Home / Current Affairs / यूरोप में शरणार्थियों का संकट और गहरा हुआ

यूरोप में शरणार्थियों का संकट और गहरा हुआ

शरणार्थियों की वजह से यूरोपीय संघ टूटने की दहलीज पर – यूरोपियन कमीशन के उपाध्यक्ष की चेतावनी

Breakup-of-the-EUब्रूसेल्स – यूरोपीय महासंघ टूटकर उसका विघटन होगा, ऐसी कल्पना ५ वर्षों पहले किसी ने भी नहीं की थी, पर आने वाले समय में अविश्वसनीय लगने वाली यह बात अब यूरोपीय संघ के बारे में होने की संभावना है, ऐसे शब्दों में यूरोपीय कमीशन के उपाध्यक्ष फ्रांस टीमरमैन्स ने, महासंघ के टूटने की दहलीज पर होने की सनसनीखेज चेतावनी दी है| यूरोपीय संघ के टूटने के लिए शरणार्थियों की घुसपैठ महत्वपूर्ण मुद्दा हो सकता हैं, ऐसा इकबालिया बयान टीमरमैन्सने दिया है| शरणार्थियों के मुद्दे पर संघ के प्रमुख देश होनेवाले जर्मनी, फ्रांस, इटली, स्पेन और ऑस्ट्रिया इन सभी देशों ने आक्रामक भूमिका ली है और संघ के वरिष्ठ नेताओं से ऐसे प्रकार के बयान आना गंभीर बात मानी जा रही है|

आगे पढे: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/eu-on-the-threshold-of-the-breakdown-of-refugees

जर्मनी की सीमा से शरणार्थियों को वापस भेज देंगे – चांसलर मर्केल की सहकारी पार्टी ‘सीएसयू’ की धमकी

Horst-Seehoferबर्लिन – जर्मनी की सरहद से शरणार्थियों को वापस भेज देंगे, ऐसी धमकी जर्मनी की सत्तारूढ़ मोर्चे की ‘ख्रिश्चन सोशल यूनियन’ (सीएसयू) पार्टी ने दी है| ‘ख्रिश्चन सोशल यूनियन’ (सीएसयू) के नेता और जर्मनी के अंतर्गत रक्षा मंत्री होर्स्ट सिहोफर ने चांसलर मर्केल को शरणार्थियों के बारे में ‘मास्टर प्लान’ स्वीकार करने के लिए महीने के आखिर तक का अवधि दिया है| इस समय सीमा का पालन नहीं किया गया तो शरणार्थियों को खदेड़ने के मामले में एकतरफा ऐलान करने की चेतावनी सिहोफर ने दी है| इस वजह से लाखों शरणार्थियों के लिए जर्मनी के दरवाजे खोलनेवाली मर्केल की सरकार के दिन भरने की चर्चा शुरू हुई है|

 आगे पढे: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/germany-send-refugees-back-from-border

‘अवैध शरणार्थियों के उद्योग’ को इटली साथ नहीं देगा – इटली के अंतर्गत रक्षा मंत्री मॅटिओ सॅल्व्हिनी की कठोर चेतावनी

रोम: कुछ दिनों पहले ६३० शरणार्थियों को लेकर जाने वाले जहाज को नकारने वाले इटली ने फिर एक बार इस मुद्देपर आक्रामक भूमिका अपनाई है। इटली के अंतर्गत रक्षा मंत्री मॅटिओ सॅल्व्हिनी ने शरणार्थियों को लेकर आने वाले नेदरलैंड के दो जहाजों को प्रवेश नकारने की जानकारी दी है। यह जानकारी देते समय, इटली अवैध शरणार्थियों के उद्योग को साथ नहीं देगा, ऐसी कठोर चेतावनी भी दी है। पिछले हफ्ते में इटली की सरकार ने ‘एसओएस मेडिटेराने’ इस स्वयंसेवी संस्था के ‘ऍक्वारिअस’ इस जहाज को इटली के बंदरगाह में प्रवेश करने से इन्कार किया था।

italy

आगे पढे: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/italy-will-not-support-illegal-refugees-occupation

 

Newscast-Pratyaksha Twitter Handle

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*