Home / Alpha to Omega Newsletter / अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

 

Shree Aniruddha Upasana Foundation

‘अल्फा टू ओमेगा’ न्युजलेटर – हिन्दी संस्करण

मई २०१८

संपादकीय,

हरि ॐ श्रद्धावान सिंह/वीरा,

२२ अप्रैल २०१८ को आयोजित मेगा रक्त दान शिविर की प्रतिक्रिया वास्तविक तौर पर अभूतपूर्व थी। अकेले मुंबई में एक दिन में कुल ५८३८ यूनिट रक्त एकत्रित किया गया। सर्वप्रथम १९९९ में शुरू किया गया शिविर डॉ अनिरुद्ध जोशी (सद्गुरु बापू) की दृष्टि और प्रेरणा के साथ वर्षों से असाधाराण रुप में बढ़ गया है और इस प्रकार इसने पिछले कुछ सालों में अपना एक विशिष्ठ स्थान बना लिया है।

सामाजिक विकास को बढ़ावा देना और प्रगतिशील बनाना भी भगवान की सेवा का ही एक रूप है। न्यू इंग्लिश स्कूल, बांद्रा में आयोजित चरखा शिविर इस दिशा में एक सार्थक एवं सराहनीय प्रयास था और इस साल शिविर में ११७८ श्रद्धावानों ने भाग लेकर हर तरह से इस मेगा आयोजन को सफल बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।

न्यूजलेटर का यह अंक हमें वर्तमान वर्ष के दोनों शिविरों से संबंधित सांख्यकीय डेटा उपलब्ध कराता है।

– समीरसिंह दत्तोपाध्ये

विषय-सूची

  • संपादकीय
  • महा रक्त दान
  • चरखा शिविर
  • अनिरुद्धाज् अ‍ॅकॅडमी ऑफ डिझास्टर मॅनेजमेंट
  • यशप्राप्त श्रद्धावान

यह न्यूजलेटर मराठी और अंग्रेजी में पढनेके लिए निम्नलिखित लिंकपर क्लिक करे।

English

इस न्यूजलेटर के बारे में आपकी प्रतिक्रियाएँ एवं सूचनाएँ निम्नलिखित ई-मेल आयडी पर भेज सकते हैं :

[email protected]

 


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण

वर्ष ३ | अंक ६ | मई २०१८ | १

 


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण


महा रक्त दान शिविर २०१८

२२ अप्रैल २०१८ को श्री अनिरुद्ध उपासना फाउंडेशन और अनिरुद्ध आपदा प्रबंधन अकादमी ने अपने सहवर्ती संगठनों, दिलासा मेडिकल ट्रस्ट एंड रिहैबिलिटेशन सेंटर इत्यादि के साथ सफलतापूर्वक 19 वे मेगा रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। यह शिविर अप्रैल माह में प्रति वर्ष आयोजित किया जाता है।

यह मेगा शिविर निरंतर वर्ष दर वर्ष बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है तथा क्रमशः रक्तदाताओं की संख्या एवं श्री अनिरुद्ध धैर्यधर जोशी (जिन्हें सद्गुरु अनिरुद्ध बापू के नाम से जाना जाता है) के श्रद्धावान परिवार में भी तेजी से इसका विस्तार हो रहा है। लोगों को रक्त दान करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए वर्ष १९९९ में डॉ जोशी ने स्वयं रक्त दान शिविर की शुरुआत की थी।

गर्मी के समय में इस शिविर का आयोजन करने का मुख्य उद्देश्य यह है कि इस अवधि के दौरान रक्त की कमी होती है। मेगा शिविर इस प्रकार रक्त बैंकों को रक्त की कमी को दूर करने में हर संभव मदद करता है।

पहले वर्ष में १५४ रक्त दाताओं की भागीदारी के साथ शुरू हुआ यह शिविर जो महाराष्ट्र राज्य भर में क्रमशः तेजी से बढ़ रहा है। अकेले मुंबई में, इस साल, श्री हरिगुरुग्राम में आयोजित मेगा रक्त दान शिविर में ५८३८ यूनिट रक्त एकत्रित हुआ राज्य भर के अन्य स्थानों में भी २,९३२ यूनिट रक्त एकत्रित किया गया । इस बार महाराष्ट्र भर में ३९ स्थानों का कुल संग्रह ८७७० यूनिट था।

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८
अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८
अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८
अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण

वर्ष ३ | अंक ६ | मई २०१८ | २

 


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण


चरखा शिविर

श्री अनिरुद्ध उपासना फाउंडेशन द्वारा ‘मेगा चरखा शिविर’ का आयोजन २३ अप्रैल से २९ अप्रैल के दौरान न्यू इंग्लिश स्कूल, बांद्रा में किया गया। यह शिविर ‘चरखा योजना’ का हिस्सा है, जिसे पुन: १३ कलमी कार्यक्रम के तहत सद्गुरु बापू के द्वारा शुरू किया गया है चरखा कताई के बाद उत्पादित धागों का उपयोग, कंबल और कपड़े बनाने के लिए किया जाता है, जिसे पूरे साल ग्रामीण क्षेत्रों में वितरित किया जाता है।

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

इस वर्ष शिविर में भाग लेने वाले हमारे श्रद्धावानों की संख्या ११७८ थी, इस शिविर के संचालन में कुल चरखों की संख्या ७० थी, और भाग लेने वाले श्रद्धावानों द्वारा कुल लड़ी (हैंक्स) की संख्या २०२८ थी।

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

इन शिविरों के लिए हर साल श्रद्धावान मित्रों के बढ़ते परिवार के साथ मिलकर बहुत ख़ुशी और गर्व महसूस होता है।

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

मासिक गतिविधियाँ

२०१८ के अप्रैल माह के दौरान अनिरुद्ध अकादमी एवं आपदा प्रबंधन (एएडीएम) की गतिविधियाँ

इसमें सात बेसिक ट्रेनिंग कोर्स आयोजित किए गए, जिसमें उत्साही प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया।

• २४ श्रद्धावानों ने २ अप्रैल, २०१८ से ८ अप्रैल, २०१८ की अवधि के दौरान लोढा हेवन उपासना केंद्र, डोंबिवली ईस्ट द्वारा आयोजित पाठ्यक्रम में हिस्सा लिया।

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

• २१ श्रद्धावनों ने ९ अप्रैल, २०१८ से १५ अप्रैल, २०१८ की अवधि के दौरान नागांव उपासना केंद्र, सांगली द्वारा आयोजित पाठ्यक्रम में हिस्सा लिया।

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

• २८ श्रद्धावानों ने ९ अप्रैल, २०१८ से १५ अप्रैल २०१८ की अवधि के दौरान आरजी बरने हाई स्कूल पुणे के थेरगांव उपासना केंद्र, पुणे द्वारा आयोजित पाठ्यक्रम में हिस्सा लिया।

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण

वर्ष ३ | अंक ६ | मई २०१८ | ३

 

 


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण


• २७ श्रद्धावनों ने १६ अप्रैल, २०१८ से २२ अप्रैल २०१८ की अवधि के दौरान लोटेमाल उपासन केंद्र, खेड, रत्नागिरी द्वारा आयोजित पाठ्यक्रम में हिस्सा लिया।

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

• १३ श्रद्धावनों ने 23 अप्रैल, २०१८ से 29 अप्रैल २०१८ की अवधि के दौरान एएडीएम कार्यालय, दादर में आयोजित पाठ्यक्रम में हिस्सा लिया।

• १८ श्रद्धावनों ने 23 अप्रैल, २०१८ से 29 अप्रैल २०१८ की अवधि के दौरान, बालशिक्षण विद्या मंदिर, पांडुरंग वाडी, रोड नं 2, गोरेगांव (पूर्व), मुंबई में गोगतेवाड़ी गोरेगांव पूर्व उपासना केंद्र द्वारा आयोजित पाठ्यक्रम में हिस्सा लिया।

• ४६ श्रद्धावनों ने 23 अप्रैल, २०१८ से 29 अप्रैल २०१८ की अवधि के दौरान बालमोहन मराठी स्कूल, पिंपराला, जलगांव में सिद्धिविनायक कॉलोनी उपासना केंद्र, जलगांव द्वारा आयोजित पाठ्यक्रम में हिस्सा लिया।
अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

सम्पर्क सेवकों के लिए प्रेरणादायी कार्यक्रम

नवी मुंबई क्षेत्र में स्थित उपासना केंद्रों के सम्पर्क सेवकों और श्री गुरु सप्तसंघ सेवकों के लिए एक प्रेरणादायी कार्यक्रम 8 अप्रैल, 2018 को विद्या भवन स्कूल में आयोजित किया गया।

नवी मुंबई क्षेत्र के १९ उपासना केंद्रों से २४-संपर्क सेवकों, ४-आयोजन समिति के सदस्यों, ३-संचालन समिति के सदस्यों, २-कार्य समिति के सदस्यों और ४-श्री गुरु सप्त संघ सेवकों ने इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

एएडीएम स्वयंसेवकों ने अप्रैल २०१८ के महीने के दौरान निम्नलिखित सार्वजनिक कार्यक्रमों में स्थानीय अधिकारियों को यातायात और भीड़ प्रबंधन में सहयोग प्रदान किया। यह प्रबंधन सेवा, स्थानीय प्राधिकारियों तथा स्थानीय पुलिस प्रशाशन के अनुरोधों के फलस्वरूप प्रदान की।

श्री सिद्धिविनायक मंदिर, प्रभादेवी, मुंबई में – ५४६ एएडीएम स्वयंसेवकों ने २ अप्रैल और ३ अप्रैल, २०१८ को अंगारकी चतुर्थी के शुभ अवसर पर सेवा प्रदान की।

श्री गणपति मंदिर सिद्धाटेक में, १२ – एएडीएम स्वयंसेवकों ने अंगारकी चतुर्थी के शुभ अवसर पर ३ अप्रैल, २०१८ को सेवा प्रदान की।

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

श्री सिद्धिविनायक मंदिर टिटवाला में १५३ – एएडीएम स्वयंसेवकों ने २ अप्रैल और ३ अप्रैल २०१८ को अंगारकी चतुर्थी के शुभ अवसर पर सेवा प्रदान की।
अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण

वर्ष ३ | अंक ६ | मई २०१८ | ४

 


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण


श्रीदेव मंदिर गणपतिपुले में, रत्नागिरी से ७२-एएडीएम स्वयंसेवकों और पास के अन्य उपासना केंद्रों से १२ स्वयं सेवकों ने अंगारकी चतुर्थी के शुभ अवसर पर ३ अप्रैल, २०१८ को सेवा प्रदान की।
अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

३६ एएडीएम स्वयंसेवकों ने भगवान श्री परशुराम जयंती के शुभ अवसर पर १८ अप्रैल, २०१८ को जालना में सेवा की प्रदान की।

इन मंदिरों के उत्सवों एवं शिविरों में भाग सहभागी होनेवाले हजारों श्रद्धालुओँ ने, इनके आयोजकों ने, संबंधित ट्रस्टीयों ने और स्थानीय पुलिस अधिकारियों ने हमारे प्रशिक्षित एएडीएम स्वयंसेवकों द्वारा प्रदान की गई अनुशासित और पेशेवर सेवाओं की अत्यधिक सराहना की।

वर्मिकल्चर परियोजना :

वर्मिकल्चर (केंचुआ खाद) परियोजना सम्बंधित अच्छे कार्यों का प्रचार-प्रसार दूर दूर लोगों तक प्रसारित हो रहा है जिसके परिणाम स्वरुप हमारे एएडीएम स्वयंसेवकों को अधिकाधिक संख्या में अपनी परियोजना को प्रदर्शित तथा आयोजित करने का निवेदन प्राप्त हो रहा है।

१. ग्रीन फील्ड्स रॉक एंड को-ऑपरेटिव हाऊसिंग सोसाइटी, जोगेश्वरी ईस्ट, नजदीकी आवासीय सोसाइटियों से इस परियोजना के बारे में जानकारी ले रहे हैं तथा इन्होंने एएडीएम स्वयं सेवकों से गीले अपशिष्ट के संग्रह पर एक कार्यशाला आयोजित करने का अनुरोध किया हैं। सोसाइटी के ३८ सदस्यों ने ८ अप्रैल, २०१८ को इस कार्यशाला प्रदर्शन में हिस्सा लिया और अब सोसायटी के सदस्य बड़े पैमाने पर वर्मिकल्चर (केंचुआ खाद) परियोजनाजल्द शुरू करने की योजना बना रहे हैं।

२. व्रूशाली शिल्प को-ऑपरेटिव हाऊसिंग सोसाइटी, न्यू लिंक रोड, शिंपोली, चिकूवाड़ी, बोरीवली पश्चिम, मुंबई, ने एक अन्य नजदीकी सोसाइटी, क्लोवर को-ऑपरेटिव हाऊसिंग सोसाइटी, चिकवाड़ी, बोरीवली पश्चिम के संदर्भ के आधार पर एक वर्मिकल्चर (कृमि) परियोजना प्रदर्शित करने के लिए अनुरोध किया। २१ अप्रैल, २०१८ को सोसाइटी के १२ सदस्यों ने परियोजना की इस प्रदर्शनी में हिस्सा लिया।

यशप्राप्त श्रद्धावान

सिंजेंटा इंडिया लिमिटेड द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण में, नंदाई एग्रो शॉप महाराष्ट्र में पहला और भारत में दूसरा सबसे बड़ा बीज, उर्वरक और कीटनाशक औषधि विक्रिय केंद्र है। नंदाई एग्रो शॉप के संरक्षक, मोहिन्दरसिंह (राजा) बामने को इस महान उपलब्धि के लिए बधाइयाँ।

अल्फा टू ओमेगा” न्यूज़लेटर – मई २०१८

वेब प्रेसेन्स्

यु-ट्युब चॅनेलस्

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*