Hindi

आखात विस्फोट की दहलीज पर

खाड़ी प्रचंड विस्फोट की दहलीज पर खड़ा है – अमरिकी विश्लेषक का इशारा वॉशिंगटन/रियाध: लेबनॉन के प्रधानमंत्री का इस्तीफा, येमेन के सऊदी अरेबिया पर हमले और सऊदी राजपुत्र की ओर से देश के प्रभावशाली व्यक्तियों के खिलाफ चल रही कारवाई, यह घटनाएं खाड़ी एक बड़े विस्फोट के नजदीक है इसके संकेत देने वाली हैं, ऐसा इशारा अमरिका के विश्लेषक रॉबर्ट मेली ने दिया है। ‘इंटरनेशनल क्राइसिस ग्रुप’ के अभ्यास समूह

Bitcoin

सायबर हमलों द्वारा बिटकॉइन एवं अन्य क्रिप्टोकरेंसी की चोरी – रशियन कंपनी का इशारा मॉस्को: पिछले कई महीनों में बिटकॉइन के साथ अन्य क्रिप्टोकरेंसी पर सायबर हमलो में बड़ी तादाद में बढ़त हुई है और यह चलन अब सायबर हमलों से सुरक्षित नहीं है। ऐसा इशारा रशिया की कैस्परर्स्की लैब इस सायबर सुरक्षा कंपनी ने दिया है। क्रिप्टो शफलर नामक मालवेअर की सहायता से क्रिप्टोकरेंसी पर हमले चढ़ाए जा रहे

ईरान का मसला जटिल होने के संकेत

ईरान चार दिनों में संवर्धित युरेनियम का निर्माण कर सकता है – ईरान परमाणु ऊर्जा संगठन के प्रमुख तेहरान: ईरान पश्चिमी देशों के साथ किए गए परमाणु अनुबंध का उचित तरीकेसे पालन कर रहा है, ऐसा प्रमाणपत्र अंतराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा आयोग के प्रमुख ‘युकिया अमानो’ ने दिया है। लेकिन अमानो की इस घोषणा को कुछ घंटे भी बीते नहीं हैं, की ईरान सिर्फ चार दिन में ही २० प्रतिशत संवर्धित

दैनिक ‘प्रत्यक्ष’ का ’बिटकॉईन स्पेशल’ अंक

सन २०१२ में ’बिटकॉईन्स्‌’ (Bitcoins) यह शब्द मैंने पहली बार सुना – बापू के मुख से। बापू ने जुलाई २०१२ में स्वयं २ दिन का, पूरे ३० घंटों का एक सेमिनार कंडक्ट किया था, जिसमें उन्होंने लगभग २५ से भी अधिक विषयों का, १७ विभिन्न क्षेत्रों के उपस्थितों के समक्ष गहराई से विवरण किया। अटेंशन इकॉनॉमी (Attention Economy), ज़ुगाड़ (Jugaad), क्लाऊड़ कॉम्प्युटिंग (Cloud Computing) जैसे विषयों के साथ ही, ’बिटकॉईन्स्‌’

सीरियाई क्षेत्र में गतिविधियां तेज

सीरिया से हुए रॉकेट हमलों को इस्राइली लष्कर का प्रत्युत्तर जेरूसलेम: इस्राइली प्रधानमंत्री ने सीरियन लष्कर की ओरसे होने वाले हमलों पर दिए इशारों को कुछ ही दिन बीते हैं, तभी फिर एक बार सीरिया की तरफ से इस्राइल की गोलन पहाड़ियों में रॉकेट हमले किए गए हैं। गोलन पहाड़ियों पर स्थित नागरी बस्तियों के पास भी रॉकेट गिरने का आरोप इस्राइल ने किया है। इसे प्रत्युत्तर के तौर पर

कोरियन क्षेत्र में गतिविधियां तेज हुई

उत्तर कोरिया के दक्षिण कोरिया एवं जापान पर परमाणु हमले मे २० लाख लोगों की जान जायेंगी- अमरीका के अभ्यासगट का डर वॉशिंगटन: कोरियन क्षेत्र मे तनाव बढ़ रहा है और उत्तर कोरिया ने चर्चा के लिए तैयार न होने की बात घोषित की है। तथा अमरीका दक्षिण कोरिया एवं जापान से भड़काऊ गतिविधियां होने पर इन देशों पर परमाणु हमला करने की धमकी भी उत्तर कोरिया ने दी है।

श्री सद्‌गुरु पुण्यक्षेत्रम्‌

सद्‍गुरु बापू अपने अग्रलेखों एवं प्रवचनों में से श्री सद्‌गुरु पुण्यक्षेत्रम्‌ इस स्थान के महत्व के बारे में हमें बताते ही रहते हैं। इसी श्री सद्‌गुरु पुण्यक्षेत्रम्‌ तीर्थक्षेत्र से संबंधित कार्य के सिलसिले मे आज दिनांक १३ अक्तूबर २०१७ को धुळे, जळगाव और नंदुरबार जिले के कुछ चुनिंदा श्रद्धावान सेवकों के साथ हॅपी होम स्थित मेरे कार्यालय में मिटींग हुई। इस मिटींग में महाधर्मवर्मन् योगीद्रसिंह और महाधर्मवर्मन् विशाखावीरा इनके साथ

catalonia-referendum -कॅटालोनिया

कॅटालोनिया की समस्या बढ़ गई तो यूरोप में गृहयुद्ध भडकेगा- यूरोपीय महासंघ के वरिष्ठ अधिकारी का इशारा ब्रुसेल्स: स्पेन के कॅटालोनिया प्रान्त की स्थिति बहुत ही अस्वस्थ करने वाली है, जिससे गृहयुद्ध भड़केगा, ऐसा इशारा यूरोपीय महासंघ के वरिष्ठ अधिकारी गुंथर ओटिन्गर ने दिया है। यूरोपीय महासंघ के वरिष्ठ अधिकारी ने कॅटालोनिया के मुद्दे पर पहली बार ऐसा आक्रामक वक्तव्य किया है। १ अक्टूबर को कॅटालोनिया में पूरे हुए जनमत

आगामी सैनिक – ‘स्नायपर ड्रोन’

युद्ध सिर्फ युद्धभूमि तक ही सीमीत नहीं है, यह आज इस नए युग में सभी जानते है। पारम्परिक प्रकार के युद्ध की गति तेज होकर अब सायबर युद्ध, व्यापार युद्ध, अंतरिक्ष युद्ध, नगरीय युद्ध, इत्यादि बन गया है। इस के अतिरिक्त, आत्याधुनिक रोबोट्स और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआय) यह आधुनिक युद्ध नीति में अग्रणी तकनीक के तौर पर उजागर हुए हैं। संरक्षण के साथ लगभग सभी क्षेत्रों में रोबोट्स और ‘एआय’

Aniruddha-Bapu-Aniruddha-Chalisa-pathan

हरि ॐ, सद्‌गुरु नामसंकीर्तन एवं सांघिक पठन का महत्त्व हम सभी श्रद्धावान जानते ही हैं| अनिरुद्ध चलिसा पठन करने से सद्‌गुरु पर का विश्‍वास दृढ़ होने में हमें सहायता मिलती है, यह विश्वास श्रद्धावानों को मन में होता है| इसलिए संस्था की ओर से गत ६ वर्षों से श्रीहरिगुरुग्राम में ‘अनिरुद्ध चलिसा पठन’ का आयोजन किया जाता है| इस साल यह पठन सबकी सुविधा के लिए शनिवार दिनांक ७ अक्तूबर

Ashwin-Navaratri

हरि ॐ, ह्या वर्षीच्या आश्विन नवरात्रोत्सवात परमपूज्य सद्‍गुरुंनी दिलेल्या विशेष नवरात्री पूजनामध्ये अर्पण केलेल्या चुनर्‍यांचे पुढे काय करावे, असा प्रश्न अनेक श्रद्धावानांकडून विचारण्यात येत आहे. परमपूज्य बापूंकडे ह्या संदर्भात विचारणा केली असता, बापूंनी खुलासा केला आहे की, श्रद्धावानांनी ह्या सर्व चुनर्‍यांचा अंबज्ञ इष्टिके सोबत जलात पुनर्मिलाप करावा किंवा काही ठिकाणी सोयीसाठी उपलब्ध असलेल्या निर्माल्य कलशामध्ये ह्या चुनर्‍या इतर निर्माल्यासोबत अर्पण कराव्यात. हरि ॐ, इस वर्ष के आश्विन नवरात्रि उत्सव में परमपूज्य सद्‍गुरु के

नवरात्रि-पूजन - आदिमाता दुर्गा एवं भक्तमाता पार्वती का एकत्रित पूजन

फिलहाल मनाये जा रहे आश्विन नवरात्रि-उत्सव से, नवरात्रिपूजन की शुद्ध, सात्त्विक, आसान, मग़र फिर भी श्रेष्ठतम पवित्र पद्धति श्रद्धावानों के लिए उपलब्ध कराके परमपूज्य सद्‍गुरु ने सभी श्रद्धावानों को अत्यधिक कृतार्थ कर दिया है। इस उत्सव के उपलक्ष्य में, कई श्रद्धावानों ने अपने घर में बहुत ही भक्तिमय एवं उत्साहपूर्ण माहौल में मनाये जा रहे इस पूजन की, आकर्षक एवं प्रासादिक सजावट के साथ खींचीं तस्वीरें, “नवरात्रिपूजन” इस शीर्षक के

mothi-aai-navratri

हरि ॐ, दैनिक “प्रत्यक्ष”च्या तुलसीपत्र अग्रलेख मालिकेतील दि. २० ऑगस्ट २०१७ रोजीच्या अग्रलेखामध्ये परमपूज्य सद्‍गुरु श्रीअनिरुद्धांनी नवरात्रीतील चतुर्थीच्या रात्र जागराणाचे महत्त्व सांगताना लिहिले होते की… “नवरात्रीच्या चतुर्थीच्या दिवस-रात्रीची ही ‘कूष्माण्डा नवदुर्गा’ नायिका आहे व ह्यामुळेच नवीन शुभकार्यास मानवाने नवरात्री-चतुर्थीस सुरुवात केल्यास, त्याचे कार्य सुलभ बनते. जीवनात काहीतरी श्रेष्ठ व उत्कृष्ट करून दाखविण्याची ज्या श्रद्धावानाची इच्छा असते, त्याने नवरात्रीतील चतुर्थीच्या रात्री अवश्य जागरण करून आदिमातेच्या ग्रंथांचे वाचन करावे व दिवसा तिचे

Ashwin-Navaratri

हरि ॐ, वर्तमान समय में मनाये जा रहे आश्विन नवरात्रि उत्सव से, परमपूज्य सद्‍गुरु के द्वारा दी गयी नवरात्रि पूजन की विशेष पद्धति के अनुसार श्रद्धावान अपने घर में प्रेम से मोठी आई (मां जगदंबा) का पूजन कर रहे हैं। श्रद्धावानों के द्वारा किये गये पूजन की फोटोज एकसाथ, एक ही जगह देखने का आनन्द प्राप्त हो इसके लिए हमने एक फेसबुक पेज बनाया है। इस फेसबुक की लिंक इस

१. इस आश्विन नवरात्रि उत्सव से परमपूज्य सद्‍गुरु अनिरुद्ध बापू के द्वारा दी गयी नवरात्रि-पूजन की विशेष पद्धति में, परात की मृत्तिका (मिट्टी) में गेहूँ (गोधूम) बोने की विधि का समावेश है। इस विधि के अनुसार बोये जाने वाले गेहूँ अंबज्ञ इष्टिका के मुख के सामने न बोते हुए, उन्हें अन्य सभी तरफ से बोयें, जिससे कि नवरात्रि की अवधि में गेहूँ के तृणांकूरोंसे से आदिमाता का मुख ढँक न जाये। संदर्भ के