सीरिया पर होनेवाले हमलें बढे

सीरिया-इराक सीमा पर ईरान ने किए हथियारों के भंडारों पर जोरदार हवाई हमलें – ईरान से जुडे हथियारी गुटों के सैनिक ढेर

दमास्कस – सीरिया के पूर्वीय हिस्से के ‘अल बुकमल’ क्षेत्र में हुए भीषण हवाई हमलों में हथियारों के तीन भंडार राख हुए है| इस हमले में सीरिया के ईरान से जुडे हथियारी गुट के पांच सैनिक मारे जाने का दावा हो रहा है| पर, हमलें की तीव्रता देखे तो इस दौरान काफी जानें गई होगी, यह संभावना व्यक्त हो रही है| इस दौरान, पिछले हफ्ते से सीरिया में ईरान से जुडे हथियारों के भंडारों पर हुआ यह दुसरा हमला है|

स्थानिय वृत्तसंस्था ने साझा की हुई जानकारी के अनुसार इराक की सीमा के निकट ‘अल बुकमल’ क्षेत्र में शनिवार की रात बडे हवाई हमलें हुए| लडाकू विमानों ने यह हवाई हमलें किए थे,यह दावा स्थानिय वृत्तसंस्था ने किया| पर यह लडाकू विमान कौने से देश के थे, यह स्पष्ट नही हो सका है| पर, ईरान के ‘रिव्होल्युशनरी गार्डस्’ ने बनाए एवं संरक्षित किए हथियारों के भंडारों को लक्ष्य करने के लिए यह हवाई हमलें किए गए थे| इन भंडारों में ईरान से जुडे गुटों के साथ ही रिव्होल्युशनरी गार्डस् की ‘कुदस् फोर्सेस’ के लिए हथियारों का बडा भंडार किया गया था, यह भी बताया जा रहा है|

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/iran-strongly-airstrikes-arms-reserves-syria-iraq-border/

अमरिका और रशिया ने किए सीरिया में हमलें

इदलिब: सीरिया के इदलिब प्रांत में अमरिका और रशिया ने की हुई स्वतंत्र कार्रवाई में अल कायदा का स्थानिय नेता एवं अन्य आतंकीयों का खात्मा किया है| इनमें से रशिया और सीरिया ने की संयुक्त कार्रवाई पर मानव अधिकार संगठन ने आलोचना की है और निरपराध नागरिक इन हमलों में मारे गए है, यह आरोप भी रखा है|

पिछले हफ्ते में अमरिका के ड्रोन ने इदलिब में छिपे अल कायदा से जुडे आतंकियों की गाडी पर हमला किया| अमरिका के ड्रोन से छोडे गए ‘निन्जा’ या ‘आर९एक्स’ मिसाइल ने गाडी का छत फाडकर आतंकी को ढेर किया| इस मिसाइल का धमाका नही होता, इस लिए अन्य जीवित हानी नही हुई| इससे पहले दो बार अमरिका ने इस मिसाइल का प्रयोग करके अल कायदा के दो नेताओं को ढेर किया था|

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/us-russia-attacks-syria/

सिरिया इराक के सीमा के पास ईरान के शस्त्र के गोदाम पर हवाई हमले – स्थानीय माध्यमों का दावा

दमास्कस – सिरिया और इराक के सीमा के पास होनेवाले अल बुकमल में लष्करी अड्डे पर बुधवार को बड़ा विस्फोट हुआ। वहां ईरान के शस्त्र के गोदामों को लक्ष्य करने के लिए यह हमला चढ़ाने का आरोप स्थानीय माध्यमों ने किया है। कुछ माध्यमों के अनुसार इस्राइल के लड़ाकू विमानों ने तथा कईयों ने ड्रोन द्वारा यह हमले चढ़ाने की जानकारी स्थानीय लोगों ने दी है।

सिरिया में एक वृत्तसंस्था ने दिए जानकारी के अनुसार देर अल झोर प्रांत में अल बुकमल में ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स का बड़ा अड्डा था। ईरान में निर्यात होनेवाले मिसाइल वहां के लष्करी अड्डे पर जमा किए थे। बुधवार के शाम इस्राइली लड़ाकू विमानों ने इन अड्डे पर हवाई हमले चढ़ाने का दावा माध्यमों के एक गट ने किया है। तथा माध्यम में ही दूसरे गट ने इस हमले के लिए इस्राइल के ड्रोन जिम्मेदार होने की बात कही है।

आगे पढे : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/airstrike-iranian-weapon-depots/

Related Post

Leave a Reply