भारत और पाकिस्तान में तनाव

भारत और पाकिस्तान में राजनितिक संघर्ष

India-Pakistanनई दिल्ली/ इस्लामाबाद : भारत में पाकिस्तान के दूतावास में अधिकारी एवं उनके परिवार को तकलीफ दी जा रही है, ऐसा आरोप पाकिस्तान ने किया है| परिस्थिति ऐसी ही रही तो पाकिस्तानी अधिकारियों के परिवार को अपने देश वापस बुलाया जाएगा, ऐसा इशारा देकर पाकिस्तान ने इसका निषेध किया है| इस पर भारत से प्रतिक्रिया आई है और पाकिस्तान का आरोप झूठा होने का आरोप भारतने किया है| वास्तव में पाकिस्तान में स्थित भारतीय राजनैतिक अधिकारियों को तकलीफ देने की बात शुरू हुई है और उसके विरोध में भारत ने शिकायत जताई थी, इसपर भारत ने ध्यान केंद्रित किया है|

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/india-pakistan-political-conflict-harassment

भारत का ‘डर्टी बॉम्ब’ पर विश्वास नहीं रक्षामंत्री निर्मला सीतारामन की पाकिस्तान को टिपण्णी

nirmala sitaramanनई दिल्ली: परमाणु शस्त्र प्रसार बंदी को भारत अत्यंत गंभीरता से ले रहा है| पड़ोसी देशों की तरह भारत का ‘डर्टी बॉम्ब’ पर विश्वास नहीं है, ऐसा कहकर रक्षामंत्री निर्मला सीतारामन ने पाकिस्तान पर टिप्पणी लगाई है| भारत को पाकिस्तान के साथ तनाव बढ़ाने में स्वारस्य नहीं है, पर पाकिस्तान ने अपनी भूमि आतंकवादी कार्यवाहियों के लिए इस्तेमाल नहीं होगी, यह दिखाना होगा, ऐसी अपेक्षा रक्षा मंत्री सीतारामन ने व्यक्त की है| नई दिल्ली में एक पुस्तक प्रकाशन के कार्यक्रम में रक्षामंत्री सीतारामन बोल रही थी| भारत ने परमाणु अस्त्र प्रसार बंदी करार पर हस्ताक्षर नहीं किए हैं| 

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/india-nt-believe-dirty-bomb

पाकिस्तान का छुपा युद्ध आगे चलकर भी शुरू रहेगा – लष्कर प्रमुख जनरल रावत का इशारा

army-chief-general-bipin-rawatनई दिल्ली: पाकिस्तान ने भारत के साथ छेड़ा हुआ छुपा युद्ध आगे चलकर भी शुरू रहेगा, ऐसा कहकर लष्कर प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने देश को सजग रहने का संदेश दिया है| उस समय आर्थिक एवं लष्करी सामर्थ्य बड़े तादाद में बढ़ाने के लिये आक्रामक हुए चीन को रोकने के लिए सारी दुनिया भारत की तरफ आशा से देख रही है, ऐसा महत्वपूर्ण विधान लष्कर प्रमुख ने किया है| उस समय रक्षा के लिए किया जाने वाला खर्च मतलब वित्त व्यवस्था पर भार न होकर वह अत्यावश्यक बात होने का दावा जनरल रावत ने किया है| 

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/pakistan-continue-hidden-war-warns-bipin-rawat 

भारत एवं पाकिस्तान में राजनीतिक संघर्ष तीव्र; पाकिस्तान में भारत के उच्चायुक्त को वापस बुलाया

Indo-Pak-political-conflictनई दिल्ली/इस्लामाबाद: भारत में अपने राजनैतिक अधिकारियों को तकलीफ दी जा रही है, ऐसा आरोप करनेवाले पाकिस्तान ने अपने उच्च आयुक्त को वापस बुला लिया है, तथा पाकिस्तान स्थित इस्लामाबाद में भारतीय राजनीतिक अधिकारियों को इस मामले में समन्स भेजा है| पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा असिफ ने भारत के साथ संबंध सुधारने की आशंका ना होने की बात कहकर, यह विवाद अधिक भड़काया है| पर पाकिस्तान ने अपने राजदूतों को सलाह मसलत के लिए वापस बुलाने की बात कहकर भारत के विदेश मंत्रालय ने यह आम बात होने का खुलासा किया है|

आगे पढें: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/indo-pak-political-conflict

Newscast-Pratyaksha Twitter Handle

Related Post

Leave a Reply