Home / Current Affairs / ईरान का खतरा बढ रहा है

ईरान का खतरा बढ रहा है

ईरान परमाणु पनडुब्बी, जंगी जहाज निर्माण करने की तैयारी में – अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा आयोग का दावा

ईरान का खतरा बढ रहा हैव्हिएन्ना: जल्द ही ईरान परमाणु पनडुब्बी का निर्माण करने वाला है और अपने इस फैसले को ईरान ने अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा आयोग तक पहुँचाया है। इस परमाणु पनडुब्बी के निर्माण के लिए ईरान संवर्धित युरेनियम का इस्तेमाल कर सकता है, ऐसी संभावना अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा योग ने जताई है। परमाणु पनडुब्बी के निर्माण की घोषणा करके, परमाणु अनुबंध के मुद्दे पर अमरिका और मित्रदेशों के नियमों की चौखट में न फंसने के संकेत ईरान ने दिए हैं।

संयुक्त राष्ट्रसंघ के परमाणु ऊर्जाआयोग’ (आयएईए) ने हाल ही में एक त्रैमासिक रिपोर्ट प्रसिद्ध की है। पश्चिमी देश और ईरान के बीच हुए परमाणु अनुबंध का कार्यान्वयन शुरू होने के बाद परमाणु ऊर्जा आयोग ने पेश की हुई यह नौवीं रिपोर्ट है। इस रिपोर्ट की शुरुआत में ही ईरान परमाणु अनुबंध का पालन करा रहा है, ऐसा दावा किया है। लेकिन साथ ही ईरान इस परमाणु अनुबंध की खामियों का फायदा उठा रहा है, ऐसा इशारा भी परमाणु ऊर्जा आयोग ने दिया है।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/iran-prepares-build-nuclear-submarine/

ईरान खाड़ी देशों में छिपा युद्ध भड़का रहा है- अमरिका, ब्रिटन और फ़्रांस का आरोप   

ईरान का खतरा बढ रहा हैलंडन: सीरिया और येमेन के अपने समर्थकों को शस्त्रसज्ज करके ईरान खाड़ी में छिपा युद्ध भडकाने की कोशिश में हैं, ऐसा आरोप अमरिका और मित्रदेशों ने लगाया है। अमरिका, ब्रिटन और फ़्रांस ने संयुक्त राष्ट्रसंघ की सुरक्षा परिषद को दिए हुए प्रस्ताव में ईरान के खिलाफ यह शिकायत की है। अमरिका और मित्रदेशों ने किए इन आरोपों पर ईरान के राष्ट्राध्यक्ष हसन रोहानी ने टीका की है।

कुछ दिनों पहले संयुक्त राष्ट्रसंघ के विशेष पथक ने सीरिया और येमेन के बीच के संघर्ष की अलग अलग रिपोर्ट प्रसिद्ध की थी। येमेन के हौथी बागियों को ईरान हथियारों की आपूर्ति करता है, ऐसे सबूत राष्ट्रसंघ के पथक ने प्रस्तुत किए थे। साथ ही सीरिया के संघर्ष में ईरान ने बड़े पैमाने पर हथियारों की मदद करने के संकेत इस पथक ने दिए थे। इसके अलावा लेबेनॉन में ईरान ने मिसाइलों का कारखाना शुरू करने की संभावना भी जतायी जा रही है।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/iran-ignite-war-middle-east-allege-us-britain-france/

आवश्यकता के अनुसार इस्रायल सीधे ईरान पर भी हमला करेगा – इस्रायल के प्रधानमंत्री का इशारा

ईरान का खतरा बढ रहा हैम्युनिक: ‘ईरान वैश्विक सुरक्षा के लिए खतरनाक देश है। ईरानी राजवट के आतंकवाद का फंदा इस्रायल के गले में जकड़ने नहीं दूंगा। खाड़ी देशों के ईरान समर्थकों पर इस्रायल हमले करता रहेगा। आवश्यकता हुई तो इस्रायल सीधे ईरान पर भी हमला करेगा’, ऐसा इशारा इस्रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने दिया है। जर्मनी के म्युनिक शहर में चल रही अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षा बैठक के अवसर पर प्रधानमंत्री नेत्यान्याहू ने खाड़ी में ईरान की गतिविधियों पर आपत्ति जताई।

पिछले हफ्ते इस्रायल की सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे ईरान के ड्रोन को इस्रायली लष्कर ने गिराया था। इस ड्रोन के टुकड़े लेकर इस्रायली प्रधानमंत्री नेत्यान्याहू म्युनिक की बैठक के मंच पर खड़े हुए। इस बैठक को उपस्थित ईरान के विदेश मंत्री जावेद झरीफ की दिशा में ड्रोन के तुके को हाथ में ऊँचा उठाकर ‘श्रीमान झरीफ, आपने इस टुकड़े को पहचाना क्या?’, ऐसा सवाल इस्रायली प्रधानमंत्री ने पूछा। ‘आपको इस टुकड़े को पहचानना ही होगा क्योंकि यह आपके ही ड्रोन का हिस्सा है। इस टुकड़े को अपने सत्ताधारियों के पास लेकर जाईए और उन्हें इस्रायल के संयम की परीक्षा न लें, इस इस्रायल के सन्देश को पहुंचाइए’, इन शब्दों में नेत्यान्याहू ने ईरान को डांटा है।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/israel-directly-attack-iran-warns-israel-pm/

Newscast-Pratyaksha Twitter Handle

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*