Featured Posts

Hanuman Pournima Atulit Baldham

हरि ॐ. हर साल चैत्र शुध्द पूर्णिमा के दिन, श्री अतुलितबलधाम, रत्नागिरी में श्रीहनुमान पूर्णिमा उत्सव मनाया जाता है। विशेष बात यह है कि इस पूरे दिन चलनेवाले कार्यक्रम में सुबह ११.३० से लेकर रात ८.३० तक श्रीपंचमुखहनुमानजी की मूर्ति पर “पंचकुंभाभिषेक” किया जाता है। इस साल हनुमान पूर्णिमा दिनांक १९ अप्रैल २०१९ के दिन मनायी जानेवाली है। श्रद्धावानों की इच्छा होती है कि इस उत्सव में उपस्थित रहकर “पंचकुंभाभिषेक”

Mega Blood Donation Camp 2019

हरि ॐ, दरवर्षीप्रमाणे ह्या वर्षीदेखील आपल्या संस्थेने रविवार दि. २१ एप्रिल २०१९ रोजी सकाळी ९.०० ते सायंकाळी ५.०० वाजेपर्यंत महारक्तदान शिबीर (Mega Blood Donation Camp) आयोजित केलेले आहे. सद्‌गुरू श्रीअनिरुद्धांच्या मार्गदर्शनानुसार गेली २१ वर्षे आपली संस्था रक्तदान शिबीर (ब्लड डोनेशन कॅम्प) नियमितपणे आयोजित करत आहे व त्यामुळे अनेक गरजू रुग्णांना ह्या रक्तदान शिबीरांचा फायदा होतो आहे. आतापर्यंत म्हणजे सन १९९९ ते २०१८ पर्यंत श्रद्धावानांनी मुंबई व महाराष्ट्रात मिळून आयोजित केल्या

Launch of New website on Devotion Sentience

Aniruddha Devotion Sentience Website & Aniruddha Premsagara – Shraddhavan Network Sadguru Shree Aniruddha has already introduced the ‘Devotion Sentience’ (Bhaktibhav Chaitanya) to all the Shraddhavans through his editorials in the ‘Dainik Pratyaksha’ and also his discourses. The Shraddhavans too on their part are enjoying in the Devotion Sentience and chanting the sovereign Mantragajar of the Trivikram. Every Shraddhavan wishes always to stay connected and in communication with Sadguru Shree Aniruddha.

ब्रिटेन और ब्रेक्जिट

ब्रेक्जिट की गडबडी की वजह से ब्रिटेन की हंसी हो रही है – बहुराष्ट्रीय कंपनी के प्रमुख का दावा लंदन – संपूर्ण दुनिया ब्रिटेन की तरफ ध्यान दे रही है| एक समय पर ब्रिटेन यह देश स्थिरता का दीपस्तंभ के तौर पर पहचाना जा रहा था| अब ब्रिटेन की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिमा प्रतिदिन हास्यजनक होती जा रही है| यह अब काफी है| उद्योग क्षेत्र की सहनशीलता खत्म हो रही

क्रमबध्दता - भाग २ (Sequence - Part 2)

सद्गुरू श्री अनिरुद्धांनी त्यांच्या २० जून २०१३ च्या मराठी प्रवचनात ‘क्रमबध्दता – भाग २ (Sequence – Part 2)’ याबाबत सांगितले.   सद्गुरू श्री श्रीअनिरुद्धांनी त्यांच्या २० जून २०१३ च्या मराठी प्रवचनात ‘क्रमबध्दता – भाग २ (Sequence – Part 2)’ याबाबत सांगितले. ब्रह्माण्डाभोवते वेढे वज्रपुच्छे करू शके। तयासी तुळणा कैचि ब्रह्माण्डी पाहता नसे।।’ की ब्रह्मांडामध्ये हनुमंताला तुलना कोणाशी देता येत नाही. कारण हा महाप्राण असल्यामुळे हा प्रत्येक गोष्टीतला क्रम हाच डिसाईड करतो, हाच निश्चित क्रम.

ईरान से जुडी घटनाएँ

ईरान पर अमरिका के नए प्रतिबंध वॉशिंगटन: अमरिका के विदेश एवं कोषागार विभाग ने शुक्रवार को ईरान के विरोध में नए प्रतिबंध जारी करने की घोषणा की है| इनमें ईरान के १४ नागरिक एवं १७ कंपनियों को लक्ष्य किया गया है| नए प्रतिबंध जारी करने की घोषणा करते हुए अमरिका के विदेश मंत्री माईक पोम्पिओ ने इससे पहले जारी किए प्रतिबंध सफल होने का दावा किया है| दो हफ्तों पहले

‘अल्फा टू ओमेगा’ न्युजलेटर – अप्रैल २०१९

  हरि ॐ, इन्सान के जीवन में, ख़ासकर श्रद्धावान के जीवन में ‘भक्तिभाव चैतन्य’ की क्या अहमियत है, इसके बारे में सद्गुरु बापु हमें बता ही रहे हैं। इस भक्तिभाव चैतन्य में श्रद्धावानों को अधिक से अधिक भिगोने के लिए ‘स्वयंभगवान त्रिविक्रम मन्त्रगजर’, ‘त्रिविक्रम भजन’ जैसे साधनों के साथ साथ, हाल ही में ‘पिपासा’ अभंगमालिका के ‘पिपासा-३’ और ‘पिपासा-४’ ये अल्बम्स् भी लाँच हुए। ‘पिपासा’ अभंगसंग्रहमलिका तो हर एक श्रद्धावान

नामस्पर्श

हरि ॐ, श्रीराम, अंबज्ञ, नाथसंविध्‌, नाथसंविध्‌, नाथसंविध्‌. हम यह जो मंत्रगजर करते हैं – ‘रामा रामा आत्मारामा….’, वह कहाँ जाकर पहुँचता हैं? क्या हवा में घूमता रहता है इधर कहाँ? या पूरे ब्रह्मांड में या हवा में जाकर पहुँचता है? कहाँ जाता होगा? There is a definite place, where it goes….where it reaches….where it is absorbed….where it is pulled. Only one place. कौनसी जगह हैं वह? त्रिविक्रमनिलयम श्रीगुरुक्षेत्रम्‌॥ हम लोग

Sadguru Shree Aniruddha’s Pitruvachan (Part 2) – 21 March 2019 - What is Procrastination?

Hari Om | Sriram | Ambadnya Naathsamvidh | Naathsamvidh | Naathsamvidh So…for last many years, the young generation has been telling me, ‘Bapu, you’ve started speaking in Hindi, why don’t you (speak in) English?’ I said, ‘I am Indian, okay? I know only Indian languages. I learned in vernacular medium school. As per [that], I don’t know English, so I will not be (speaking in English)’; but then, people are

Release of English version of Shree Ramrasayan

Hari Om For the past several months we are drenching in the ‘Aniruddha Bhaktibhav Chaitanya’ by reading about many leelas of the Swayambhagwan Trivikram through the Pratyaksha editorials of Sadguru Shree Aniruddha. While underscoring the glory of the ‘Ram Katha’ in Shree Sai Satcharita, Hemadpant states – There is absolutely no place for perils, where the Ram Katha is recited. The influence of such perils over us becomes negligible. We

significant-developments-related-to-afghanistan

अफगानिस्तान की वायव्य सीमा पर तालिबान की कार्रवाईयों में बढोतरी – २२ अफगान सैनिक ढेर, १५० सैनिकों का अपहरण मझार-ए-शरिफ – अफगानिस्तान के भविष्य को लेकर अमरिका के साथ शुरू बातचीत में सफलता प्राप्त होने का दावा किया हो फिर भी तालिबान ने अपनी आतंकी गतिविधियां रोकी नही है| अफगानिस्तान के वायव्य दिशा में ‘बदघिस’ प्रांत में तालिबानीयों ने अफगानी सेना पर किए हमले में २२ सैनिकों की मौत हुई

Sadguru Shree Aniruddha’s Pitruvachan (Part 1) – 21 March 2019

हरी ॐ. श्रीराम. अंबज्ञ. नाथसंविध्‌. नाथसंविध्‌. नाथसंविध्‌. So, होली खेलकर आये हुए हैं बहुत लोग। खेले कि नहीं खेले? खेले…नहीं खेले…क्यों? [आपके साथ खेलना था] अरे भाई, मैं तो बुढ्ढा हो चुका हूँ, कहाँ होली खेलनी हैं। रंग नहीं खेलते आप लोग? क्यों? जो नहीं खेला होगा, वो हात ऊपर करें। जिन्होंने रंग खेला, वो लोग हाथ ऊपर करें। Very good, ऍब्सोल्युटली, मस्त, क्लास। बाकी लोग क्यों नहीं खेले? हमारी

क्रमबध्दता - भाग १ (Sequence - Part 1)

सद्गुरू श्री अनिरुद्धांनी त्यांच्या २० जून २०१३ च्या मराठी प्रवचनात ‘ क्रमबध्दता – भाग १ (Sequence – Part 1) ’ याबाबत सांगितले.   तसं प्राणतत्त्व जेव्हा सौम्यत्व धारण करून क्रमबद्धतेने विकास करतं तेव्हाच सगळ्या जाणीवा प्रबळ होतात. मग अश्या दोन्ही गोष्टी एकत्र आम्हाला कुठे मिळू शकतात? तर एक म्हणजे खर्‍याखुर्‍या नामस्मरणामध्ये. पण नामस्मरण करताना आम्हाला आठवण राहिलच ह्याची आम्हालाच गॅरंटी नाही. जे आहे ते आहे त्याच्यामध्ये लाजायच कारण नाही. आम्ही साधी माणस आहोत नाही