Featured Posts

महादुर्गेश्वर प्रपत्तिसंबंधित जानकारी

महादुर्गेश्वर प्रपत्ति की रचना में प्रपत्ति करने वाले पुरुष श्रद्धावान चौकी पर श्रीचण्डिकाकुल की तसवीर रखकर उस तसवीर के सामने श्रीत्रिविक्रम की तसवीर अथवा मूर्ति रखते हैं। अनेक श्रद्धावानों से प्रपत्ति के संदर्भ में एक प्रश्न पूछा गया कि महादुर्गेश्वर प्रपत्ति में श्री महादुर्गेश्वर की तसवीर या मूर्ति कहीं पर दिखायी नहीं देती। सद्गुरु श्री अनिरुद्ध ने श्रीचण्डिकाकुल तसवीर के उद्घाटन के समय, तथा सद्गुरु की श्रीस्वस्तिक्षेम तपश्चर्या के समय

भगवान को एक प्यारी सी स्माईल दो (Give The Lord your warm smile)

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्ध बापू ने २७ मार्च २०१४ के प्रवचन में ‘भगवान को एक प्यारी सी स्माईल दो’ इस बारे में बताया। सो पहले जान लें कि इस स्थान पर हम लोग बाबा की उपासना करने को आये हैं, इसका मतलब है यहां बाबा हैं। तो पहले स्माईल देना, ये क्या है, हमारा कर्तव्य है। भगवान को सुबह उठने के बाद भी, उसका चित्र हमारे सामने रहेगा, तो पहले give

Middle East on the boil as crises in many countries turning acute

The deadline issued by US to the European nations regarding the Iran sanctions has expired, US Secretary of State Mike Pompeo Washington: US Secretary of State Mike Pompeo has reminded that the 90-day deadline issued by President Trump to the European nations to impose sanctions against Iran will be expiring within a few hours on Monday. The United States will impose fresh harsher sanctions against Iran after this deadline and

वैश्विक स्तर पर दक्षिणपूर्वी आशिया का महत्त्व बढा

चीन का प्रभाव रोकने के लिए अमरिका की तरफ से ‘आसियन’ को ३० करोड़ डॉलर्स का रक्षा सहकार्य – विदेश मंत्री माइक पॉम्पिओ की घोषणा सिंगापूर/वॉशिंग्टन: ‘इंडो-पैसिफ़िक क्षेत्र में प्रादेशिक स्तर पर सुरक्षा मजबूत करने के लिए अमरिका ने दिया हुआ वचन पूरा करने के उद्देश्य से ३० करोड़ डॉलर्स की अतिरिक्त सहायता दी जा रही है। इस सहायता की वजह से इंडो-पैसिफ़िक क्षेत्र में अमरिका का रक्षा सहकार्य अधिक

Once you surrender to Aniruddha, you’ll be fearless forever!

Kanta Surajmani Sinh, Thane Would medical science be able to rationally explain how a person can discharge one’s day-to-day duties, responsibilities and chores after having suffered from a heart attack? Bapu is the only saviour who can go beyond the boundaries of science, recognises one’s difficulty and extends help in such times. This incident took place on September 27, 2011.  As usual, we laid down on our bed after dinner and were

प्रत्येक जण स्वत:ची लढाई लढत असतो  (Everyone is fighting their own battle)

परमपूज्य सद्गुरू श्री अनिरुद्ध बापूंनी त्यांच्या २२ जानेवारी २०१५ च्या मराठी प्रवचनात ‘प्रत्येक जण स्वत:ची लढाई लढत असतो’ याबाबत सांगितले.   पण आम्हाला एक मात्र नीट कळावं लागतं की प्रयास कुठवर करायचे आणि कुठे थांबवायचे, हे आपल्याला कुठेतरी निर्णय घ्यावाच लागतो. नाहीतर शेवटी लक्षात घ्या, प्रत्येकाचं जीवन शेवटी स्वतंत्र आहे. आपण कुटुंबाच्या नात्याने, मित्रत्वाच्या नात्याने आपण आपल्या धर्माच्या नात्याने, समाजाच्या नात्याने जोडलेले जरुर असू, पण मग बाकीचे हजारो लाखो लोक

ऑनलाईन/डिजिटल रामनाम वही

ठीक तेरह साल पहले अगस्त २००५ में, सद्गुरु श्रीअनिरुद्ध (परमपूज्य बापू) ने “अनिरुद्धाज् युनिवर्सल बँक ऑफ रामनाम” का शुभारंभ किया। श्रद्धावानों को प्रारब्ध से लड़ने की ताकत प्राप्त होकर, जीवन की समस्याओं को मात देने के लिए सहायता मिलें और उनके जीवन में सुखशांति क़ायम हों, इस हेतु से स्थापन हुआ यह अनोखा बँक अब श्रद्धावानों के लिए एक बेहतरीन उपहार लेकर आया है और वह है – ‘ऑनलाईन/डिजिटल रामनाम

The bettering of equations between India and the United States

US awards ‘STA-1 Status’ to India, allows access to advanced and sensitive technology New Delhi/Washington: The United States had so far awarded the Strategic Trade Authorisation Status -1 (STA-1) only to the NATO members and to other closest allies. But now India has also been awarded the same status. India is the third Asian country to be awarded the STA-1 status. This will open the gateway for the United States

रशिया की आक्रामक नीति

रशिया ईरान को सीरिया से बाहर नहीं निकाल सकता – इस्राइल में स्थित रशिया के राजदूत का विधान तेल अवीव: ‘जिस तरह से सीरिया में स्थित ईरान के अड्डों पर इस्राइल की तरफ से हो रहे हमलों को रशिया रोक नहीं सकता। उसी तरह से रशिया ईरान को सीरिया से बाहर नहीं निकाल सकता’, ऐसी टिप्पणी इस्राइल में स्थित रशियन राजदूत ‘एंटोली व्हिक्टोरोव्ह’ ने की है। साथ ही सीरिया के

स्वयंभगवान त्रिविक्रम के अठारह वचन

कल गुरुवार २ अगस्त २०१८ के दिन श्रीहरिगुरुग्राम में बापू ने, अत्यधिक महत्त्वपूर्ण ‘स्वयंभगवान त्रिविक्रम के अठारह वचनों’ के बारे में बताया। हम इन वचनों का लाभ गुरुवार १६/०८/२०१८ को बापू के साथ ले पायेंगे। इसी के साथ बापू ने ‘स्वयंभगवान त्रिविक्रम’ का गजर शारण्य तथा आनंद भाव से कैसे करना है इसके बारे मे भी बताया है। इसकी वीड़ियो क्लिप मैं blog तथा WhatsApp और YouTube पर अपलोड़ कर

सारे भय ये मूलत: भ्रम हैं (All the fears are basically delusions)

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्ध बापू ने १५ मई २०१४ के पितृवचनम् में ‘सारे भय ये मूलत: भ्रम हैं’ इस बारे में बताया।   मैंने ये किया इसलिये भगवान ने ये किया, इस विश्वास पर अगर कभी जाओगे तो आप कहां जाओगे, गलत दिशा में जाओगे। डेव्हिल की दिशा में जाओगे, शैतान की दिशा में जाओगे। फिर वहां कारोबार ऐसे ही चलता है, लेनेदेन का। तुमने ये तंत्र मंत्र किया तो डेव्हिल

Alpha to Omega Newsletter - July 2018

  July 2018 From the Editor’s Desk Hari Om Friend, The monsoon season has arrived and so has the spirit of sports along with this year’s Football World Cup. As contrast as it may seem, rains bring out the urge in us to play sports in open grounds. In fact, sports are most enjoyed in the rains. Our mentor, Sadguru Shri Aniruddha Bapu has stressed upon the importance of playing

इस्रायल के आक्रामक हमले

इस्राइल के आक्रामक हवाई हमले के बाद – गाजापट्टी में आतंकवादी गट से संघर्ष बंदी को मंजूरी जेरूसलम: इस्राइल एवं हमास में सन २०१४ में हुए युद्ध के बाद गाजापट्टी में फिर एक बार नए संघर्ष का भड़का होने की आशंका जताई जा रही है। शनिवार को इस्राइल के गाजापट्टी पर किये आक्रामक हवाई हमले के बाद गाजापट्टी के हमास एवं इस्लामिक जिहाद इन दोनों आतंकवादी संगठनों ने इस्राइल के

सद्‌गुरु श्री अनिरुद्ध बापूंच्या निवासस्थानी चालू असलेला दत्तयाग - २०१८

सद्‌गुरु श्री अनिरुद्ध बापूंच्या निवासस्थानी वर्षातून २ वेळा त्रिदिवसीय दत्तयाग केला जातो. या वर्षी या यागाची सुरूवात काल दिनांक १६ जुलै २०१८ रोजी झाली असून बुधवार दि. १८ जुलै रोजी संपन्न होणार आहे.  आपण पु्ढील व्हिडिओत पाहू शकता. पहिला दिवस   दुसरा दिवस   तिसरा दिवस  ॥ हरि ॐ ॥ ॥ श्रीराम ॥ ॥ अंबज्ञ ॥