Featured Posts

संस्थेचे हेड ऑफिस (हॅपी होम व लिंक अपार्टमेंट) व इतर कार्यालये मंगळवार दि. ३१ मार्च २०२० पर्यंत बंद राहतील

शनिवार, दि. ०७ मार्च २०२० रोजी संस्थेने सध्या जगभर वेगात पसरत असलेल्या कोरोना वायरस, “कोविद – १९”च्या अनुषंगाने श्रद्धावानांना एक महत्त्वाची सूचना पाठविली होती ज्यामध्ये सावधानतेचा आणि जागरूकतेचा उपाय म्हणून दर गुरुवारी श्रीहरिगुरुग्राम येथे होणारी व शनिवारी ठिकठिकाणी उपासना केंद्रांवर होणारी सामूहिक उपासना पुढील सूचना मिळेपर्यंत बंद ठेवण्याचा निर्णय कळविला होता. तसेच दि. १२ मार्च २०२० रोजी संस्थेने सर्व तीर्थक्षेत्र दर्शनासाठी बंद ठेवण्याचा निर्णय कळविला होता. याचअनुषंगाने वेगाने बदलणारी परिस्थिती

गुरुक्षेत्रम् मन्त्राचे श्रद्धावानाच्या जीवनातील महत्त्व - भाग ११

सद्गुरू श्री श्रीअनिरुद्धांनी त्यांच्या ०८ एप्रिल २०१० च्या मराठी प्रवचनात ‘गुरुक्षेत्रम् मन्त्राचे श्रद्धावानाच्या जीवनातील महत्त्व’ याबाबत सांगितले.    श्रीगुरुक्षेत्रम्‌ मध्ये काय आहे? ह्या त्रिविक्रमाचं निलयं आहे, आलय नाही, गृह नाही, तर निलयं आहे. ह्या मंत्राच्या जपाने, ह्या मंत्राचा स्वीकार करून आम्ही कुठे राहायला जातो? त्या सद्‍गुरुतत्त्वाच्या निलयं मध्ये म्हणजे अंतरगृहामध्ये, सिम्पल, समजलं आणि कसे? तर विच्चे, बेस्ट होऊन. आम्ही ह्या मंत्राचा स्वीकार केला याचा अर्थ आम्ही पन्नास टक्के बेस्ट झालेलो

Aniruddha Gurukshetram

हरि ॐ, शनिवार, दि. ०७ मार्च २०२० को संस्था ने, फिलहाल दुनियाभर में तेज़ी से फ़ैल रहे कोरोना वायरस, “कोविद – १९” के सिलसिले में श्रद्धावानों को एक महत्त्वपूर्ण सूचना भेजी थी; जिसमें सावधानता और जागरूकता के उपाय के रूप में, हर गुरुवार श्रीहरिगुरुग्राम में होनेवाली और शनिवार को विभिन्न स्थानों पर उपासना केंद्रों में होनेवाली सामूहिक उपासना, अगली सूचना मिलने तक बंद रखने का निर्णय सूचित किया था। इसी

Aniruddha TV

हरि ॐ, जैसा कि पहले ही सूचित किया जा चुका है, फिलहाल दुनियाभर में तेज़ी से फ़ैल रहे कोरोना वायरस, “कोविद – १९”  संबंधित खबरों को मद्देनज़र रखते हुए और सावधानी तथा जागरूकता के उपाय के तौर पर, संस्था ने कुछ समय के लिए हर गुरुवार श्रीहरिगुरुग्राम में होनेवाली नित्य उपासना और शनिवार को विभिन्न उपासना केंद्रों में होनेवाली सामूहिक अनिरुद्ध उपासना, अगली सूचना मिलने तक बंद रखने का निर्णय

Even amid Coronavirus epidemic,

The first global cyber warfare will flareup this year, warns economist Nouriel Roubini Washington: ‘The United States has imposed sanctions against Russia, China, Iran, and North Korea and these countries cannot retaliate against the United States in conventional warfare. Therefore, the countries will use unconventional war techniques to stop the United States. That will cause the first flareup of a global cyberwar’, Economist Nouriel Roubini warned. Also, Roubini cautioned that

गुरुवार को श्रीहरिगुरुग्राम में होनेवाली और शनिवार को विभिन्न स्थानों पर उपासना केंद्रों में होनेवाली सामूहिक उपासना अगली सूचना प्राप्त होने तक बंद रखने का निर्णय

हरि ॐ. फिलहाल दुनियाभर तेज़ी से फैलते जा रहे कोरोना व्हायरस – ‘कोविद-१९’ के बारे में हम सभी श्रद्धावान जानते ही हैं। भारत में भी इस विषय में जागरूकता है। कई स्वास्थ्यसंस्थाएँ तथा डॉक्टर्स् इस बीमारी के संक्रमण के संदर्भ में जो खबरदारी एवं सावधानता बरतना आवश्यक है, उसकी सूचनाएँ नागरिकों के लिए प्रसारित कर रहे हैं। इन सभी सूचनाओं में – ‘प्राय: भीड़ के स्थानों पर ना जायें’ अथवा

us-taliban

अमरिका-तालिबान शांति समझौते की कसौटी जल्द ही होगी – भारतीय विदेशमंत्री एस.जयशंकर नई दिल्ली – ‘पीछले १८ वर्षों में अफगानिस्तान में जो कुछ पाया, उसके लिए खतरा ना बनने दे, यही भारत का अमरिका और पश्‍चिमी देशों के लिए संदेशा रहेगा’, ऐसा बयान भारतीय विदेशमंत्री एस.जयशंकर ने किया है| अमरिका और तालिबान के बीच हुए शांति समझौते पर बातचीत करते समय जयशंकर ने उचित शब्दों में भारत की भूमिका रखी|

गुरुक्षेत्रम् मन्त्राचे श्रद्धावानाच्या जीवनातील महत्त्व - भाग १०

सद्गुरू श्री श्रीअनिरुद्धांनी त्यांच्या ०८ एप्रिल २०१० च्या मराठी प्रवचनात ‘गुरुक्षेत्रम् मन्त्राचे श्रद्धावानाच्या जीवनातील महत्त्व’ याबाबत सांगितले.   आम्ही परमेश्वराची पूजा, जगातील बेस्ट मंत्रांनी म्हणतो आहोत, बेस्ट जगातील बेस्ट फुलं वाहतो आहोत, जगातलं बेस्ट जल वाहतो आहोत, जगातली बेस्ट म्हणजे सुगंध वाहतो जगातले, बेस्ट उदबत्या वाहतो आहोत- लावतो आहोत, बेस्ट दीप लावतो आहोत, बेस्ट सजावट केलेली आहे, त्याबरोबर आमचं मन पण बेस्ट आहे, आमचं शरीर पण बेस्ट आहे, आमची बुद्धी

ASEAN-Coronavirus

ईरान में ‘कोरोना व्हायरस’ के कारण ५० लोगों की मौत होने का दावा – खाडी क्षेत्र में कुवैत और बाहरिन में भी ‘कोरोना व्हायरस’ के मरीज देखे गए तेहरान/रोम – ‘कोरोना व्हायरस’ की महामारी का फैलाव चीन के बाहर भी तेजीसे बढ रहा है और अब ‘कोरोना व्हायरस’ से ईरान में ५० लोगों की मौत होने का दावा किया गया है| ईरान के अलावा खाडी क्षेत्र के कुवैत और बाहरिन

Devotional-Sentience-website-Hindi-Screen

  हरि ॐ, सद्‌गुरु श्रीअनिरुद्ध (बापू) १९९६ से विष्णुसहस्रनाम, राधासहस्रनाम, ललितासहस्रनाम, रामरक्षा, साईसच्चरित जैसे विषयोपर प्रवचन के माध्यमसे श्रद्धावानोंसे संवाद करते हैं।  हर श्रद्धावान के दिल को छू जानेवाली बात है – बापु का हर गुरुवार का प्रवचन। लगभग सभी श्रद्धावान इस प्रवचन के माध्यम से ही बापु से जुड़ते गये हैं। बापु के प्रवचन, ‘अध्यात्म एवं व्यवहार दोनों में उचित संतुलन कैसे प्राप्त कर सकते हैं’ इसका सीधे-सादे आसान