कोरोना के पृष्ठभूमी पर भारतीय अर्थव्यवस्था गति पकड़ने की तैयारी में

भारत जल्द ही वैश्विक उत्पादन का ऊर्जा केंद्र होगा – प्रधानमंत्री ने जताया भरोसा

नई दिल्ली – भारत में बड़ी माँग के साथ-साथ मज़बूत जनतंत्र और विविधता है और साथ ही स्थिरता भी है, इन शब्दों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैश्विक निवेशकों के सामने भारत में निवेश करने की अहमियत रेखांकित की है। साथ ही भारत जल्द ही वैश्विक उत्पादन का ऊर्जा केंद्र बनेगा, यह विश्‍वास प्रधानमंत्री मोदी ने व्यक्त किया। 

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/india-will-soon-become-a-powerhouse-of-global-production/

जर्मन कंपनी चीन से कारोबार समेट कर भारत पहुँची

लखनौ – जर्मन फुटवेअर कंपनी ‘वॉन वेल्क्स’ ने चीन में स्थित अपना कारोबार समेटकर उत्तर प्रदेश के आग्रा में कारखाना शुरू किया है। इस कंपनी के एक युनिट का उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव आलोक कुमार के हाथों उद्घाटन किया गया। 

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/german-company-wraps-up-business-in-china-in-india/

भारतीय अर्थव्यवस्था में तेज़ी लौट आने का किया विशेषज्ञों ने दावा – पीएमआय निर्देशांक में देखी गई १३ वर्षों की सबसे अधिक वृद्धि

नई दिल्ली – कोरोना के संकट का मुकाबला करने के बाद अब दुबारा तेज़ी लौट रही है और भारतीय अर्थव्यवस्था गति पकड़ने की तैयारी में होने का दावा विशेषज्ञों ने किया है। बीते दो दिनों में अर्थव्यवस्था को लेकर शुभ संकेत देनेवाली कुछ खबरों की ओर इन विशेषज्ञों ने ध्यान आकर्षित किया है। 

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/experts-claim-boom-in-indian-economy/

अक्तुबर में ‘यूपीआय’ के ज़रिये हुए रिकॉर्ड २ अरब से अधिक व्यवहार

नई दिल्ली – कोरोना की वजह से शुरू हुए लॉकडाउन की पृष्ठभूमि पर देश में डिजिटल पेमेंट के व्यवहारों में बढ़ोतरी होने की जानकारी सामने आ रही है। भारत ने स्वतंत्र तौर पर विकसित किए हुए ‘युनिफाईड पेमेंट्स इंटरफेस’ (यूपीआय) के ज़रिये हो रहे व्यवहारों में ध्यान आकर्षित करनेवाली बढ़ोतरी दर्ज़ हुई है। 

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/upi-records-over-2-billion-transactions-in-october/

आठ महीनों में पहली बार ‘जीएसटी’ संकलन एक लाख करोड़ से अधिक हुआ

नई दिल्ली – फ़रवरी के आठ महीनों बाद अक्तुबर में पहली बार देश में ‘जीएसटी’ संकलन एक लाख करोड़ से अधिक हुआ है। यह देश की अर्थव्यवस्था दुबारा पटरी पर आने के स्पष्ट संकेत हैं, ऐसा विश्‍लेषकों का कहना है। बीते वर्ष के अक्तुबर महीने की तुलना में इस वर्ष ‘जीएसटी’ संकलन में १० प्रतिशत बढ़ोतरी ध्यान आकर्षित कर रही है।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/first-time-in-eight-months-gst-revenue-has-crossed-rs-1-lakh-crore/

Related Post

Leave a Reply