जम्मू-कश्मीर से जुडी महत्वपूर्ण गतिविधियां

जम्मू-कश्‍मीर में जैश के आतंकी हमले की साज़िश नाकाम की गई

श्रीनगर – ‘ड्रोन’ के ज़रिए आतंकियों तक हथियार पहुँचाकर बड़ा आतंकी हमला करने की जैश ए मोहम्मद की साज़िश सुरक्षा बलों ने नाकाम की। बीते कुछ दिनों में जम्मू-कश्‍मीर की नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा क्षेत्र में ड्रोन के ज़रिए हथियार पहुँचाने की पाकिस्तान की कोशिशों में बढ़ोतरी हुई है। यह सुरक्षा बलों के सामने अब बड़ी चुनौती साबित होने की बात कहकर जम्मू-कश्‍मीर की पुलिस ने सुरक्षा यंत्रणा को अलर्ट रहने की सूचना दी है।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/intrigue-of-jaish-terror-attack-in-jammu-and-kashmir-foiled/

जम्मू-कश्‍मीर के किश्‍तवार में मौजूद ‘रनवे’ को सक्रिय किया जाएगा

श्रीनगर – जम्मू-कश्‍मीर प्रशासन और सेना के बीच सामरिक नज़रिए से अहम समझौता किया गया है। केंद्र सरकार की ‘उड़ान’ योजना के तहत जम्मू-कश्‍मीर के किश्‍तवार में ‘एअरस्ट्रिप’ सक्रिय की जाएगी। किश्‍तवार ज़िला लद्दाख, हिमाचल प्रदेश की सीमा से करीब होने से सामरिक नज़रिए से इस ज़िले की अहमियत बड़ी है। साथ ही लद्दाख में भारत और चीन के बीच तनाव के दौरान किश्‍तवार में ‘रनवे’ सक्रिय होना बड़ी अहम घटना साबित होती है।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/runway-present-in-kishtwar-of-jammu-and-kashmir-to-be-activated/

जम्मू-कश्‍मीर में अधिवास का दाखिला देने के अधिकार नायब तहसीलदार को प्रदान

श्रीनगर – जम्मू-कश्‍मीर में नए अधिवास कानून के तहत प्रदान हो रहे अधिवास के दाखिले मंजूर करने के अधिकार अब नायब तहसीलदार को प्राप्त हुए हैं। इससे पहले यह अधिकार सिर्फ तहसीलदार के हाथों में थे। बीते साढ़े तीन महीनों में जम्मू-कश्‍मीर में १६.७९ लाख लोगों को अधिवास का दाखिला मंजूर होने की जानकारी हाल ही में प्रसिद्ध हुई थी। नायब तहसीलदार को भी अधिवास का दाखिला मंजूर करने के अधिकार प्राप्त होने से यह प्रक्रिया अधिक तेज़ होगी।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/rights-to-issue-domicile-to-deputy-tehsildar-in-jammu-and-kashmir/

कश्‍मीर की नियंत्रण रेखा के करीब भारतीय सेना की अतिरिक्त तैनाती

नई दिल्ली – पाकिस्तान से हो रही आतंकियों की घुसपैठ रोकने के लिए भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा के करीब सेना की ब्रिगेड़ यानी ३,००० सैनिक तैनात किए हैं। सेनाप्रमुख जनरल मनोज मुकूंद नरवणे के जम्मू-कश्‍मीर दौरे के दो दिन बाद तुरंत ही यह तैनाती की गई है। बीते कुछ दिनों से पाकिस्तान भारतीय सीमा पर गोलीबारी कर रहा है और पाकिस्तान से बड़ी मात्रा में युद्धविराम का भंग किया जा रहा है।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/additional-deployment-of-indian-army-near-the-line-of-control-in-kashmir/

जम्मू-कश्‍मीर के लिए ८,००० करोड़ रुपयों के पैकेज़ का ऐलान

श्रीनगर – कोरोना वायरस के संकट की वजह से आर्थिक समस्याओं का मुकाबला कर रहे जम्मू-कश्‍मीर के उद्योग क्षेत्र के लिए उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने ८,००० करोड़ रुपयों के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया है। इसमें से १,३५० करोड़ रुपयों का पैकेज़ जम्मू-कश्‍मीर के उद्योग क्षेत्र के लिए घोषित किया गया हैं। इस पैकेज से आत्मनिर्भर भारत को लाभ होगा, यह विश्‍वास भी सिन्हा ने व्यक्त किया। 

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/jammu-and-kashmir-announces-rs-8000-crore-package/

Related Post

Leave a Reply