श्री अनिरुद्ध चलीसा पाठ (Aniruddha Chalisa)

 ll हरि ॐ ll

 
श्री अनिरुद्ध चलीसा पाठ (Aniruddha Chalisa)
 
 
 
पिछले साल, नवरात्री के दौरान हम सब ने मिलकर श्री हरिगुरुग्राम में श्री अनिरुद्ध चलीसा का पाठ किया था । तब यह कार्यक्रम परम पूज्य बापूजी की “तपस्या” के दौरान हुआ था और इस साल भी यह कार्यक्रम उनकी “उपासना” के दौरान हो रहा है । हम सचमुच बहुत भाग्यशाली हैं जो हमें फिर से इस पाठ में भाग लेने का सुनहरा अवसर मिल रहा है । प्रत्येक श्रद्धावान को इस कार्यक्रम के स्थान पर आकर परम पूज्य बापू, नन्दमाता और सुचितदादा के “पदचिन्हों” पर बेलपत्र एवं तुलसी अर्पण करने का अवसर मिलेगा ।   

परम पूज्य बापूजी की उपासना के दौरान अनिरुद्ध चलीसा का पाठ निश्चित ही हमें अधिक बल, शांति और समृद्धि प्रदान करेगा ।

मुंबई से बाहर रहनेवाले भक्तगण भी अपने घर पर कम से कम ११ बार श्री अनिरुद्ध चलीसा का पाठ करके यह लाभ पा सकते हैं ।
 
जैसा की हमें बापूजी ने इस साल के आरम्भ में बताया है कि, हमें इस भाव को मन में दृढ़ता से विकसित करना है कि, “एक विश्‍वास रहे पूरा, करता हरता गुरु ऎसा” । श्री अनिरुद्ध चलीसा का पाठ निश्चित रूप से इस बात को पाने में हमारी साहयता करेगा ।
 
आईये हम सब मिलकर “अनिरुद्ध चलीसा” के सांघिक पाठ का लाभ उठाएं । 

दिनांक: शनिवार, २० अक्तूबर २०१२

स्थान: श्री हरिगुरुग्राम (न्यू इंग्लिश हाय स्कूल, खेरवाडी पुलिस स्टेशन के पास, बान्द्रा (पूर्व), मुंबई ।

समय: ०९:३० से २०:३० बजे तक ।

Related Post