Featured Posts

Devotional-Sentience-website-Hindi-Screen

  हरि ॐ, सद्‌गुरु श्रीअनिरुद्ध (बापू) १९९६ से विष्णुसहस्रनाम, राधासहस्रनाम, ललितासहस्रनाम, रामरक्षा, साईसच्चरित जैसे विषयोपर प्रवचन के माध्यमसे श्रद्धावानोंसे संवाद करते हैं।  हर श्रद्धावान के दिल को छू जानेवाली बात है – बापु का हर गुरुवार का प्रवचन। लगभग सभी श्रद्धावान इस प्रवचन के माध्यम से ही बापु से जुड़ते गये हैं। बापु के प्रवचन, ‘अध्यात्म एवं व्यवहार दोनों में उचित संतुलन कैसे प्राप्त कर सकते हैं’ इसका सीधे-सादे आसान

Russia-warns-Turkey

Russia warns Turkey over actions in Syria, US supports Turkey Moscow/Ankara/Washington: Severe differences have developed between Turkey and Russia over the Syrian conflict. Turkish President Recep Erdogan recently issued a warning that a military campaign will be undertaken to drive the Assad government out of the Idlib province. Russia has issued a warning to Turkey in strong words, not to interfere in the Syrian conflict. Whereas, US President Donald Trump

Saudi-airstrike

अमरिकी-ज्यूईश गुट सौदी और इस्रायल की यात्रा पर रियाध/जेरूसलम: ‘अपनी यह यात्रा इस्रायल और सौदी अरब के सकारात्मक संबंधों की दिशा में उठाया पहला बडा कदम साबित होगा’, यह भरोसा ‘कान्फरन्स ऑफ प्रेसिडेंटस्’ इस अमरिकी–ज्यू गुट के अध्यक्ष आर्थर स्टार्क ने व्यक्त किया है| ‘कान्फरन्स ऑफ प्रेसिडेंटस्’ इस गुट के वरिष्ठ अफसरों ने हाल ही में सौदी अरब की यात्रा की और इसके बाद इस्रायल में हुई बैठक में बोलते

गुरुक्षेत्रम् मन्त्राचे श्रद्धावानाच्या जीवनातील महत्त्व - भाग ९

सद्गुरू श्री श्रीअनिरुद्धांनी त्यांच्या ०८ एप्रिल २०१० च्या मराठी प्रवचनात ‘गुरुक्षेत्रम् मन्त्राचे श्रद्धावानाच्या जीवनातील महत्त्व’ याबाबत सांगितले.   ‘विच्चे’ शब्द बनतो तीन गोष्टींपासून. ‘विद्‍’ धातु आहे, ‘विद्‍’ धातु. जसं ‘नम:’ मध्ये नम्-नमामि हा धातु पूर्णत्वाने आला. इकडे ‘विद्‍’ धातु फक्त एक अंग आहे, लहानसं अंग आहे. ‘विद्‍’ म्हणजे जाणणे, तेसुद्धा कसं? सुस्पष्टपणे जाणणे, व्यवस्थित जाणणे, नीट जाणणे आणि सर्व जाणणे म्हणजे विद्‍, विद्‍. विद्‍ धातुचा अर्थ आहे, सर्वसमर्थपणे आणि सर्वांगाने

'अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य' महासत्संग समारोह के व्हिडीओज्‌ संबंधी सूचना

  हरि ॐ, अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य – महासत्संग समारोह के पश्चात् श्रद्धावान आतुरता से प्रतीक्षा कर रहे थे, इस समारोह के व्हिडीओज्‌ की। श्रद्धावानों की इस माँग को मद्देनज़र रखते हुए ९ फ़रवरी को हमने महासत्संग के पहले सत्र (सेशन) के व्हिडीओज्‌ अपनी www.aniruddha-devotionsentience.com इस वेबसाईट पर उपलब्ध करा दिए हैं। ये व्हिडीओज्‌ सबके लिए खुले तथा विनामूल्य हैं। फिर भी, ऐसा ज्ञात हुआ है कि कुछ लोग ये व्हिडीओज्‌

ven-us-juan

रशिया ने किया वेनेजुएला समेत लष्करी और आर्थिक सहयोग बढाने का निर्णय कैराकस: ‘वेनेजुएला का नेतृत्व, सार्वभूमता और अमरिका एवं सहयोगी देशों के प्रतिबंधों के विरोध में हो रहे संघर्ष को रशिया ने डटकर समर्थन प्रदान किया है| यह समर्थन आगे भी बरकरार रहेगा और प्रतिबंधों के बावजूद दोनों देशों ने इसके आगे आर्थिक, व्यापारी और निवेश से संबंधित सहयोग कायर रखने का निर्णय किया है’, इन शब्दों में रशिया

Kolhapur Medical & Healthcare Camp 2020

      Camp Photos The Kolhapur Medical & Healthcare Camp, a brainchild of Dr. Aniruddha Dhairyadhar Joshi, M.D. (Medicine) is now in the 17th year. The camp for the year 2020 was held on 26th and 27th of January at Pendakhale village of Shahuwadi taluka in Kolhapur district of Maharashtra.  One may think of the camp to be just an annual two-day fanfare. Contrary to a general perception about medical camps, the Kolhapur Medical & Healthcare Camp

गुरुक्षेत्रम् मन्त्राचे श्रद्धावानाच्या जीवनातील महत्त्व - भाग ८

सद्गुरू श्री श्रीअनिरुद्धांनी त्यांच्या ०८ एप्रिल २०१० च्या मराठी प्रवचनात ‘गुरुक्षेत्रम् मन्त्राचे श्रद्धावानाच्या जीवनातील महत्त्व’ याबाबत सांगितले.   ‘विच्चे’, हे अव्यय आहे. मराठी ज्यांना कळतं किंवा संस्कृत ज्यांना माहिती आहे व्याकरण, ग्रामर, ‘विच्चे’ हे अव्यय आहे, अव्यय. व्यय, ज्याचा व्यय होत नाही, जिसका व्यय नहीं होता है, उसे अव्यय कहते हैं और किसी भी रूप में, किसी भी अवस्था में, किसी भी कार्यस्थिति में उसमें बिलकुल बदलाव नहीं होता, वह

‘अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य’ महासत्संग समारोह - पहले सत्र (सेशन) के व्हिडियोज्

३१ दिसम्बर २०१९ के ‘अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य’ इस महासत्संग समारोह को संपन्न हुए १ महीने से भी अधिक समय बीत चुका है; मग़र फिर भी इस अनिरुद्ध भक्तिसमारोह में सम्मिलित हुआ हर एक श्रद्धावान भक्त, मन से अभी भी उस सु-दर्शनी समारोह में ही है। इस महासत्संग में अनिरुद्ध भक्तिभाव चैतन्य में नहाये हुए श्रद्धावान भक्तों के मन में जिस तरह इस समारोह के अनिरुद्ध आनन्द में पुन: पुन: डूब

Wuhan-Coronavirus-epidemic

Wuhan virus deaths reach 106, more than 4,500 infected in China Beijing: The Wuhan virus epidemic, which has spread across the world, has already claimed 106 lives, but at the same time, 976 people are in critical condition. Moreover, it has been reported that 4577 people are infected with the virus. Senior Chinese officials have warned that the Wuhan virus, which is fatal in its preliminary phases, is spreading more