श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌, गुरुकुल-जुईनगर, गोविद्यापीठम्‌, श्रीअतुलितबलधाम और सभी त्रिविक्रम मठ दर्शन हेतु बंद रखने का निर्णय

हरि ॐ,

शनिवार, दि. ०७ मार्च २०२० को संस्था ने, फिलहाल दुनियाभर में तेज़ी से फ़ैल रहे कोरोना वायरस, “कोविद – १९” के सिलसिले में श्रद्धावानों को एक महत्त्वपूर्ण सूचना भेजी थी; जिसमें सावधानता और जागरूकता के उपाय के रूप में, हर गुरुवार श्रीहरिगुरुग्राम में होनेवाली और शनिवार को विभिन्न स्थानों पर उपासना केंद्रों में होनेवाली सामूहिक उपासना, अगली सूचना मिलने तक बंद रखने का निर्णय सूचित किया था।

इसी सिलसिले में अब विद्यमान परिस्थिति को मद्देनज़र रखते हुए संस्था ने, सभी तीर्थक्षेत्र (श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌-खार, मुंबई, गुरुकुल-जुईनगर, नयी मुंबई, गोविद्यापीठम्‌-कोठिंबे, कर्जत, श्रीअतुलितबलधाम-रत्नागिरी) और सभी त्रिविक्रम मठ आज से दर्शन हेतु बंद रखने का निर्णय लिया है।

इस सन्दर्भ में, परिस्थिति के अनुसार समय समय पर जो कुछ निर्णय लिये जायेंगे, वे सभी श्रद्धावानों को सूचित किये जायेंगे।

जैसा कि पहले की सूचना में नमूद किया था, यहाँ पर भी श्रद्धावानों को फिर एक बार बताया जा रहा है कि इस निर्णय से किसी को भी डरने की आवश्यकता नहीं है। साथ ही, इस मामले में किसी भी प्रकार की ग़लत खबरें अथवा अफ़वाहें ना फ़ैलायें, क्योंकि यह सारी कार्यवाही सावधानता एवं जागरूकता के उपाय के रूप में ही की जा रही है।

इस निर्णय से सभी सहयोग करें और ऊपर नमूद किये हुए तीर्थक्षेत्रों में और त्रिविक्रम मठों में कोई भी दर्शन के लिए ना जायें, यह श्रद्धावानों से नम्र विनती है।

——————————————————————-

हरि ॐ,

शनिवार, दि. ०७ मार्च २०२० रोजी संस्थेने सध्या जगभर वेगात पसरत असलेल्या कोरोना वायरस, “कोविद – १९” च्या अनुषंगाने श्रद्धावानांना एक महत्त्वाची सूचना पाठविली होती ज्यामध्ये सावधानतेचा आणि जागरूकतेचा उपाय म्हणून दर गुरुवारी श्रीहरिगुरुग्राम येथे होणारी व शनिवारी ठिकठिकाणी उपासना केंद्रांवर होणारी सामूहिक उपासना पुढील सूचना मिळेपर्यंत बंद ठेवण्याचा निर्णय कळविला होता.

त्याच अनुषंगाने आता सद्य परिस्थिती ध्यानात घेऊन संस्थेने सर्व तीर्थक्षेत्र (श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌-खार, मुंबई, गुरुकुल-जुईनगर, नवी मुंबई, गोविद्यापीठम्‌-कोठिंबे, कर्जत, श्रीअतुलितबलधाम-रत्नागिरी) आणि सर्व त्रिविक्रम मठ आजपासून दर्शनासाठी बंद ठेवण्याचा निर्णय घेतलेला आहे.

ह्याबाबतीत परिस्थितीनुरूप वेळोवेळी जे काही निर्णय होतील, ते सर्व श्रद्धावानांना कळविले जातील.

आधीच्या सूचनेत नमूद केल्याप्रमाणेच इथेही श्रद्धावानांना पुन्हा एकदा सूचित केले जात आहे की हा निर्णय वाचून कोणीही घाबरण्याची आवश्यकता नाही, तसेच ह्याबाबतीत कोणत्याही प्रकारची चुकीची बातमी किंवा अफवा पसरवू नये कारण ही सर्व कार्यवाही सावधानतेचा आणि जागरूकतेचा उपाय म्हणून करण्यात येत आहे.

ह्या निर्णयास सर्वांनी सहकार्य करावे आणि वर नमूद केलेल्या तीर्थक्षेत्री आणि त्रिविक्रम मठांच्या ठिकाणी कोणीही दर्शनासाठी जाऊ नये ही श्रद्धावानांना नम्र विनंती.

II हरि ॐ II श्रीराम II अंबज्ञ II
II नाथसंविध्‌ II

Related Post

Leave a Reply