Hindi

Aniruddha Gurukshetram

हरि ॐ, मागील आठवड्यात ठरल्याप्रमाणे, रविवार, दि. २० मे २०१८ ते रविवार दि. २७ मे २०१८ ह्या कालावधीत, काही महत्त्वाच्या मेन्टेनन्सच्या कामानिमित्ताने श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌ श्रद्धावानांकरिता बंद ठेवण्यात आल्याचा निर्णय सर्व श्रद्धावानांना कळविण्यात आला होता. मात्र ठरलेले मेन्टेनन्सचे काम अपेक्षित वेळेच्या आधीच पूर्ण झाल्यामुळे, श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌ उद्या, म्हणजे मंगळवार, दि. २२ मे २०१८ पासून सर्व श्रद्धावानांसाठी दर्शनास खुले राहील. दि. २२ मे २०१८ पासून श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌ येथील जलाभिषेक, पंचोपचार पूजन, श्रीरुद्र सेवा, श्रीदत्तकैवल्य याग सेवा, श्रीरामरसायन पठण, इ. सर्व विधी व

you-make-impossible-possible

हरि ॐ, दैनिक ‘प्रत्यक्ष’चे कार्यकारी संपादक डॉ. अनिरुद्ध धैर्यधर जोशी विश्रांतीसाठी सुट्टीवर असल्यामुळे, त्यांचे ‘तुलसीपत्र’ मालिकेतील अग्रलेख गुरुवार दि. २४ मे २०१८ ते रविवार दि. ३ जून २०१८ ह्या कालावधीत प्रकाशित होणार नाहीत. त्याऐवजी ह्या कालावधीमध्ये ‘वैभवलक्ष्मीचे व्रत – भाग १ ते ५’ हे डॉ. अनिरुद्ध धैर्यधर जोशी लिखित अग्रलेख पुनर्मुद्रित करण्यात येतील. हरि ॐ, दैनिक ‘प्रत्यक्ष’ के कार्यकारी संपादक डॉ. अनिरुद्ध धैर्यधर जोशी विश्राम के लिए छुट्टी पर होने

भारत की रक्षाविषयक सज्जता

मालदीव के सागरी क्षेत्र में भारत और मालदीव के नौदल की संयुक्त गश्ती माले: हिंद महासागर में मालदीव के विशेष आर्थिक क्षेत्र में भारत और मालदीव के नौदल संयुक्त गश्ती करने वाले हैं पिछले कई वर्षों में मालदीव पर चीन का प्रभाव बढ़ा है। तथा ३ महीनों में मालदीव में इमरजेंसी के बाद यह देश चीन के पक्ष से अधिक झुकता दिखाई दे रहा है। इस पृष्ठभूमि पर दोनों देशों

भगवान त्रिविक्रम गजराबाबत सूचना

हरि ॐ, मागच्या गुरुवारी श्रीहरिगुरुग्राम येथे सूचना केल्याप्रमाणे, परमपूज्य सुचितदादांनी भगवान त्रिविक्रमाचा एक अत्यंत सुंदर जप सर्व श्रद्धावानांना भेट म्हणून दिलेला आहे. आजच्या गुरुवारी, म्हणजे दि. १७ मे २०१८ रोजी श्रीहरिगुरुग्राम येथे नेहमीच्या उपासनेनंतर हा जप गजर स्वरूपात सर्व श्रद्धावानांसमोर सादर केला जाईल. मात्र कोणालाही हा गजर रेकॉर्ड करण्याची परवानगी नाही; रेकॉर्डिंगमुळे इतर श्रद्धावानांना गजराचा आनंद घेता येत नाही. हरि ॐ, पिछले गुरुवार को श्रीहरिगुरुग्राम में की गई सूचना के

Suchit dada

हरि ॐ, आपल्या सर्वांच्या लाडक्या परमपूज्य सुचितदादांनी भगवान त्रिविक्रमाचा अत्यंत सुंदर जप सर्व श्रद्धावानांनाच भेट म्हणून दिलेला आहे. हा जप, गजर म्हणून पुढील गुरुवारी श्रीहरिगुरूग्राममध्ये सर्वांच्या समोर सादर केला जाईल. नाथसंविध्‌, अंबज्ञ हरि ॐ, हम सबके प्यारे परमपूज्य सुचितदादा ने भगवान त्रिविक्रम का बहुत ही सुन्दर जप सभी श्रद्धावानों को उपहार के रूप में दिया है। इस जप को गजर के रूप में अगले गुरूवार को श्रीहरिगुरूग्राम में सब के

The Third World War - ’ तृतीय विश्वयुध्द ’

मार्च २००६ में बापू (डॉ. अनिरुद्ध धैर्यधर जोशी) ने लिखे हुए ’ तृतीय विश्वयुद्ध ’ इस पुस्तक में वर्णन कियेनुसार गत ३-४ सालों से जागतिक रंगमंच पर चरमसीमा की गतिविधियाँ होती हुईं हम देख रहे हैं। पहले दिनबदिन बदलते हालात अब चंद घंटों में बदलने लगे हैं। दुनिया के कई भागों में चल रहे संघर्ष अब सन २०१८ में दैनंदिन संघर्ष का रूप धारण कर रहे हैं और यही वास्तव

Syria

रशिया की दो विनाशिकाएँ सीरिया के लिए रवाना मॉस्को/दमास्कस: सीरिया में अमरिका-ब्रिटन-फ़्रांस ने किए हमले को प्रत्युत्तर देने के लिए रशिया ने अपनी लष्करी गतिविधियों को तेज किया है। पिछले हफ्ते रशिया ने दो अतिरिक्त जंगी जहाज और और हथियारों का भंडार सीरिया में भेजने की खबर प्रसिद्ध हुई थी। उसके बाद फिरसे रशिया ने अपनी दो विनाशिकाओं को सीरिया की दिशा में भेजा है। इस नई गतिविधि की वजह

“अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – अप्रैल २०१८

       अप्रैल २०१८ संपादकीय, हरि ॐ श्रद्धावान सिंह, मार्च २००६ में बापूजीने (डॉ. अनिरुद्ध धैर्यधर जोशी) तृतीय महायुद्ध से संबंधित लेखमाला की शृंखला दैनिक प्रत्यक्ष में आरंभ की। प्रथम लेख में ही बापू कहते हैं, “पिछले सौ वर्षों में अर्थात तथाकथित वैज्ञानिक काल के इतिहास को यदि हम देखते हैं तब भी विविध सत्तासंघर्ष का सही कारण एवं उनका परिणाम स्पष्टरूप में हमारे समझ में आ जाता है।

Aniruddha Bapu Sadguru-Paduka

हरि ॐ, वैशाख पौर्णिमा (दिनांक ३०-एप्रिल-२०१८) रोजी सद्‌गुरू पादुकांचे वितरण श्रीगुरूक्षेत्रम्‌, खार (पश्‍चिम) येथून सकाळी १०:०० ते रात्रौ ८:०० या वेळेत करण्यात येईल. श्रद्धावानांनी येताना पादुका बुकींग केल्याची पावती बरोबर घेऊन यावी. ज्या श्रद्धावानांनी पादुकांची आगाऊ नोंदणी केली आहे फक्त त्यांच्यासाठीच ही सोय करण्यात आली आहे. जे श्रद्धावान काही करणामुळे पादुका बुक करु शकले नसतील त्यांच्यासाठी ही काही मोजके सेट उपलब्ध करुन देण्याची व्यवस्था करण्यात आली आहे. ज्या श्रद्धावानांना काही करणास्तव

स्वयंभगवान त्रिविक्रम

आज गुरुवार दि. २६-०४-२०१८ रोजी प्रकाशित झालेल्या ‘दैनिक प्रत्यक्ष’मधील ‘तुलसीपत्र-१४८६’ ह्या अग्रलेखामध्ये, ‘स्वयंभगवान त्रिविक्रम’ प्रथमच प्रकट झाल्याचे वर्णन केले गेले आहे, तेच हे ‘महासाकेत’ ह्या सर्वोच्च स्थानावर स्थित ‘स्वयंभगवान त्रिविक्रमा’चे स्वरूप. आज गुरुवार दि. २६-०४-२०१८ को ‘दैनिक प्रत्यक्ष’ में प्रकाशित हुए ‘तुलसीपत्र-१४८६’ इस अग्रलेख में, ‘स्वयंभगवान त्रिविक्रम’ के पहली ही बार प्रकट होने का वर्णन किया गया है। यही वह ‘महासाकेत’ इस सर्वोच्च स्थान पर स्थित ‘स्वयंभगवान त्रिविक्रम’ का स्वरूप।

भारतीय सेना कि सज्जता

‘गगनशक्ति २०१८’ युद्धाभ्यास देश के शत्रुओं को झटका देने वाला – वायुसेना प्रमुख धनोआ नई दिल्ली: पाकिस्तान की सीमा के पास भारत के वायुसेना ने किए ‘गगनशक्ति २०१८’ युद्धाभ्यास का वायुसेना प्रमुख बी. एस. धनोआ ने मुआइना किया। यह अभ्यास देश के शत्रु के लिए आकाश और धरती पर झटका देने वाला है, ऐसा कहकर वायुसेना प्रमुख धनोआ ने समाधान व्यक्त किया है। इस युद्धाभ्यास के पिछले तीन दिनों में

तुर्की

तुर्की की माँग के अनुसार नियोजित समय के पहले ही – तुर्की को ‘एस-४००’ सौपने के लिए रशिया तैयार अंकारा: अमरिका, फ़्रांस और इस्रायल जैसे बलाढ्य देशों को एक ही समय पर चुनौती देने वाली भाषा करने वाले तुर्की, रशिया और ईरान की त्रिपक्षीय चर्चा की तरफ दुनियाभर के निरीक्षकों का ध्यान लगा है। बुधवार से शुरू हुई इस चर्चा से पहले रशिया के राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमीर पुतिन और तुर्की के

चीन की बढ़ति आक्रामकता के पृष्ठभूमि पर लष्कर प्रमुख जनरल रावत की लदाख सीमा को भेंट लदाख: भारत के लष्कर प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने चीन के सीमा से जुड़े हुए लदाख में लष्कर के चौकियों को भेंट दी है। उस समय लष्कर प्रमुख ने वहां की रक्षा सिद्धता का ब्यौरा करने का वृत्त है। शून्य के आसपास तापमान होनेवाले इस भाग में तैनात जवानों से जनरल रावत ने उस

तृतीय महायुद्ध

‘साउथ चाइना सी’ और ‘वेस्टर्न पसिफ़िक’ में शुरू हुआ चीन का हवाई अभ्यास मतलब युद्ध की रिहर्सल – चीनी हवाई दल की घोषणा बीजिंग: “’साउथ चाइना सी’ और ‘वेस्टर्न पसिफ़िक’ समुद्री क्षेत्र में चीन की वायुसेना ने शुरु किया हुआ अभ्यास मतलब आगे आने वाले युद्ध की रिहर्सल है”, ऐसी घोषणा चीन के वायुसेना ने की है। दो दिनों पहले अमरिकी नौसेना की विनाशिका ने चीन के निर्माण किए कृत्रिम

हरि ॐ नाथसंविध्‌ डॉ, अनिरुद्ध अर्थात हम सभी के लाडले सद्‍गुरु श्री अनिरुद्ध के मार्गदर्शनानुसार सन १९९९ से रक्तदान शिविर (ब्लड डोनेशन कॅम्प) का आयोजन किया जाता है और इसे श्रद्धावानों की ओर से और उसी के अनुसार संस्था के हितचिंतकों की ओर से उचित प्रतिसाद भी मिलता है। इसीलिए अनेक ज़रूरतमंद रूग्णों को इस रक्तदान शिविर का लाभ भी होता है। इस रक्तदान शिविर में राज्य की अनेक रक्तपेढ़ियाँ