Home / Hindi / ब्लॉग का परिचय – भाग १

ब्लॉग का परिचय – भाग १

अपने विचार, राय प्रस्तुत करना और बडे पैमाने पर लोगों तक पहुँचाने का असरदार, किफायती और सबसे तेज रास्ता याने की ब्लॉग | विधायक कार्य पुरी तरह से पूर्णत्व की ओर ले जाने के लिए जरूरत होती है ऐसेही प्रभावी और सामान्य जब तक सहजतासें पहुँच पाए ऐसे माध्यम की | इंटरनेट जगत में सर्वोच्च शिखरपर रहनेवाली ‘गुगल’ कंपनी ने बराबर हमारी ‘नस’ पकडकर अपने ‘ब्लॉगर’ यह प्रोडक्ट इंटरनेट मार्केट में २००३ में लाए | लोगोंको सहजतासे उपलब्ध होनेवाला, आसान तरीकेसे लिखने की क्षमता रखनेवाला और पढनेवाला इन दोनों में ‘संवाद जमानेवाला’ मतलब ‘कम्युनिकेशन’ बनानेवाला गुगल का यह प्रोडक्ट हवा की गती से लोकप्रिय हो गया | आज करोडों की संख्या में लोग ‘ब्लॉगर’ का इस्तमाल असरदार तरीकेसे कर रहे है | इसी लिए हमें इसकी जानकारी होनी ही चाहिए |

ब्लॉग का परिचय

खुद का ब्लॉग क्यों होना चाहिए?

‘ब्लॉग’ यानि की अपना खुद का ‘मुखपत्र’ | जिसमें हम निडर होकर अपने विचार लिख सकते है, रख सकते है |अपने विचार, अपनी भूमिका लोगों तक पहुँचाने की जिनको इच्छा है, उनके लिए यह ब्लॉग एक वरदान है | भलेही ब्लॉग इंटरनेट पर मुखप्रत्र का किरदार बना हो, तो भी इस में ‘सूचक’ अपनी सूचना, मत लिख सकता है | इस संवाद के कारणही यह माध्यम बहोत ही इंटरेस्टिंग साबित हो रहा है | किसी एक मुद्दों को अपना समर्थन देनेवाली जनता या किसी एक मतसें ही सहमती रखनेवाली जनता इस ब्लॉग के माध्यम से एकत्रित आ सकते है | इससे ब्लॉग की ताकद तय होती है | जिस व्यक्ति का खुद का ‘ब्लॉग’ होता है उस व्यक्ति को ‘ब्लॉगर’ कहते हैं |

आज की दुनिया में ‘ब्लॉग’ का महत्त्व क्या है?

ब्लॉगसे हम हमारा कहना लिखने के साथ फोटो की सहाय्यतासे, व्हिडिओ के जरिए, या हमारे विषय संबंधित इंटरनेट की लिंक्स देकर अधिक प्रखरता से सामने ला सकते है | हम अगर किसी के मतों सहमती दिखा रहे हैं तो वह सहमती कॉमेन्ट के मार्ग से उस व्यक्ति तक पहुँचा सकते हैं | आज की गती से प्रगती करनेवाले समय में, काल में, कम से कम समय में एक-दुसरे से ‘कम्युनिकेट’ और ‘कनेक्ट’ होना, करना, यह इस ब्लॉग का सबसे बडा ‘बेनिफिट’ है |

इस माध्यम में कुछ महत्त्वपूर्ण बातों पर हम गौर करेंगे, उनकी जानकारी लेंगे | जिस के कारण इस माध्यम का इस्तमाल आत्मविश्वास और सहजतासे कर सके |

ब्लॉग पर हम क्या-क्या कर सकते है?

सबसे महत्त्वपूर्ण है खुद का ब्लॉग बनाना हो तो डरने की कोई बात नहीं | क्योंकि यह कोई कठीन बात न होकर बहोत ही आसान है | दुनिया से अगर हमें कनेक्ट रहना है, तो इस ब्लॉग जैसा दुसरा माध्यम नहीं | ब्लॉग बनाने के लिए सिर्फ बेसिक कॉम्प्युटर और बेसिक इंटरनेट का इस्तमाल करना हमें आना आवश्यक है, और किसी विशेष ज्ञान की हमें यहॉं जरूरत नही पडती | ब्लॉग पर हम किसी भी प्रकार की जानकारी, फोटो, फोटो अल्बम, व्हिडिओ सहजतासे शेअर कर सकते है |

सोशल मिडिया की दुनिया में ब्लॉग महत्त्वपूर्ण भूमिका अदा कर रही है | ब्लॉग, गुगल के ब्लॉगरने या वर्डस्पेस में भी बना सकते हैं | और वो भी मुफ्त, किसी भी शुल्क के सिवाय | लेकिन ब्लॉगर ने ब्लॉग बनाना आसान होने के कारण यह ब्लॉग कैसे बनाया जाता है, यह हम देखेंगे |

गुगल ब्लॉग के लिए अकाऊंट कैसे ओपन करना है?

ब्लॉग बनाने के लिए आप का गुगल अकाऊंट होना जरूरी है | ब्राऊझर में ब्लॉगर इस शब्द प्रयोग से सर्च (खोज) की, तो हमे www.blogger.com यह ब्लॉगर की वेबसाईट दिखाई पडती है | उस पर क्लिक करके उस वेबसाईट को ओपन करना है | उस में लॉग-इन करने के बाद हमें सर्वप्रथम गुगल+ की प्रोफाईल दिखती है | गुगल+ और ब्लॉगरकी एक ही प्रोफाईल होती है| उस पेज पर जाने के लिए इस पर क्लिक किजिए|

ब्लॉग का परिचय

अब हमें ब्लॉग के अकाऊंट का पहिला पन्ना (पेज) दिखता है, उसे ‘होमपेज’ कहते है | नया ब्लॉग बनाने के लिए ‘न्यू ब्लॉग’ इस बटन पर क्लिक किजिए |

New Blog ब्लॉग का परिचय

‘न्यू ब्लॉग’ इस बटन पर क्लिक करने के बाद हमें ‘क्रिएट ए न्यू ब्लॉग’ की विन्डो दिखाई पडती है | यह ब्लॉग बनाने की पहली स्टेप है | इस विन्डो में हमें नीचे दी हुई जानकारी भरनी पडती है |

Create Blog ब्लॉग का परिचय

१) ‘टाईटल’ : टाईटल यह ब्लॉग का एक महत्त्वपूर्ण भाग है| ब्लॉग का टायटल यह आकर्षक और समझने में आसान होना चाहिए जिससें टायटल पढनेवाले को ध्यान में आना चाहिए की यह ब्लॉग किस विषय पर है |

२) ‘ऍड्रेस’ : ऍड्रेस यानी की, ब्लॉग की यु.आर.एल., ब्लॉग का पता | यह ऍड्रेस टायटल से संबंधित होना चाहिए जिससे की अखंडता कायम रहती है | मतलब मुझे अगर मैं करनेवाली रेसिपीज् से संबंधित ब्लॉग बनाना है तो इस ब्लॉग का ऍड्रेस कुछ इस प्रकार होगा |
myrecipes.blogspot.com

३) ‘टेम्प्लेटस्’ : हमारा ब्लॉग और आकर्षक बनाना हो तो अलग-अलग इमेजेस् यहॉं पर उपलब्ध है | ब्लॉग के विषयानुसार हमें एक टेम्प्लेट चुनना होगा |

४) ‘क्रिएट ब्लॉग’ : उपर दि गए तरीकों की सहाय्यतासे पुरी जानकारी भरने के बाद बटन पर क्लिक करे | तभी अपना ब्लॉग ब्लॉगर अकाऊंट के होम पेज पर ऍड हुआ दिखाई देखा |

जिससे हमें होम पेज पर ब्लॉग क्रिएट हुआ दिखाई देता है| अपने ब्लॉग का टायटल दिखता है और यहॉं से हम ब्लॉग बनाने की शुरुआत करते है | इस बटन पर क्लिक करने के बाद ‘क्रिएट ए न्यू पोस्ट’ यह पर्याय आता है | ब्लॉग पर नया पोस्ट डालना हो तो इस बटन पर क्लिक करे |

create a new post - ब्लॉग का परिचय

(क्रमश:)

भाग २ भाग -३

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*