चीन का खतरनाक ‘वुहान वायरस’

चीन के ‘वुहान व्हायरस’ के डर से जागतिक शेअर बाजार समेत ईंधन के दामों में गिरावट

लंदन/वॉशिंग्टन/बीजिंग: चीन समेत दुनिया के अलग अलग देशों में फैल रहे ‘वुहान व्हायरस’ का झटका अंतरराष्ट्रीय अर्थव्यवस्था को भी लगा है| चीन में मरिजों की संख्या में तेजी से बढोतरी होने से निवेशकों में चिंता का माहौल बना है और सोमवार के दिन अमरिका और यूरोप समेत एशियाई शेअर बाजार में भारी गिरावट देखी गई| शेअर बाजार के अलावा ईंधन के दामों में भी गिरावट हो रही है और इसी बीच ईंधन के दाम प्रति बैरल ६० डॉलर्स से भी निचे गए है| साथ ही सुरक्षित निवेश के लिए चुने जा रहे सोने के दरों में बढोतरी होना शुरू हुआ है| ऐसे में सोने के दाम प्रति औंस १,६०० डॉलर्स तक जाने की संभावना जताई जा रही है|

जनवरी महीने के शुरू में चीन में ‘वुहान व्हायरस’ के बीमारी फैलने की जानकारी सामने आयी थी| शुरू में यह बिमारी एक शहर तक सीमित होने के दावे चीन की यंत्रणा कर रही थी| पर, अब लगभग महीना पूरा हो रहा है तभी ‘वुहान व्हायरस’ तेजी से फैल रहा है और इसकी जडें मालूम करने में चीन की यंत्रणा सफल नही हो सकी है| साथ ही इस बिमारी पर नियंत्रण रखने की चीन की कोशिश भी अभी सफल नही हो सकी है और इस कार दुनिया भर में चिंता और डर का माहौल बन रहा है|

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/fuel-rates-slide-stock-markets-fears-wuhan-virus-epidemic/

‘वुहान व्हायरस’ के कारण चीन ने किया १४ शहरों में ‘लॉकडाउन’

बीजिंग/वुहान: पिछले चार हफ्तों से चीन के साथ दुनिया भर में डर का माहौल तैयार करनेवाली ‘वुहान व्हायरस’ की बिमारी से अबतक २६ लोगों की मौत हुई है| सीर्फ चीन में ही ‘वुहान व्हायरस’ की चपेट में आए मरिजों की संख्या ८३० तक जा चुकी है| चीन के अलावा आठ देशों में ‘वुहान व्हायरस’ के ८५० से भी अधिक मरिज देखे गए है| चीन में फैले इस बिमारी का दायरा काफी तेजी से बढ रहा है और ‘वुहान व्हायरस’ को रोकने के लिए सरकार ने ‘हुबेई’ और ‘हेबेई’ प्रांत के १४ शहरों को ‘लॉकडाउन’ किया है| इस निर्णय से इन शहरों में रह रहे चार करोड से भी अधिक लोगों की मुश्किल हो रही है|

चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी ‘वुहान’ में इस नई बिमारी के जडें पायी गई थी| ‘वुहान’ की जनसंख्या एक करोड से भी अधिक है और इस में विदेश लोगों की भी मौजुदगी होने से यह बिमारी काफी तेजी के साथ फैल रही है और चीन सरकार इतना कडा निर्णय करने के लिए विवश हुई है| चीन में फरवरी के शुरू में चिनी नए वर्ष का उत्हास बना रहता है| इसी दौरान ‘वुहान व्हायरस’ की बिमारी ने सनसनी फैलानी शुरू करने से चीन की जनता के मन में काफी खलबली है|

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/chinese-wuhan-virus-lockdown-in-14-cities/

चीन के ‘वुहान व्हायरस’ के चपेट में २०० से भी अधिक लोग होने की बात चीन की यंत्रणा ने स्वीकारी

बीजिंग – चीन में देखे गए ‘वुहान व्हायरस’ का दायरा धीरे धीरे बढ रहा है| चीन की सरकार ने भी इस विषाणु की बाधा हुए लोगों की संख्या में बढोतरी होने की बात स्वीकारी है| पिछले हफ्ते के अंत तक चीन इस नए विषाणु से पीडित मरिज सीर्फ वुहान शहर में ही होने की बात कहकर इन मरिजों की संख्या करीबन ५० तक होने का दावा कर रहा था| पर, अंतरराष्ट्रीय स्तर से बनें दबाव के कारण चीन को इस बिमारी का दायरा बढने की बात स्वीकार करनी पडी है और इस बिमारी के चपेट में फंसे लोगों की संख्या २०० से भी अधिक होने की बात चीन ने स्वीकार की है|

पीछले महीने में चीन के वुहान शहर में न्युमेनिया के अज्ञात विषाणु से बिमारी फैलने की बात स्पष्ट हुई थी| इस विषाणु का मुल क्या है एवं इससे संबंधित अधिक जानकारी सामने नही आ रही थी| इस कारण एशियाई देशों में घबराहट का माहौल बना था| चीन की यंत्रणा ने इस विषाणु से संबंधित जानकारी छिपाने की कोशिश करने से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इससे नाराजगी जताई जा रही थी| जागतिक स्वास्थ्य संगठन ने चीन सरकार को पुरी जानकारी प्रदान करने के लिए निवेदन किया था|

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/patients-infected-with-wuhan-virus/

चीन में ‘वुहान व्हायरस’ की बिमारी का दायरा बढा

बीजिंग: चीन के वुहान शहर से शुरू हुए अज्ञात विषाणु की बिमारी का दायरा अब बढने की बात स्पष्ट हो रही है| चीन की सरकारी यंत्रणा इस विषाणु से बाधित हुए लोगों की संख्या ४५ बता रही है, फिर भी सच्चाई में यह संख्या १,७०० से भी अधिक होने का दावा किया जा रहा है| फिलहाल ‘वुहान व्हायरस’ इस नाम से पहचाने जा रहे इस विषाणु की बिमारी से चीन में दो लोगों की मौत हुई है और जापान एवं थायलैंड में भी इस बिमारी के रुग्ण देखे गए है| इसी पृष्ठभूमि पर अमरिका और भारत इन दोनों देशों ने अपने नागरिकों को चीन की यात्रा से बचने की सलाह दी है|

चीन के वुहान शहर में न्युमोनिया के अज्ञात विषाणु की बिमारी फैलने की बात सामने आयी है और इस की चपेट में आए ४५ लोगों को अस्पतालों में दाखिल किया गया है| इनमें से दो लोगों की मौत हुई है और १० से भी अधिक लोगों की स्थिति गंभीर होने की बात कही जा रही है| शहर के ‘सीफूड मार्केट’ के क्षेत्र से इस विषाणु का फैलाव शुरू होने की प्राथमिक जानकारी जांच से सामने आयी है| चीन की यंत्रणा इस बारे में अधिक जानकारी घोषित नही कर रहे है और इस वजह से डर का माहौल भी बना है| जागतिक स्वास्थ्य संगठन ने भी इस मुद्दे पर चिंता व्यक्त की है|

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/chinese-wuhan-virus-epidemic/

Related Post

Leave a Reply