Featured Posts

जीवन में अनुशासन का महत्त्व - भाग ९

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने ०७ अक्टूबर २०१० के पितृवचनम् में ‘जीवन में अनुशासन का महत्त्व’ इस बारे में बताया। उत्साह कहाँ से उत्पन्न होता है? उत्साह उष्णता से उत्पन्न होता है। उष्णता उत्साह से उत्पन्न होती है और मैंने कहा कि, ‘सद्‌गुरु गायत्री’ में क्या है? ‘उष्णं स्निग्धं गुरुर्तेजो’, ओ.के.। तो गुरुतेज क्या है? ‘उष्ण-स्निग्ध-गुरु’ है और ‘गुरुचरणधूल’ क्या है? ‘सौम्य-स्निग्ध-गुरु’ है। गुरु के चरणों से जो तेज निकलता है,

India-Defence

भारतीय सेना को होगी स्वदेशी ‘बुलेट प्रूफ जैकेट’ की आपूर्ति नई दिल्ली – रक्षा राज्यमंत्री श्रीपाद नाईक ने सेनाप्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे को एक लाख ‘बुलेट प्रूफ जैकेट’ प्रदान किए। यह सभी जैकेट स्वदेशी निर्माण के हैं और इन्हें ‘मेक इन इंडिया’ के तहत बनाया गया है। साथ ही निर्धारित समय से पहले ही इन ‘जैकेट्स’ की सेना को आपूर्ति की गई है। देश के सैनिकों की सुरक्षा के

Afghanistan-China-Pakistan-US

In #Afghanistan: • China offered bounties to kill US troops: US NSA. • @NDSAfghanistan arrests Chinese spies, uncovers Pak-China espionage. • Pak sheltering Taliban leaders violates our sovereignty: @MFA_Afghanistan.#PakChina try to dominate Afg as #USwithdrawal approaches. pic.twitter.com/UqH4ExDPq6 — Samir Dattopadhye (@samirsinh189) January 4, 2021 44 Taliban terrorists killed in Afghan military action Kabul: The Afghan military killed 44 Taliban terrorists during actions taken in the Nangarhar and Farah provinces. There

Afghanistan

अफ़गान सेना की कार्रवाई में ४४ तालिबानी ढ़ेर काबुल – अफ़गान सेना ने नांगरहार और फराह प्रांत में कार्रवाई करके ४४ तालिबानी आतंकियों को मार गिराया है। कतार में अफ़गान सरकार और तालिबान की चर्चा शुरू होने के लिए महज़ कुछ ही दिन शेष हैं। ऐसी स्थिति में भी अफ़गान सेना और तालिबान के बीच जारी संघर्ष की तीव्रता बढ़ रही है। ऐसे में अफ़गान सेना की तालिबान के खिलाफ

सच्चिदानन्द सद्‌गुरुतत्त्व - भाग ४

सद्‍गुरुश्री अनिरुद्धजी ने ०७ अक्टूबर २०१० के पितृवचनम् में ‘सच्चिदानन्द सद्‍गुरुतत्त्व(Satchidanand Sadgurutattva)’ इस बारे में बताया। सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने ०७ अक्तूबर २०१० के पितृवचनम् में ‘सच्चिदानन्द सद्गुरुतत्त्व’ इस बारे में बताया। गुरु के चरण क्या हैं? एक चरण जब शुभंकर होता है, दूसरा अशुभनाशन होता है। यानी balanced perfect. देखिए, एक जगह आप अच्छी चीज़ों को collect करते रहिए और साथ-साथ बुरी चीज़ों को निकालना रोक दीजिए, क्या होगा?