श्रीवर्धमान व्रताधिराज व्रतपुष्प के बारे में सूचना

हरि ॐ,

सभी श्रद्धावान यह जानते ही हैं कि इस वर्ष बुधवार, दि.११ दिसम्बर २०१९ को, यानी दत्तजयंती के दिन वर्धमान व्रताधिराज का प्रारंभ हो रहा है।

हर वर्ष की तरह, इस वर्ष के व्रतकाल में भी श्रद्धावान अपनी पसन्द के किसी भी स्तोत्र, जाप आदि को बतौर ‘व्रतपुष्प’ स्वेच्छापूर्वक चुन सकते हैं। इस व्रतकाल के लिए सद्‍गुरु श्रीअनिरुद्धजी ने किसी भी एक स्तोत्र या जाप को ‘व्रतपुष्प’ के रूप में लेने के लिए नहीं कहा है, इस बात पर सभी श्रद्धावान ग़ौर करें।

———————————————————————-

हरि ॐ,

सर्व श्रद्धावानांना माहित आहेच की ह्या वर्षी बुधवार, दि.११ डिसेंबर २०१९ रोजी, म्हणजेच दत्तजयंतीच्या दिवशी वर्धमान व्रताधीराजाला प्रारंभ होत आहे.

दर वर्षीप्रमाणे, ह्या वर्षीच्या व्रतकाळामध्येही श्रद्धावान आपल्या आवडीचे कोणतेही स्तोत्र, जप, इत्यादि ’व्रतपुष्प’ म्हणून स्वेच्छेने निवडू शकतात. ह्या व्रतकाळासाठी सद्‍गुरु श्रीअनिरुद्धांनी कुठलेही एक स्तोत्र वा जप व्रतपुष्प म्हणून दिलेले नाही ह्याची सर्व श्रद्धावानांनी नोंद घ्यावी.

II हरि ॐ II II श्रीराम II II अंबज्ञ II
II नाथसंविध्‌ II

Related Post

Leave a Reply