सभी श्रद्धावानों के लिए खुश खबर…Good news to Shraddhavans

Good news to Shraddhavans

पिपासा 

वरात्रि के पावन पर्व पर अर्थात अश्विन नवरात्रि के पहले दिन से श्रद्धावन अधिक प्रसन्नता और उल्हास महसूस करेंगे। उनके लिए तोहफों की बौछार हो रही है।
पहले तो हम बड़ी बेसब्री से इन्तजार हो रही CDs Pipasa (पिपासा) , Pipasa 2 (पिपासा २) and Pipasa Pasarli (पिपासा पसरली) को रिलीस कर रहे हैं।
 
दुसरे, हम अपना सबसे पहला e-commerce website लॉन्च  कर रहे हैं, जो की वास्तव में एक ऑनलाइन बुक पोर्टल है जिसकी वजह से श्रद्धावान ई-बुक्स, जैसे कृपासिंधु (अंग्रेजी और गुजराती), डॉ अनिरुद्ध धैर्यधर जोशी (अनिरुद्ध बापू) द्वारा लिखा हुआ ‘तीसरा महायुद्ध’, आपदा व्यवस्थापन की पाठ्यपुस्तक (अनिरुद्धास अकैडमी ऑफ़ डिजास्टर मैनेजमेंट द्वारा संचालित सर्टिफिकेट कोर्स के लिए हवाला पुस्तक) ऑर्डर कर सकते हैं।
मैंने स्वयं इस साईट का नाम और वेब एड्रेस मेरे ब्लॉग और फेसबुक अकाउंट से (www.aanjaneyapublications.com) यह घोषित कर दिया है।

हमारी कोशिश चल रही है कि हम इन पुस्तकों को स्थूल रूप से भी पहुंचा सकें और इस दिशा में हर मुमकिन कोशिश की जा रही है। हम उम्मीद करते हैं कि श्री दत्त जयंती के दिन से यह सेवा शुरू होगी। वर्तमान भुगतान गेटवे नेट बैंकिंग तथा डेबिट कार्ड द्वारा किताबें मंगवाने का ऑफ़र देता है। अगले महीने के अंत से क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने का विकल्प शुरू होने की सम्भावना है।

 

Related Post

Leave a Reply