Announcements

श्रीहनुमानचलिसा पठणासंदर्भात सूचना व शंकानिरसन

हरि ॐ, आपल्या संस्थेने दि. २१ ते २७ सप्टेंबर ह्या आठवडाभराकरिता श्रीहनुमानचलिसा पठणाचे ऑनलाईन पद्धतीने आयोजन केले आहे, हे आपणा सर्वांना माहीतच आहे. ह्या पठणाबाबत काही श्रद्धावानांनी काही शंका उपस्थित केल्या. त्या शंकांच्या निरसनाकरिता पुढील स्पष्टीकरण व काही सूचना देत आहे : १. हे पठण भारतीय प्रमाणवेळेनुसार (IST) सकाळी ८.०० वाजता सुरू होईल व भारतीय प्रमाणवेळेनुसार सायंकाळी ८.१५ पर्यंत सुरू राहील. मंगळवार, गुरुवार व शनिवारी (२२, २४ व २६ सप्टेंबर

श्रीहनुमानचलिसा पठन के संदर्भ में सूचनाएँ एवं प्रश्नोत्तर

  हरि ॐ, अपनी संस्था ने दि. २१ से २७ सितम्बर इस हफ़्तेभर के लिए श्रीहनुमानचलिसा पठन का ऑनलाईन पद्धति से आयोजन किया है, यह हम सब जानते ही हैं। इस पठन के संदर्भ में श्रद्धावानों ने कुछ प्रश्न उपस्थित किये। उन प्रश्नों के उत्तरस्वरूप निम्न स्पष्टीकरण तथा कुछ सूचनाएँ आगे दी गई है : १. यह पठन भारतीय मानक समयानुसार (IST) सुबह ८.०० बजे शुरू होगा और भारतीय मानक

Hanuman-chalisa

Hari Om, As we all know, we will be having the week-long online Hanuman Chalisa pathan from 21st to 27th September. We have received a few queries from Shraddhavans regarding the pathan. For clarification, instructions and a few FAQ’s regarding the Hanuman Chalisa pathan are given below: 1. The pathan will begin at 8 am IST and will continue till 8:15 pm IST. On Tuesday, Thursday and Saturday (22nd, 24th

हनुमान चलिसा पठण

हरि ॐ, हर साल श्रीअनिरुद्ध गुरुक्षेत्रम्‌ में होनेवाला हनुमानचलिसा पठन इस साल के अधिक आश्विन मास में, सोमवार दि. २१ सितम्बर २०२० से रविवार दि. २७ सितम्बर २०२० इन ७ दिनों में संपन्न होनेवाला है। लेकिन इस साल गुरुक्षेत्रम्‌ में प्रत्यक्ष पठन करना संभव नहीं होगा, इस असुविधा को मद्देनज़र रखते हुए, पिछले कुछ सालों के रेकॉर्डिंग का इस्तेमाल करके, अनिरुद्ध टी.व्ही., फेसबुक पेज, यु. ट्युब. के माध्यम से; साथ

नित्य उपासनेसंबंधी सूचना

हरि ॐ, सोमवार, दि. २१ सप्टेंबर ते रविवार, दि. २७ सप्टेंबर २०२० पर्यंत सकाळी ८.०० वाजल्यापासून रात्री ८.१५ वाजेपर्यंत दरवर्षीप्रमाणे “हनुमान चलिसा पठण” ह्या विशेष उपासनेचे आयोजन करण्यात आले आहे ह्याची सर्व श्रद्धावानांना पूर्वकल्पना आहेच. त्यामुळे ह्या काळात दररोज संध्याकाळी ८.०० वाजता होणारी नित्य उपासना होणार नाही ह्याची सर्व श्रद्धावानांनी कृपया नोंद घ्यावी. कोणीही श्रद्धावान त्याला जसे व जेवढा वेळ जमेल त्यानुसार ह्या विशेष उपासनेत सहभागी होऊ शकतो. तसेच भारताबाहेरील

सद्गुरु बापूजी के घर के गणेशोत्सव संबंधी सूचना

हरि ॐ, हर वर्ष सद्गुरु बापूजी के घर पर ढाई दिन का गणेशोत्सव बडे हर्षोल्लास से भक्तिमय वातावरण में मनाया जाता है तथा कई श्रद्धावान बापूजी के घर पर गणेशजी के दर्शन के लिए मनोभाव से, बडी संख्या में आते हैं। परंतु इस वर्ष कोविड-१९ की भीषण परिस्थिति के कारण, इच्छा होते हुए भी, किसी भी व्यक्ति के लिए गणेशजी के दर्शन खुले नहीं होंगे, कृपया सभी इस बात पर

गणेशोत्सव में गणपती की मूर्तियों संबंधी सूचना

हरि ॐ, कई श्रद्धावान यह पूछ रहे हैं कि क्या इस साल के गणेशोत्सव के लिए “इको फ्रेंडली” गणपति की मूर्तियाँ उपलब्ध करा दी जानेवालीं हैं। लेकिन फिलहाल सर्वत्र फ़ैले हुए कोरोना वायरस (कोविद-१९) के संकट के कारण, इस साल संस्था की ओर से इको फ्रेंडली गणपति मूर्तियाँ उपलब्ध नहीं करा दी जा सकतीं, इसपर श्रद्धावान कृपया ग़ौर करें। यदि इको फ्रेंडली गणपति की मूर्ति ना मिलें, तो शाडू की

Ghorkashtodharan-Pathan

हरि ॐ, हर साल संस्था द्वारा पूरे श्रावण महीने में घोरकष्टोद्धरण स्तोत्र पठन का कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। इस साल कोरोना वायरस, “कोविद – १९” महामारी के गंभीर हालातों के कारण यह कार्यक्रम आयोजित नहीं किया जा सकता। श्रद्धावानों की इस मुश्किल को मद्देनज़र रखते हुए, संस्था द्वारा (पिछले कुछ सालों के रेकॉर्डिंग का इस्तेमाल करके) इस पठन का लाभ उठाने का प्रबन्ध किया गया है। श्रद्धावान श्रावण महीने

Mahadurgeshwar-Prapatti

हरि ॐ, हर साल श्रावण महीने के सोमवार को कई पुरुष श्रद्धावान एकत्रित आकर “श्री महादुर्गेश्वर प्रपत्ती” बहुत ही हर्षोल्लास के साथ मनाते हैं। लेकिन इस साल सर्वत्र फ़ैले हुए कोरोना वायरस (कोविद-१९) की आपत्ति के कारण चल रहे लॉकडाउन के दौर में, एक घर के पुरुष सदस्य अपने घर में ही प्रपत्ती करें। अन्य आप्त / रिश्तेदार / मित्र / पड़ोसी इन्हें इकट्ठा करके सामूहिक रूप में प्रपत्ती ना