Featured Posts

प्रार्थना ही हमारे सामर्थ्य का स्रोत है (The Prayer is the source of our strength)

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्ध बापू ने २७ मार्च २०१४ के प्रवचन में ‘प्रार्थना ही हमारे सामर्थ्य का स्त्रोत है’ इस बारे में बताया। हमारे लिये जो आवश्यक है जितनी प्रार्थना, उतनी प्रार्थना वो हमे जरूर देगा। दर-दर जाकर भीक माँगने की आवश्यकता नहीं है। मेरा बाप जो है उसने हमें जनम देते समय जो इस्टेट दी है हमें, उसपर पूरा जनम चल रहा है। right? दिन में कितनी बार हार्ट बीट्स

‘साउथ चाइना सी’ क्षेत्र में  चीन फिर से आक्रामक मोड पर

अमेरीका पर हमला करने के लिए चीन द्वारा वैमानिकों को प्रशिक्षण – अमेरीकी रक्षा मुख्यालय ‘पेंटॅगॉन’ का आरोप   वॉशिंग्टन/बीजिंग – ‘विवादास्पद सागरी क्षेत्र का कब्जा लेने के लिए चीन अपनी सेना को तैयार कर रहा है| साथही अमेरीका पर हमले करने के लिए चीन अपने वैमानिकों को प्रशिक्षित कर रहा है’, ऐसा आरोप अमेरीका का रक्षा मुख्यालय पेंटॅगॉन ने अपने रिपोर्ट में किया| लेकिन पेंटॅगॉन का ये रिपोर्ट तुर्क

Alpha to Omega Newsletter - August 2018

  August 2018 From the Editor’s Desk Hari Om Friend, The celebration of Ashadi Ekadashi marks the beginning of the time of the year when there is a spree of festivities. It is also the time when the month of Aashad gives a golden opportunity to everybody to rejuvenate their faith and express their utmost respect and affection towards their Guru on the occasion of Gurupournima. Every year, Shraddhavans from

Russian-chinese-companies.01

Iran is looting US through cyber-attacks, claims a US cyber-security company Tehran/Washington: Iran, who threatened an unconventional war in retaliation to the sanctions imposed by the United States is realising its threat through cyber-attacks. The US cybersecurity group has exposed this information and has warned that Iranian hackers are attacking the US companies for financial gains. US cybersecurity experts and former officials have said that the Iranian cyber-attacks have intensified,

साईनाथ अपने भक्त को अपने समीप खींच लेते हैं  (Sainath pulls His devotee closer to him)

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्ध बापू ने २७ मार्च २०१४ के प्रवचन में ‘साईनाथ अपने भक्त को अपने समीप खींच लेते हैं’ इस बारे में बताया। हम मंदिर में जाते हैं, जरुर! ये इच्छा कैसे उत्पन्न हुई? बाबा की इच्छा ना हो, बाबा के मंदिर में या बाबा के पास, कभी नहीं जा सकते, ये पूरा भरोसा रखो। बाबा ने सौ बार बोला है साईचरित्र में कि मेरी इच्छा के बिना कोई

Iranian-war-exercise0

अमरिका के प्रतिबंधों का निषेध करने के लिए ईरान रशिया से संवर्धित युरेनियम प्राप्त करेगा – ईरान के परमाणु ऊर्जा के संगठन के उपप्रमुख की घोषणा तेहरान/मॉस्को – अमरिका ने लगाए कठोर प्रतिबंधों का निषेध करने के लिए ईरान ने परमाणु कार्यक्रम की गति बढाने के लिए कदम उठाए हैं। इसके लिए ईरान ने रशिया को सौंपा हुआ संवर्धित युरेनियम का भंडार वापस लेने की घोषणा की है। ईरान ने संवर्धित

त्रिविक्रम के १८ वचन (हिन्दी)

दत्तगुरुकृपा से मैं सर्वसमर्थ तत्पर । श्रद्धावान को दूँगा सदैव आधार ॥१॥ मैं तुम्हारी सहायता करूँगा निश्‍चित । परन्तु मेरे मार्ग त्रि-नाथों को ही है ज्ञात ॥२॥ मत करना इस विषय में संदेह बिलकुल भी । न होने दूँगा घात तुम्हारा मैं कभी भी ॥३॥ प्रेमल भक्त के जीवन में । नहीं ढूँढ़ने बैठता हूँ पाप मैं ॥४॥ हो जाते ही मेरा एक दृष्टिपात । भक्त बन जायेगा पापरहित ॥५॥

you-make-impossible-possible

  Experience Of Kumaran   An ordinary Shraddhavan who dreamt of getting a job in an organization. Such a simple aim! However, the situation was entirely against him. He had no experience for the type of work he would be expected to do, for the role that he had applied. Moreover, his previous experience was utterly irrelevant for the new job. The other candidates who had come for the interview

महादुर्गेश्वर प्रपत्तिसंबंधित जानकारी

महादुर्गेश्वर प्रपत्ति की रचना में प्रपत्ति करने वाले पुरुष श्रद्धावान चौकी पर श्रीचण्डिकाकुल की तसवीर रखकर उस तसवीर के सामने श्रीत्रिविक्रम की तसवीर अथवा मूर्ति रखते हैं। अनेक श्रद्धावानों से प्रपत्ति के संदर्भ में एक प्रश्न पूछा गया कि महादुर्गेश्वर प्रपत्ति में श्री महादुर्गेश्वर की तसवीर या मूर्ति कहीं पर दिखायी नहीं देती। सद्गुरु श्री अनिरुद्ध ने श्रीचण्डिकाकुल तसवीर के उद्घाटन के समय, तथा सद्गुरु की श्रीस्वस्तिक्षेम तपश्चर्या के समय

भगवान को एक प्यारी सी स्माईल दो (Give The Lord your warm smile)

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्ध बापू ने २७ मार्च २०१४ के प्रवचन में ‘भगवान को एक प्यारी सी स्माईल दो’ इस बारे में बताया। सो पहले जान लें कि इस स्थान पर हम लोग बाबा की उपासना करने को आये हैं, इसका मतलब है यहां बाबा हैं। तो पहले स्माईल देना, ये क्या है, हमारा कर्तव्य है। भगवान को सुबह उठने के बाद भी, उसका चित्र हमारे सामने रहेगा, तो पहले give