Featured Posts

India continues to foil violent plans of terror state Pakistan

Terror attack like 26/11 averted due to alertness of security forces, PM Modi praises armed forces New Delhi: – The Indian security forces busted a Pakistani plot to carry out a terror attack similar to the 26/11 Mumbai attacks before the Panchayat elections in Jammu and Kashmir. This is evident from the arms haul seized from the four Jaish-e-Mohammed terrorists killed in an encounter on Thursday morning. Read More: http://www.newscast-pratyaksha.com/english/terror-attack-like-26-11-averted-due-to-alertness-of-security-forces/

Economic War

Europe could launch a digital currency in the next four years Frankfurt: – Christine Lagarde, President of the European Central Bank, expressed confidence that Europe could start a digital currency in the next four years. Only a few months ago, China announced Digital Yuan. Whereas, countries like the United Kingdom, Sweden, Germany and France also have indicated to start efforts to launch digital currencies.  Read More: http://www.newscast-pratyaksha.com/english/europe-could-launch-a-digital-currency-in-the-next-four-years/ 15 countries sign

सच्चिदानन्द सद्‍गुरुतत्त्व - भाग २

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने ०७ अक्टूबर २०१० के पितृवचनम् में ‘सच्चिदानन्द सद्‍गुरुतत्त्व(Satchidanand Sadgurutattva)’ इस बारे में बताया। जो-जो अस्तित्व है जिंदगी में, उससे सिर्फ हमें आनंद ही मिले, ये किसके हाथ में हो सकता है? किसकी ताक़त हो सकती है? ‘सच्चिदानंद’ की ही यानी सद्‌गुरु की ही और ये आनंद तभी उत्पन्न हो सकता है, जब संयम है, राईट। एकार्थी – extremes बन जाओ तो आनंद कभी नहीं मिलेगा। संयम

Iran

ट्रम्प ७० दिनों के मेहमान, लेकिन ईरान की हुकूमत कायम रहेगी – खाड़ी देशों को ईरान ने धमकाया तेहरान – अमरीका के चुनाव में राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प की हार होने की खबरें माध्यमों में जारी होने से खुश हुए ईरान ने अरब देशों को धमकाना शुरू किया है। ‘७० दिनों बाद ट्रम्प अमरीका के राष्ट्राध्यक्ष नहीं रहेंगे। लेकिन, ईरान की हुकूमत कायम रहेगी। सुरक्षा के लिए दूसरे देशों पर निर्भर

सच्चिदानन्द सद्‍गुरुतत्त्व - भाग १

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने ०७ अक्टूबर २०१० के पितृवचनम् में ‘सच्चिदानन्द सद्‍गुरुतत्त्व(Satchidanand Sadgurutattva)’ इस बारे में बताया। तो ये बात ऐसी है कि ये जो गुरुतत्त्व होता है, सद्‍गुरु जो होता है, उसके चरण ये क्या चीज़ है, ये पहले जानना चाहिये हमें। गुरु के चरण यानी क्या? गुरु के चरण, दो चरण जो होते हैं। एक कदम से वो शुभंकर कार्य करते हैं, दूसरे कदम से अशुभनाशन का कार्य

Indian-Economy-Corona

भारत जल्द ही वैश्विक उत्पादन का ऊर्जा केंद्र होगा – प्रधानमंत्री ने जताया भरोसा नई दिल्ली – भारत में बड़ी माँग के साथ-साथ मज़बूत जनतंत्र और विविधता है और साथ ही स्थिरता भी है, इन शब्दों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैश्विक निवेशकों के सामने भारत में निवेश करने की अहमियत रेखांकित की है। साथ ही भारत जल्द ही वैश्विक उत्पादन का ऊर्जा केंद्र बनेगा, यह विश्‍वास प्रधानमंत्री मोदी ने

discipline in life

सद्‍गुरु श्री अनिरुद्धजी ने ०७ अक्टूबर २०१० के पितृवचनम् में ‘जीवन में अनुशासन (discipline in life) का महत्त्व’ इस बारे में बताया। ये संयम जो है, बहुत आवश्यक होता है। जहाँ जितना बोलना चाहिए, उतना ही बोलना चाहिए। जहाँ जो करना चाहिए, उतना ही करना चाहिए। जहाँ शौर्य चाहिए, वहाँ शौर्य चाहिए। जहाँ शान्ति चाहिए, वहाँ शान्ति ही चाहिए। हर चीज़ की आवश्यकता होती है। लेकिन हम अपने मन पर

Afghanistan-War

Taliban-produced drugs entering Sri Lanka through Pakistan: Afghan Envoy Colombo: Afghanistan Ambassador to Sri Lanka, M. Ashraf Haidari accused that the narcotics coming from the Taliban are being smuggled into Sri Lanka, via Pakistan. Sri Lanka has declared a war against narcotic substances, for the last two years. Last year, a series of blasts were carried out in Sri Lanka on Easter Sunday.  Read More: http://www.newscast-pratyaksha.com/english/drugs-are-smuggled-into-sri-lanka-through-pakistan/ More than 1,200 killed

Afghanistan

अफ़गानिस्तान में मौजुदा वर्ष के पहले छह महीनों में हुई हिंसा में १,२०० से अधिक लोग ढ़ेर – संयुक्त राष्ट्रसंघ की रपट काबुल/संयुक्त राष्ट्रसंघ – वर्ष २०२० के पहले छह महीनों के दौरान अफ़गानिस्तान में हिंसा में मारे गए हुए एवं घायल हुए लोगों की संख्या ३,५०० से अधिक होने का दावा संयुक्त राष्ट्रसंघ की रपट में किया गया है। यह रपट जारी करके अफ़गानिस्तान में बढ़ रही हिंसा पर