Announcements

गणेशोत्सव में गणपती की मूर्तियों संबंधी सूचना

हरि ॐ, कई श्रद्धावान यह पूछ रहे हैं कि क्या इस साल के गणेशोत्सव के लिए “इको फ्रेंडली” गणपति की मूर्तियाँ उपलब्ध करा दी जानेवालीं हैं। लेकिन फिलहाल सर्वत्र फ़ैले हुए कोरोना वायरस (कोविद-१९) के संकट के कारण, इस साल संस्था की ओर से इको फ्रेंडली गणपति मूर्तियाँ उपलब्ध नहीं करा दी जा सकतीं, इसपर श्रद्धावान कृपया ग़ौर करें। यदि इको फ्रेंडली गणपति की मूर्ति ना मिलें, तो शाडू की

Ghorkashtodharan-Pathan

हरि ॐ, हर साल संस्था द्वारा पूरे श्रावण महीने में घोरकष्टोद्धरण स्तोत्र पठन का कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। इस साल कोरोना वायरस, “कोविद – १९” महामारी के गंभीर हालातों के कारण यह कार्यक्रम आयोजित नहीं किया जा सकता। श्रद्धावानों की इस मुश्किल को मद्देनज़र रखते हुए, संस्था द्वारा (पिछले कुछ सालों के रेकॉर्डिंग का इस्तेमाल करके) इस पठन का लाभ उठाने का प्रबन्ध किया गया है। श्रद्धावान श्रावण महीने

Mahadurgeshwar-Prapatti

हरि ॐ, हर साल श्रावण महीने के सोमवार को कई पुरुष श्रद्धावान एकत्रित आकर “श्री महादुर्गेश्वर प्रपत्ती” बहुत ही हर्षोल्लास के साथ मनाते हैं। लेकिन इस साल सर्वत्र फ़ैले हुए कोरोना वायरस (कोविद-१९) की आपत्ति के कारण चल रहे लॉकडाउन के दौर में, एक घर के पुरुष सदस्य अपने घर में ही प्रपत्ती करें। अन्य आप्त / रिश्तेदार / मित्र / पड़ोसी इन्हें इकट्ठा करके सामूहिक रूप में प्रपत्ती ना

Aniruddha TV

हरि ॐ, गुरुपूर्णिमा के उपलक्ष्य में, कई श्रद्धावानों द्वारा यह पूछा गया था कि क्या संस्था की ओर से पिछले कुछ वर्षों में मनाये गए गुरुपूर्णिमा उत्सव के कुछ अंश पुनः देखने को मिल सकते हैं। इस विनती को मद्देनजर रखते हुए हम आगे दर्शाये समयों पर इस उत्सव की कुछ व्हिडीओ क्लिपींग्स फेसबुक और अनिरुद्ध टिव्ही के माध्यम से दिखानेवाले हैं। दि. ०५-०७-२०२० – सुबह ११:०० बजे दि. ०५-०७-२०२०

Aniruddha Devotion Sentience

हरि ॐ, मुझे यह बताने में खुशी हो रही है कि हमने अपनी ‘अनिरुद्ध डिवोशन सेंटियन्स’ वेबसाईट का व्टिटर हँडल शुरू किया है। जैसा कि अपनी डिवोशन सेंटियन्स वेबसाईट के आरंभिक पन्ने पर बापुजी कहते हैं, “भक्तिभाव चैतन्य (डिवोशन सेंटियन्स ) में रहना यही मेरे जीवन का एकमात्र सर्वोच्च और अंतिम ध्येय है।” यह हँडल इसी का केवल विस्तार है, जो हमें ‘अनिरुद्ध डिवोशन सेंटियन्स‘ वेबसाईट के साथ और हमारे

Aniruddha Gurukshetram

हरि ॐ, सभी श्रद्धावान यह जानते ही हैं कि कोरोना (कोविद-१९) की पृष्ठभूमि पर फिलहाल श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌ दर्शन के लिए बंद रखा गया है। अन्य दिनों की तरह ही आषाढी एकादशी (बुधवार, दि. १ जुलाई २०२०) एवं गुरुपूर्णिमा (रविवार, दि. ५ जुलाई २०२०) इन दो दिनों को भी श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌ बंद ही रहनेवाला है। अतः इन दिनों पर श्रद्धावान श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌ में दर्शन के लिए ना आयें, यह नम्र विनती

Instagram-Image

Hari Om, I am glad to inform you that we have started Instagram handle of Aniruddha Devotion Sentience website. The front page of the site quotes Bapu saying, “To remain in Devotion Sentience is indeed the one supreme and ultimate purpose of life.” The handle will help Shraddhavans to realise this saying as its an extension to connect with the Aniruddha Devotion Sentience website and to our beloved, the Supreme

"The Bapu that I have known" book now available on e-Aanjaneya website in Marathi, Hindi and English

Hari Om, The book “The Bapu that I have known” which was published in 2017 is available in Marathi, Hindi and English. We shraddhavans take immense pleasure in reading this book over and over again by getting to know various facets of the personality of Sadguru Bapu. I am happy to let you know that this book is now available on e-Aanjaneya website in the form of an e-book. Accordingly,

Carrier of rumours

Hari Om, I read the note posted today by Shri. Vaibhavsinh Kulkarni. The note turned out to be literally an expression of my own opinion. ———————————————————— Carrier of rumours Hari Om. For the last few days, a message is being circulated in social media widely. The message claims that the points in it were discussed during a video conference held by Samirdada with Shraddhavans. On reading the message, the first