युद्ध में इस्राइल हिजबुल्लाह प्रमुख को ही लक्ष्य बनाएगा – इस्राइली लष्कर का इशारा

इस्रायल का आक्रामक रवैय्याजेरूसलेम: ‘अगले इस्त्राइल-हिजबुल्लाह के बिच हारजीत के मामले में स्पष्टरूपसे कुछ कहा नहीं जा सकता। लेकिन इस युद्ध में इस्त्रैली लष्कर हिजबुल्लाह प्रमुख ‘हसन नसरल्ला’ को लक्ष्य किए बिना छोड़ेगा नहीं, यह बात स्पष्टरूपसे कही जा सकती है’, ऐसा इशारा इस्त्रैली लष्कर के प्रवक्ता ब्रिगेडीअर जनरल ‘रोनेन मानेलिस’ ने दिया है। इसके पहले ही इस्त्राइल ने हिजबुल्लाह के खिलाफ मानसिक दबाव तंत्र और सोशल मीडिया के माध्यम से युद्ध पुकारने की जानकारी ‘मानेलिस’ ने दी है।

इस्त्राइल के ‘एलात’ शहर में आयोजित की गयी एक बैठक में मानेलिस ने पत्रकारों को हिजबुल्लाह के खिलाफ चल रहे युद्ध की जानकारी दी। वर्तमान में यह युद्ध मानसिक दबाव तंत्र और मीडिया तक ही सीमित है। इसमें से मीडिया द्वारा चल रहे युद्ध में अपने दुश्मन पर प्रभाव बढाने के लिए प्रमुख प्रभाव की मीडिया साथ ही सोशल मीडिया का भी इस्तेमाल किए जाने की जानकारी, मानेलिस ने दी है।

इस्राइल की नौसेना की ओरसे ‘आयरन डोम’ का परीक्षण

इस्रायल का आक्रामक रवैय्याआने वाले समय में हिजबुल्लाह, ईरान, सीरिया और हमास इस्त्राइल के खिलाफ युद्ध पुकार सकते हैं, ऐसा इशारा इस्त्राइल के लष्करी विश्लेषकों ने दिया है। इस पृष्ठभूमि पर, इस्त्राइल ने अपने लष्कर और हवाई दल को सतर्कता के इशारे दिए हैं और भूमध्य समुद्र की चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए इस्त्राइल ने विनाशिका पर ‘आयर्न डोम’ इस स्वदेसी बनावट की मिसाइल भेदी यंत्रणा का परीक्षण किया है।

वर्तमान में इस्त्रैली लष्कर में काम कर रही ‘आयर्न डोम’ यह यंत्रणा लेबनोन, सीरिया साथ ही गाझापट्टी और इजिप्त सीमा के पास तैनात की गई है। मध्यम और छोटे अंतर के मिसाइलों के हमलों को नाकाम करने की क्षमता इस यंत्रणा में है। अब यह यंत्रणा इस्त्राइल ने नौसेना के लिए इस्तेमाल करने किए तैयारी की है और दो दिनों पहले ‘आईएनएस लहाव’ इस विनाशिका से इस यंत्रणा का परीक्षण किया गया है।

अधिक पढिये : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/israel-iron-dome-testing/

गाझापट्टी से हुए मॉर्टर हमले के बाद इस्राइल के गाझा पर हवाई हमले

इस्रायल का आक्रामक रवैय्याजेरूसलेम: इस्त्राइल के टैंक और लड़ाकू विमानों ने गाझापट्टी में किए हवाई हमले में हमास और इस्लामिक जिहाद इन आतंकवादी संगठनों के ठिकानों को नष्ट किया गया है। कुछ घंटों पहले गाझा पट्टी से इस्त्राइल की सीमारेखा पर तैनात सुरक्षा चौकी को को लक्ष्य बनाते हुए आतंकवादियों ने करीब १२ मॉर्टर हमले किए थे। इन मॉर्टर हमलों को प्रत्युत्तर देने के लिए यह हवाई हमले करने की घोषणा इस्त्राइल ने की है।

इस्त्रैली लष्कर के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट जनरल ‘जोनाथन कॉनरिकस’ ने दी जानकारी के अनुसार, गुरुवार को गाझा पट्टी से इस्त्राइल के सीमा इलाके में मॉर्टर हमले हुए हैं। इस जगह पर इस्त्राइल के सैनिक और सीमा क्षेत्र में सुरक्षा दीवार निर्माण कर रहे इस्त्रैली कर्मचारी उपस्थित थे। इन मॉर्टर हमलों में इस्त्रैली लष्कर की जीवितहानि नहीं हुई है, लेकिन इसमें लष्करी चौकियों का बड़ा नुकसान हुआ है।

अधिक पढिये : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/gaza-patti-mortar-attack/

हालही का ईरान हिटलर के नाझी जर्मनी जैसा – इस्राइल के प्रधानमंत्री की टीका

इस्रायल का आक्रामक रवैय्याजेरूसलम: हिटलर के नेतृत्व का जर्मनी और हालही का ईरान इसमें बहुत समानता है। हिटलर के जर्मनी जैसे ईरान की सल्तनत भी ज्यू धर्मियों का संहार करने के लिए वचनबद्ध है, ऐसा कहकर इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने फिर एक बार ईरान पर कड़ी आलोचना की है। ईरान के सर्वोच्च धर्मगुरु अयातुल्ला खामेनी मतलब खाड़ी क्षेत्र में उदय हो रहा नया हिटलर है, यह बात सऊदी अरेबिया के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने कही थी। उस का दाखिला देते हुए इस्राइल के प्रधानमंत्री ने इन आरोपों का समर्थन किया है।

अमरिका के वॉशिंगटन में ‘ब्रूकिंग्स इंस्टिट्यूट’ इस प्रख्यात अभ्यास गटने आयोजित किए सबान परिषद मे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा संबोधित करते हुए नेत्यान्याहू ने ईरान पर जमके टीका की है। हिटलर की जर्मनी और हालही का ईरान इस में समानता है। दोनों सल्तनत ने अपने देशों में आतंक निर्माण किया है। तथा दोनों सल्तनत ज्यू धर्मियों के विनाश के लिए वचनबद्ध हैं, ऐसा इस्राइली प्रधानमंत्री नेत्यान्याहू ने कहा है।

अधिक पढिये : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/iran-hitler-nazi-germany/

इस्रायल के सिरियन राजधानी मे हवाई हमले, ईरान का लश्करी तल तबाह १२ इरानी सैनिक ढेर

इस्रायल का आक्रामक रवैय्यारूसलेम: इस्रायल के लड़ाकू विमानों ने सिरियन राजधानी दमास्कस के पास मिसाइलों से जोरदार हमला किया। इस्रायली विमानों ने किए इस कारवाई में ईरान के लष्करी तल और शस्त्रास्त्र गोदाम नष्ट हुआ है और इस में ईरान के १२ सैनिक ढेर होने का दावा किया जा रहा है। इस हमले के बाद इस्रायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने सिरिया तथा ईरान को संबोधित करके एक इशारा प्रसिद्ध किया है। सिरिया में ईरान की तैनाती और परमाणु सज्जता ईरान, इस्रायल कदापि सहन नहीं करेगा ऐसा नेत्यान्याहू ने सूचित किया है। दौरान लेबनीज वृत्त माध्यम में प्रसिद्ध किए जानकारी के अनुसार इस्रायल ने इस लष्करी तल की दिशा से दागा एक मिसाइल सिरिया में तैनात रशियन मिसाइल भेदी यंत्रणा ने नष्ट किया है।

सिरिया में सरकार से संबंधित जाना और ब्रिटन स्थित मानवाधिकार संगठनों ने दिए जानकारी के अनुसार शनिवार की सुबह सिरियन राजधानी के पास मिसाइलों का भडिमार किया। इस्रायली विमानों ने लेबनॉन की सीमा रेखा में रहकर सिरियन राजधानी पर हमले करने की बात ऑस्ट्रेलियन वृत्त माध्यम ने कही है।

अधिक पढिये : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/air-strikes-israels-syrian-capital/

Newscast-Pratyaksha Twitter Handle

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*